घटिया मूंग बेचने की शिकायत पर जांच करने पहुंची टीम

घटिया मूंग बेचने की शिकायत पर जांच करने पहुंची टीम

Manish Panwar | Publish: Jul, 04 2018 01:02:21 AM (IST) Jodhpur, Rajasthan, India

पीपाड़सिटी. कृषि विभाग व राज सीड्स की विशेष सतर्कता टीम ने मंगलवार को सब्सिडी में घटिया मूंग के मामले में जांच करते हुए टेस्टिंग के लिए सेंपल लिए।

पीपाड़सिटी. कृषि विभाग व राज सीड्स की विशेष सतर्कता टीम ने मंगलवार को सब्सिडी में घटिया मूंग के मामले में जांच करते हुए टेस्टिंग के लिए सेंपल लिए तथा खेतों में कृषि विभाग के फसल प्रदर्शन कार्यक्रम से जुड़े किसानों की मूंग की बोई फसलों का निरीक्षण किया। राजस्थान पत्रिका ने मंगलवार को सब्सिडी के मूंग बीजों के वितरण में घपले की बू समाचार प्रकाशित कर गरीब किसानों को सब्सिडी पर दिए जा रहे मूंग बीजों की गुणवत्ता पर सवाल उठाया था। उसे कृषि विभाग के साथ राज सीड्स व कृषि अनुसंधान केंद्र ने गंभीरता से लेते हुए संयुक्त दल गठित किया। जिसमें राज सीड्स के उप निदेशक वीरेंद्र सिंह सोलंकी, कृषि विभाग के पौध संरक्षक उप निदेशक भाना राम विश्नोई, कृषि अनुसंधान केंद्र के उप निदेशक हिरेंद्र सिंह, सहायक निदेशक कृषि डॉ जे आर भाकर दोपहर एक बजे सहकारी समिति दुकान पहुंचे। दल ने मूंग बीजों के स्टॉक की जांच करने के साथ अब तक सब्सिडी पर दिए बीजों और खरीदकर्ता किसानों की जानकारी ली। विशेष दल ने मूंग के स्टॉक से सेंपल लेकर सील बंद कर जांच के लिए भेजने का निर्णय लिया। किसानों ने बीज बताए

विशेष दल की सूचना मिलने पर पूर्व मंडी उपाध्यक्ष करनाराम दुकतावा भी सब्सिडी में मिले घटिया बीजों को लेकर पहुंचे और अधिकारियों को बताया। दल ने भी माना कि कुछ बीज खराब आ गए लेकिन, सभी खराब नहीं है। फिर भी जांच के बाद कोई निर्णय लिया जाएगा।
मूंग फसल प्रदर्शन का अवलोकन

विशेष दल के अधिकारियों ने तिलवासनी गांव के खेतों में कृषि विभाग के मूंग फसल प्रदर्शन में अंकुरित मूंग फसल का अवलोकन किया। दल ने माना कि बीस प्रतिशत उत्पादन पर असर पड़ सकता है। निसंइन्होंने कहा
मूंग बीजों के सेंपल टेस्टिंग के बाद ही बिक्री पर रोक का निर्णय किया जा सकेगा।

डॉ जे आर भाकर, सहायक निदेशक कृषि विस्तार, जोधपुर।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned