HANDICRAFT--- ट्रेड फैसिलिटी सेंटर से मिलेगा हैण्डीक्राफ्ट निर्यात को बढ़ावा

- 25 करोड़ की लागत से सेंटर बनकर तैयार

- जोधपुर में अन्तरराष्ट्रीय फेयर के आयोजन की जगी आस

By: Amit Dave

Published: 10 Jan 2021, 07:20 PM IST

जोधपुर।

विश्व प्रसिद्ध जोधपुर के हैण्डीक्राफ्ट निर्यात उद्योग को बढ़ावा देने के लिए बोरानाडा में ट्रेड फैसिलिटी सेंटर बनकर तैयार हो गया है। केन्द्रीय वस्त्र मंत्रालय द्वारा प्रायोजित हैण्डीक्राफ्ट के जोधपुर मेगा क्लस्टर के अन्तर्गत एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल फोर हैण्डीक्राफ्ट (इपीसीएच) की ओर से जोधपुर मेगा क्लस्टर के अंतर्गत करीब 25 करोड़ रुपए की लागत से ट्रेड फैसिलिटी सेंटर तैयार हुआ है। सेंटर में उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए प्रधानमंत्री की 'जीरो इफेक्ट-जीरो डिफेक्टÓ अवधारणा पर भी जोर दिया जाएगा। इसमें उत्पादों की क्वालिटी, गुणवत्ता का ध्यान रखा जाएगा। साथ ही, पर्यावरण संरक्षण का भी ध्यान रखा जाएगा।

--

फ्यूचर टेक्नोलॉजी पर फोकस

सेंटर में आधुनिक तकनीकी वाली मशीनरी के साथ कॉस्ट इफेक्टिव प्रोडक्ट व फ्यूचर टेक्नोलॉजी पर फोकस रहेगा। निर्यातकों को मैन्यूफेक्चरिंग में इलेक्ट्रो प्लेटिंग की नई तकनीक फिजीकल वेपर डिपोजीशन (पीवीडी) अपनाने को प्रोत्साहित किया जाएगा। इससे नई तकनीकी वाली मशीनों व प्रणालियों से वर्तमान समय में उत्पाद पर आ रही लागत व लेबर कॉस्ट में कमी आएगी। सेंटर में विदेशी डिजाइनर निर्यातकों व आर्टिजन्स को प्रोडक्ट डवलपमेंट के गुर सिखाएंगे।

-----

नए उभरते देशों से प्रतिस्पर्धा करने में सहायक होगा

वर्तमान प्रतिस्पर्धा के दौर में हैण्डीक्राफ्ट निर्यात क्षेत्र में भारत को नए उभरते बाजारों में चीन, विएतनाम, इंडोनेशिया आदि देशों से कड़ी प्रतिस्पर्धा करनी पड़ रही है। ऐसे में सेंटर में प्रोडक्ट में टेक्नोलॉजी अपग्रेडेशन पर फोकस रहेगा। इपीसीएच का हैण्डीक्राफ्ट निर्यात उद्योग को आने वाले 5 सालों में 5 हजार करोड़ तक पहुंचाने का प्रयास रहेगा। इसके लिए हस्तशिल्प निर्यातकों नई तकनीक की इम्पोर्टेड मशीनें व टेक्नोलॉजी अपग्रेड करने के लिए सब्सिडी दी जाएगी ।

-----

जोधपुर में जगी अन्तरराष्ट्रीय फेयर की आस

जोधपुर में वर्ष 2010 व 2011 में इपीसीएच व एसोसिएशन की संयुक्त मेजबानी में दो अन्तरराष्ट्रीय फ र्नीचर शो का आयोजन किया गया था । जोधपुर में उस समय फेयर के लिए कोई उचित इफ्रांस्ट्रक्चर नहीं होने से बाद में फेयर का आयोजन दिल्ली में कराया जाने लगा। इस सेंटर के बनने से जोधपुर में फि र से अन्तरराष्ट्रीय फेयर कराने की आस जगी है ।

डॉ भरत दिनेश, अध्यक्ष

जोधपुर हैण्डीक्राफ्ट्स एक्सपोर्टर्स एसोसिएशन

----

यह मेगा क्लस्टर का महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट है। कोरोना महामारी की स्थिति सामान्य होते ही सेंटर का उद्घाटन किया जाएगा। सेंटर में विकसित सुविधाओं से जोधपुर का हस्तशिल्प निर्यात उद्योग विश्व के अन्य प्रतिस्पर्धी देशों से सक्षम होगा

रवि के पासी, चेयरमैन

इपीसीएच

Amit Dave Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned