scriptTreatment of calcium frozen in arteries of heart of 70 year old man | 70 साल के बुजुर्ग के दिल की धमनियों में जमे कैल्शियम का इलाज | Patrika News

70 साल के बुजुर्ग के दिल की धमनियों में जमे कैल्शियम का इलाज

- ह्रदय की धमनियों में जमे कैल्शियम का एक ही जगह चार तरीकों से इलाज कर दिलाई मरीज को निजात
70 वर्षीय वृद्ध के उपचार के बाद एमडीएम ने किया नया कीर्तिमान स्थापित

जोधपुर

Published: July 24, 2022 03:06:38 pm

जोधपुर. संभाग के सबसे बड़े अस्पताल मथुरादास माथुर के कार्डियोलॉजी विभाग में एक वृद्ध मरीज के ह्रदय की धमनियों में जमे कैल्शियम को एक ही जगह चार अलग-अलग तरीकों से उपचार कर मरीज को निजात दिलाई गई। जबकि हृदय की धमनियों में जमे कैल्शियम के उपचार के लिए एक या दो तरीके काफी होते हैं, लेकिन किसी एक ही रोगी में कैल्शियम काटने के चारों तरीकों की जरूरत पड़ना काफी दुर्लभ हैं, लेकिन चिकित्सकों ने सूझबूझ के साथ रोगी का बेहतर उपचार कर दिखाया। कार्डियोलॉजी विभाग के सहआचार्य डॉ. रोहित माथुर ने बताया कि वृद्ध (70) छाती में दर्द की शिकायत लेकर भर्ती हुआ था। एंजियोग्राफी में हृदय की दो मुख्य धमनियों में कैल्शियम मिश्रित ब्लॉकेज पाए गए। रोगी को बाइपास ऑपरेशन की सलाह दी गई, लेकिन रोगी और उसके परिजन सहमत नहीं हुए। डॉ. माथुर ने बीमारी को चैलेंज समझ काम शुरू कर दिया और उन्होंने आखिर एंजियोप्लास्टी का निर्णय लिया। केस की नाजुकता को देखते हुए प्रिंसिपल डॉ. दिलीप कच्छवाहा और एमडीएमएच अधीक्षक डॉ. विकास राजपुरोहित की स्वीकृति से एंजियोप्लास्टी को आयुष्मान भारत महात्मा गांधी राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना से फ्री किया गया।
70 साल के बुजुर्ग के दिल की धमनियों में जमे कैल्शियम का इलाज
70 साल के बुजुर्ग के दिल की धमनियों में जमे कैल्शियम का इलाज

इन चार तरीकों से दिया ऑपरेशन को अंजाम
डॉ. माथुर ने बताया कि इस इलाज में स्टेंट लगाने से पहले स्कोरिंग बैलून (जिसमें कैल्शियम काटने के लिए बैलून पर तार लगे होते हैं)। ओपीएन एनसी बैलून (दो तह वाला बैलून जो काफी दबाव में भी फटता नहीं है)। रोटा एब्लेशन (कैल्शियम काटने के लिए हीरे से बने बर्र को 1,60,000 आरपीएम पर इस्तेमाल करना) और इंट्रावेस्क्यूलर लिथ्रोप्सी-आइवीएल (ध्वनि तरंगों से कैल्शियम काटना) जैसे तरीकों से कैल्शियम को नेस्तानाबूद किया गया। फिर मरीज स्टेंट लगाए गए। स्टेंट लगाने के बाद आइवीयूएस पद्धति से हृदय की धमनियों के अन्दर से सोनाग्राफी की जाती है। पद्धति के बाद सामने आया कि कैल्शियम वाली जगह पर स्टेंट भलिभांति खुल गया और मरीज में किसी प्रकार का कॉम्पिलिकेशन नहीं दिखा। दो दिन में मरीज को डिस्चार्ज टिकट थमा दिया गया। ऑपरेशन व उपचार में सहयोग डॉ. पंकज, डॉ. विप्लव. डॉ विवेक. डॉ मनीष, कैथलेब स्टाफ महेन्द्र व्यास, योगेश, मनोज, शिमिला, सियोना, प्रीति, सरोज, शोभा, रणवीर, जितेन्द्र सहित टीम का रहा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

रोहिंग्या शरणार्थियों को फ्लैट देने की खबर है झूठी, गृह मंत्रालय ने कहा- केंद्र ने ऐसा कोई आदेश नहीं दियागुजरात चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, वरिष्ठ नेता नरेश रावल और राजू परमार ने थामी भाजपा की कमानलालू यादव ने बताया 2024 का प्लान, बोले- तानाशाह सरकार को हटाना हमारा मकसद, सुशील मोदी को बताया झूठाMaharashtra Monsoon Session: व्हिप को लेकर आमने-सामने हुए शिंदे गुट और ठाकरे खेमा, महाराष्ट्र विधानसभा में विपक्ष का जमकर हंगामाBJP के नए संसदीय बोर्ड और चुनाव समिति का गठन, गडकरी व शिवराज की छुट्टी, देखिए कौन-कौन नेता शामिलजिम्बाब्वे दौरे पर गई भारतीय टीम को BCCI ने दी सख्त हिदायत, पूल में जाने से रोका, ज्यादा देर नहाने से भी किया मानाकिडनैंपिग के आरोपी हैं बिहार के कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह, सरेंडर वाले दिन ही ली शपथ, नीतीश बोले-मुझे जानकारी नहींदिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने लॉन्च किया ‘मेक इंडिया नंबर-1’ कैंपेन, पूछा - आजादी के 75 वर्ष बाद भी हम बाकी देशों से पीछे क्यों?
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.