परेशान शिक्षक का शव नहर में मिला

परेशान शिक्षक ने नहर में डूबकर दी जान

By: Vikas Choudhary

Published: 14 Sep 2021, 12:25 AM IST

जोधपुर.
मथानिया थानान्तर्गत गगाड़ी गांव में राजीव गांधी लिफ्ट केनाल के पंपिंग स्टेशन-७ में लोहे की जाली में फंसा शिक्षक का शव मिला। कोरोना में आर्थिक तंगी की वजह से लाखों रुपए से निर्मित छात्रावास के बाधित होने से मृतक मानसिक तनाव में था।
थानाधिकारी डॉ. गौतम डोटासरा के अनुसार मतोड़ा थानान्तर्गत पड़ासला गांव निवासी मोहनराम (४०) पुत्र किस्तूरराम जाट का शव गगाड़ी में राजीव गांधी लिफ्ट केनाल की जाली में फंसा मिला। उसकी तलाश में पहुंचे परिजनों ने मृत्यु पर अंदेशा जताया। इस पर मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया गया।

नहीं चला हॉस्टल
पुलिस का कहना है कि मृतक मोहनराम निजी विद्यालय में शिक्षक था। उसने दो-तीन साल पहले ही ओसियां में लाखों रुपए से छात्रावास बनाया था, लेकिन कोरोना व लॉक डाउन से छात्रावास के संचालन में व्यवधान हो गया। इससे वह आर्थिक तंगी में पहुंच गया। वह शनिवार को गांव से जोधपुर के लिए निकला था। अंदेशा है कि गांव लौटने के दौरान वह नहर में डूब गया।

Vikas Choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned