जमीन-फैक्ट्री हड़पने से आहत युवक ने फंदा लगाकर दी जान

जमीन-फैक्ट्री हड़पने से आहत युवक ने फंदा लगाकर दी जान

Vikas Choudhary | Publish: Sep, 08 2018 07:28:18 PM (IST) Jodhpur, Rajasthan, India

- सर गांव की सरहद में खेत पर बने कमरे में मिला शव
- सुसाइड नोट के आधार पर आत्महत्या को दुष्प्रेरित करने का मामला दर्ज


जोधपुर.
लूनी थानान्तर्गत सर गांव की सरहद में हीरखेड़ा गांव स्थित खेत पर बने कमरे में शनिवार को एक युवक का शव फंदे पर लटका मिला। मौके पर मिले सुसाइड नोट में उसने एक व्यक्ति पर फर्जी हस्ताक्षर से उसकी जमीन व किराए पर दी फैक्ट्री को हड़पने से परेशान होकर आत्महत्या करना लिखा है। परिजन ने हत्या का अंदेशा जताते हुए आरोपी की गिरफ्तारी न होने तक शव उठाने से एकबारगी इनकार कर दिया। पुलिस की समझाइश व आत्महत्या को दुष्प्रेरित करने का मामला दर्ज होने पर परिजन सालावास में पोस्टमार्टम को तैयार हुए।
थानाधिकारी बंशीलाल के अनुसार सांगरिया बाइपास पर सोऊओं की ढाणी निवासी गेनाराम (२५) पुत्र थानाराम जाट ने हीरखेड़ा गांव की सरहद में बुवाई के लिए ले रखे खेत पर बने कमरे में रस्सी से फंदा लगाकर आत्महत्या की है। पुलिस मौके पर पहुंची और कार्रवाई के बाद शव नीचे उतरवाया। परिजन ने आत्महत्या पर संदेह जताया और हत्या का आरोप लगाया। उन्होंने आरोपी को गिरफ्तार करने तक शव उठाने से इनकार कर दिया। समझाइश के बाद परिजन शव के पोस्टमार्टम को तैयार हुए। तब शव सालावास के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की मोर्चरी भेजा गया। पोस्टमार्टम के बाद गांव में अंतिम संस्कार कर दिया गया। मृतक के भाई किशन की तरफ से मूलत: चूरू हाल जोधपुर निवासी प्रदीप ढिंढारिया के खिलाफ आत्महत्या को दुष्प्रेरित करने का मामला दर्ज किया गया है।
फर्जी हस्ताक्षर से कूटरचित वसीयत बना जमीन हड़पने का आरोप
जांच के दौरान कमरे से पुलिस को चार-पांच पृष्ठ पर हस्त लिखित एक सुसाइड नोट भी मिला है। जिसमें लिखा है कि गांव में उसके पिता के नाम तीन बीघा जमीन थी। साथ ही एक फैक्ट्री को प्रदीप ढिंढारिया को किराए पर दे रखी थी, लेकिन आरोपी ने पिता के फर्जी हस्ताक्षर कर एक कूटरचित वसीयतनामा बनवाया और जमीन अपनी पत्नी के नाम करवा ली। साथ ही फैक्ट्री व उसका किराया भी एेंठ लिया। मां, भाई के साथ बार-बार विनती करने पर आरोपी ने कुछ दिन बाद लौटाने की टालमटोल करता रहा। सुसाइड नोट में उसने स्पष्ट लिखा है कि वह प्रदीप की वजह से जान दे रहा है। वह शुक्रवार रात घर से निकला था। बासनी थाने में गुमशुदगी भी दर्ज कराई गई थी।
तीन पुत्रियां में से एक अपाहिज, हाइकोर्ट से गुहार
मृतक गेनाराम के तीन पुत्रियां हैं। एक पुत्री रीढ़ की हड्डी में समस्या के चलते अपाहिज है। उसने आरोपी प्रदीप से तीनों पुत्रियों, भाई व मां के नाम पर जमीन लौटाने का आग्रह भी किया। सुसाइड नोट में हाइकोर्ट व पुलिस से भी आरोपी से जमीन दिलाने का आग्रह किया गया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned