दहेज नहीं मिला तो गुस्से में फोन पर ही दे दिया तीन तलाक

दहेज नहीं मिला तो गुस्से में फोन पर ही दे दिया तीन तलाक

Alok Pandey | Updated: 19 Aug 2019, 02:19:32 PM (IST) Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

जिले के बिल्हौर कस्बे में ससुरालीजनों के खिलाफ मामला दर्ज
शादी के बाद से दहेज के लिए किया जाता था प्रताडि़त

कानपुर। तीन तलाक बिल को कोर्ट की मंजूरी के बाद भी लोगों में सजा का भय नहीं है। तीन तलाक के दो ताजे मामले सामने आए हैं। जिसमें पहला मामला जिले के ही बिल्हौर कस्बे का है, जबकि दूसरा मामला पड़ोसी जनपद से सामने आया है। बिल्हौर में दहेज की मांग पूरी न होने पर शौहर ने पत्नी को फोन पर तीन तलाक दे दिया। पीडि़ता ने शौहर व ससुरालीजनों के खिलाफ तहरीर देकर रिपोर्ट दर्ज कराई है।

पीडि़ता को प्रताडि़त करते थे ससुरालीजन
मकनपुर कस्बे के मुबारक हुसैन की बेटी नूरेशना की शादी कस्बे के ही मुशरत अली के बेटे हैदर से अक्तूबर 2017 में हुई थी। नूरेशना का कहना है कि उसके पिता ने शादी में हैसियत के अनुसार दहेज दिया था। इसके बावजूद शौहर और ससुरालीजन खुश नहीं थे। नूरेशना का आरोप है कि उसके पिता ने कार दे पाने में असमर्थता जाहिर की तो शौहर हैदर अली, ससुर मुशरत अली, सास फकरून निशा, देवर कैसर व फैसल के साथ ही ननद शबीना व रूबी आए दिन मारने-पीटने लगे। बीते 13 अगस्त को शौहर और ससुरालीजनों ने उसके साथ मारपीट करते हुए छत से नीचे फेंक दिया। इससे बाद मायके वाले अपने साथ ले आए और इलाज करवा रहे हैं।

फोन पर बोला तीन तलाक
पीडि़ता नूरेशना ने बताया कि सुबह वह मायके में थी तभी शौहर हैदर अली का फोन आया। बात करने के दौरान उन्होंने तीन तलाक दे दिया। यह सुनकर वह रो-रोकर बेसुध हो गईं। इसके बाद पीडि़ता ने पिता के साथ थाने पहुंचकर शौहर हैदर व ससुरालीजनों के खिलाफ दहेज उत्पीडऩ व तीन तलाक का आरोप लगाते हुए तहरीर दी। सीओ बिल्हौर देवेंद्र कुमार मिश्र ने बताया कि शौहर व आरोपित ससुरालीजनों के खिलाफ रिपोर्ट दर्जकर कार्रवाई की जा रही है।

तलाक के साथ जान से मारने की धमकी
दूसरी ओर कानपुर के पड़ोस में उन्नाव जिले में कपड़े खरीदने बाजार पहुंची महिला को पति ने तीन तलाक दे दिया। पीडि़ता का आरोप है कि पति ने उसे जान से मारने की धमकी भी दी। पीडि़ता की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी पति के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। फतेहपुर चौरासी थानाक्षेत्र के सैंता गांव निवासी शहनाज बेगम (28) का आठ साल पहले बांगरमऊ के अतरधनी निवासी फकरुद्दीन खां के साथ निकाह हुआ था। आरोप है कि पति उसे पसंद न करने का ताना देता था और ससुरालीजन दहेज के लिए उसे प्रताडि़त करते थे। इस पर वह छह साल पहले अपने मायके सैंता गांव में आकर रहने लगी। शहनाज ने बताया कि 7 अगस्त की शाम वह तकिया चौराहे पर कपड़े खरीदने गई थी जहां पति फकरुद्दीन खां उसे मिल गया। शहनाज का आरोप है कि पति ने उसे जान से मारने की धमकी दी और तीन बार तलाक बोलकर हमेशा के लिए रिश्ता खत्म करने की बात कही।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned