scriptदुष्कर्म के दौरान पकड़े जाने के भय से छह साल की बच्ची को फेंका छत से नीचे | Six-year-old girl thrown from roof for fear of being caught during rap | Patrika News
कोलकाता

दुष्कर्म के दौरान पकड़े जाने के भय से छह साल की बच्ची को फेंका छत से नीचे

– बाल-बाल बची जान

कोलकाताDec 19, 2020 / 09:31 pm

Vanita Jharkhandi

दुष्कर्म के दौरान पकड़े जाने के भय से छह साल की बच्ची को फेंका छत से नीचे

दुष्कर्म के दौरान पकड़े जाने के भय से छह साल की बच्ची को फेंका छत से नीचे


कोलकाता
कोलकाता के राजाबाजार इलाके में एक शराबी नशे की हालत में छह साल की बच्ची को वरगला कर छत पर ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म करने लगा। बच्ची के मामा उसको आवाज लगाने लगे तो बच्ची चीखने लगी।पकड़ जाने के भय से बच्ची का गला दबा कर उसे छत नीचे फेंक दिया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। बच्ची का इलाज चल रहा है। सूत्रों के अनुसार कोलकाता के राजा बागान थाना क्षेत्र के कानखुली इलाके में हुई। पुलिस ने इस घटनाके आरोपी इरशाद माली को गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस ने बताया कि लड़की अपने मामा के घर पर रहती है। घटना के समय बच्ची घर के अंदर अन्य बच्चों के साथ छुपाछुपी का खेल खेल रही थी। उस समय आरोपी बगल के घर की छत पर शराब पी रहा था। लड़की को पास की छत में खेलते देख वह नीचे आ गया। बच्ची को बताएं कि वह छिपने की बहुत अच्छी जगह जानता है। उसके पूछने पर युवक ने उसको अपने साथ छत पर ले गया। इसके बाद आरोपी उसके साथ यौन शोषण करने की कोशिश करने लगा। उसी वक्त लड़की का मामा उसे ढूंढते हुए आवाज लगा रहा था। खेलने वाले साथ के बच्चे भी नहीं बता पा रहे थे कि आखिर वह कहां गई। दूसरी ओर डरी सहमी पीड़िता के कान में जैसे अपने मामा की आवाज आई तो वह सुनकर चिल्लाने लगी। नशे में धुत युवक को लगा कि वह पकड़ लिया जाएगा। डर से उसने बच्ची का गला दबाने लगा ताकि चीखें नीचे तक न पहुंचें। लड़की बेहोश हो गई। युवक को लगा कि वह मर चुकी है। इसलिए उसने सबूत नष्ट करने के लिए उसे छतसे नीचे फेंक दिया। जांच के बाद, पुलिस अधिकारियों ने देखा कि उस घर और पास के छत के बीच केवल डेढ़ फीट का अन्तर था। इसलिए वह दो मकान की दीवारों से रगड़ खाते हुए नीचे गिरी इसी वजह से बच्ची की जान बच गई। दूसरी ओर बच्ची को नीचे फेंकने के बाद युवक छत से जल्दी जल्दी नीचे उतरने लगा तभी घर की निवासी एक महिला ने उसे देखा लिया था। पीड़िता के मामा को बच्ची कही नहीं मिली तो आस-पास के लोग टार्च लेकर उसकी तलाश करने लगे। गुरुवार की रात बच्ची दोनों घरों के बीच गली में बेहोशी की हालत में पड़ी मिली। उसके सिर से खून बह रहा था। पड़ोसियों ने तुरंत उसे अस्पताल पहुंचाया।
खबर मिलते ही राजाबागन थाने की पुलिस मौके पर गई। बच्चे की स्थिति को देखते हुए अनुमान लगाया जा रहा है कि उसके साथ यौन दुर्व्यवहार किया गया है। इस घटना की जानकारी होते हीपड़ोसी ने महिला ने घबराए हुए इरशाद को छत से नीचे आने की जानकारी दी उसके बाद ही उसे पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। पूछताछ के दौरान पूरी घटना आरोपी ने कबूल की। उसका दावा है कि उसने शराब के प्रभाव में खुद को बचाने के लिए बच्चे को ऊपर से फेंक दिया।पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Hindi News/ Kolkata / दुष्कर्म के दौरान पकड़े जाने के भय से छह साल की बच्ची को फेंका छत से नीचे

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो