scriptLakhimpur Kheri Case SIT notice against 12 Farmers | लखीमपुर खीरी केस: एसआईटी ने 12 किसानों को जारी किया समन, मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा की जमानत पर पर फैसला 11 को | Patrika News

लखीमपुर खीरी केस: एसआईटी ने 12 किसानों को जारी किया समन, मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा की जमानत पर पर फैसला 11 को

लखीमपुर खीरी के तिकुनिया गांव में बीते वर्ष तीन अक्टूर को एक कार्यक्रम के दौरान हुई हिंसा में 4 किसानों समेत 8 लोगों की मौत हो गई थी। इस घटना के बाद उत्तर प्रदेश की राजनीति में भूचाल आ गया था। जिसके बाद प्रदेश सरकार ने हिंसा मामले की जांच के एक विशेष जांच दल गठित किया था। पूरे मामले की जांच के बाद एसआईटी ने इस घटना को सोची-समझी साजिश करार दिया था ।

लखीमपुर खेरी

Published: January 06, 2022 08:03:36 pm

लखीमपुर. विशेष जांच दल (एसआईटी) ने पिछले साल तीन अक्टूबर को हुई लखीमपुर खीरी हिंसा के दौरान भाजपा के तीन कार्यकर्ताओं की कथित रूप से पीट-पीट कर हत्या करने के मामले में 12 किसानों को तलब किया है। इनमें से अधिकांश किसानों ने पहले कहा था कि वे मौके पर मौजूद थे। लेकिन हमले में शामिल नहीं थे। उस समय, उन पर 'दंगा' और 'स्वेच्छा से चोट पहुंचाने' जैसी जमानती धाराओं के तहत आरोप लगाए गए थे और उन्हें सीआरपीसी की धारा 41 के तहत एसआईटी अधिकारियों ने छोड़ दिया था। इस मामले में अब तक सात किसानों को गिरफ्तार किया जा चुका है और एसआईटी मामले में और संदिग्धों की तलाश कर रही है।
khiri.jpg
आशीष की जमानत पर फैसला 11 को

वहीं लखीमपुर खीरी हिंसा के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा की जमानत मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट 11 जनवरी तक आदेश सुरक्षित रखा। लखीमपुर खीरी कांड के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा के वकील ने सरकार के काउंटर एफिडेविट का जवाब दाखिल करने का समय मांगा है।
किसानों के बयान दर्ज करने के लिए जारी किये समन- एसआईटी

लखीमपुर केस की जांच कर रही एसआईटी के एक सदस्य ने कहा कि हमने उन किसानों के बयान दर्ज करने के लिए समन जारी किया है, जो मौके पर मौजूद थे और भीड़ का हिस्सा थे। उनमें से कुछ पहले हमारे सामने पेश हुए लेकिन किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया।
ये भी पढ़े: सीएम योगी ने किसानों का 50 फीसदी बिजली बिल माफ करने का किया एलान

दो अन्य फरार आरोपियों का हैं इंतजार

किसानों का प्रतिनिधित्व कर रहे अधिवक्ता हरजीत सिंह ने कहा कि कुछ किसानों को पहले पूछताछ के लिए बुलाया गया था। क्योंकि वे भीड़ का हिस्सा थे लेकिन हिंसा में शामिल नहीं थे। अब जिन किसानों को समन मिला है, वे ही किसानों की हत्या के मामले में गवाह हैं। हम एसआईटी के काफिले में सवार दो अन्य आरोपियों की तलाश का इंतजार कर रहे हैं, जो भागने में सफल रहे थे।
आरोप है कि आशीष के काफिले ने किसानों को कुचला

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा के काफिले ने चार किसानों और एक पत्रकार को कथित तौर पर कुचल दिया था। तब गुस्साए किसानों ने कथित तौर पर तीन भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी थी और दो एसयूवी को आग लगा दी थी जो काफिले का हिस्सा थीं।
मुख्य आरोपी सहित 14 लोग जेल में हैं बंद

मामले में क्रॉस एफआईआर दर्ज की गई और एसआईटी ने चार्जशीट दाखिल की जिसमें आशीष सहित 14 लोगों को नामजद किया गया, जो किसानों की मौत के लिए जेल में बंद हैं। लिंचिंग मामले में सात किसानों को गिरफ्तार किया गया है। बाद के मामले में जांच जारी है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

अफगानिस्तान के काबुल में भीषण धमाका, तालिबान के पूर्व नेता की बरसी पर शोक मना रहे लोगों को बनाया गया निशानाPunjab Borewell Accident: बोरवेल में गिरे 6 साल के बच्चे की नहीं बचाई जा सकी जान, अस्पताल में हुई मौतBJP को सरकार बनाने के लिए क्यूँ जरूरी है काशी और मथुरा? अयोध्या से बड़ा संदेश देने की तैयारी..पश्चिम बंगाल का पूर्व मेदिनीपुर जिला बम धमाकों से दहला, तलाशी के दौरान बरामद हुए 1000 से अधिक बमIPL 2022, SRH vs PBKS Live Updates: पंजाब ने हैदराबाद को 5 विकेट से हरायाकपिल देव के AAP में शामिल होने की चर्चा निकली गलत, सोशल मीडिया पर पूर्व कप्तान ने खुद साफ की स्थितिआख़िर क्यों असदुद्दीन ओवैसी बार-बार प्लेसेज ऑफ़ वर्शिप एक्ट का रो रहे हैं रोना, यहां जानेंपुजारा और कार्तिक की टीम में वापसी, उमरान मालिक को भी मिला मौका, देखें दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड दौरे का पूरा स्क्वाड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.