यूपी में 3620 डॉक्टर्स की भर्ती, 600 बाल रोग विशेषज्ञ डॉक्टर होंगे भर्ती, गृह जनपद में मिलेगी तैनाती

application for 3620 doctors 600 pediatricians recruitment in UP

By: Karishma Lalwani

Published: 11 Jun 2021, 03:45 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

लखनऊ. application for 3620 doctors 600 pediatricians recruitment in UP. कोरोना (Corona Virus) की तीसरी लहर से निपटने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने तैयारियां तेज कर दी हैं। सभी को समय पर और जल्द इलाज मिले इसके लिए यूपी में 3620 विशेषज्ञ डॉक्टरों की भर्ती की जाएगी। उत्तर प्रदेश में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवा (पीएमएस) संवर्ग में 3620 विशेषज्ञ डॉक्टरों की भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित किए जा चुके हैं। इच्छुक अभ्यर्थियों के लिए आवेदन फार्म वेबसाइट पर उपलब्ध है। 28 जून तक अभ्यर्थी आवेदन कर सकते हैं। इन पदों में सबसे ज्यादा 600 पद बाल रोग विशेषज्ञ के लिए भर्ती होनी है। इसके अलावा 590 पद जनरल फिजिशियन और 590 जनरल सर्जन के अलावा रेडियोलॉजिस्ट, पैथोलॉजिस्ट और ईएनटी विशेषज्ञ होंगे। सभी को गृह जिले में तैनाती दी जाएगी।

स्वास्थ्य विभाग सचिव को पत्र

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद की ओर से केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव के साथ-साथ सभी राज्यों के स्वास्थ्य विभाग के सचिवों को पत्र लिखकर आग्रह किया गया है कि उत्तर प्रदेश में विशेषज्ञ डॉक्टरों की भर्ती से संबंधित जानकारी अपने मेडिकल कॉलेज, डॉक्टर एसोसिएशन और इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की राज्य इकाई को दें। ऐसा इसलिए ताकी ज्यादा से ज्यादा अभ्यर्थी आवेदन करें।

करीब पांच हजार पद खाली

पीएमएस संवर्ग में एमबीबीएस डॉक्टर व विशेषज्ञ डॉक्टरों के कुल 18,700 पद हैं। इन पदों में से 50 प्रतिशत एमबीबीएस डॉक्टर व 50 प्रतिशत विशेषज्ञ डॉक्टरों के हैं। करीब 5000 पद खाली हैं। विशेषज्ञ डॉक्टरों की संख्या को बढाने के लिए रिक्त पदों को जल्द से जल्द भरने का प्रयास किया जा रहा है। इससे पहले दिसंबर 2020 में पीएमएस संवर्ग की नई सेवा नियमावली लागू की गई थी। इसके तहत विशेषज्ञ डॉक्टरों के पदों पर परास्नातक व डिप्लोमा पास अभ्यर्थियों को सीधे लेवल टू के मेडिकल ऑफिसर पद पर भर्ती का नियम लागू किया गया। विशेषज्ञ डॉक्टरों के पदों को भरने के लिए गृह जनपद में तैनाती का ऑफर है। यानी कि नए भर्ती होने वाले स्पेशलिस्ट डॉक्टरों के गृह जिले में अगर पद खाली हैं तो उन्हें प्राथमिकता के आधार पर तैनाती दी जाएगी।

ये भी पढ़ें: बच्चों के लिए कोवैक्सीन तैयार, स्वास्थ्य जांच के बाद लगेगी वैक्सीन, ट्रायल के लिए स्क्रीनिंग शुरू

ये भी पढ़ें: एंबुलेंस के लेकर तय हुआ किराया, अधिक किराया मांगने पर लाइसेंस होगा निरस्त

Corona virus
Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned