scriptAwas Vikas Big Gift dakhil kharij fee mutation fee Huge reduction shoc | यूपी आवास विकास परिषद का गिफ्ट, दाखिल खारिज शुल्क में भारी कमी, जानकर चौंक जाएंगे | Patrika News

यूपी आवास विकास परिषद का गिफ्ट, दाखिल खारिज शुल्क में भारी कमी, जानकर चौंक जाएंगे

Awas Vikas Big Gift उत्तर प्रदेश आवास विकास परिषद ने प्रदेश भर में अपनी संपत्तियों के दाखिल खारिज शुल्क यानि की म्यूटेशन फीस में भारी कमी कर दी है। दाखिल खारिज सिर्फ 200 से लेकर 500 रुपए में ही होगा। आवास आयुक्त अजय चौहान ने इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। जानें ढेर सारे तोहफे दिए है, जिन्हें जानकार चौंक जाएंगे।

लखनऊ

Published: April 25, 2022 02:46:41 pm

उत्तर प्रदेश आवास विकास परिषद का एक बड़ा गिफ्ट। यूपी आवास विकास परिषद ने प्रदेश भर में अपनी संपत्तियों के दाखिल खारिज शुल्क यानि की म्यूटेशन फीस में भारी कमी कर दी है। परिषद ने म्यूटेशन फीस 97.5 फीसद प्रतिशत तक कम कर दिया है। गरीबों और मध्यम वर्ग के भवन स्वामियों के मकानों का दाखिल खारिज सिर्फ 200 से लेकर 500 रुपए में ही होगा। आवास आयुक्त अजय चौहान ने इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। बोर्ड बैठक 27 अप्रैल को होगी, इसमें सहमति मिलने के बाद मई से इसे पूरे सूबे में लागू किया जाएगा।
Awas Vikas : यूपी आवास विकास परिषद का एक बड़ा गिफ्ट, दाखिल खारिज शुल्क में भारी कमी, जानकर चौंक जाएंगे
Awas Vikas : यूपी आवास विकास परिषद का एक बड़ा गिफ्ट, दाखिल खारिज शुल्क में भारी कमी, जानकर चौंक जाएंगे
दाखिल खारिज शुल्क घटाया

यूपी आवास आयुक्त अजय चौहान ने अपने स्तर से संपत्तियों के दाखिल खारिज में राहत देने का निर्णय लिया है। 27 अप्रैल को फाइनल हो जाएगा। आवास विकास, दाखिल खारिज में यह छूट न सिर्फ गरीबों और मध्यम वर्ग को देगा बल्कि सभी श्रेणी के भवन, भूखंड स्वामियों को भी देगा। पहले दाखिल खारिज कराने के लिए 5000 रुपए से लेकर दो लाख रुपए तक देने पड़ते थे। पर अब नए नियम के अनुसार, आवंटियों को सिर्फ 200 रुपए से अधिकतम 25000 तक ही दाखिल खारिज शुल्क देना होगा।
यह भी पढ़ें

यूपी के इन 7 शहरों में सस्ती जमीनें और फ्लैट खरीदने का है मौका, 1 अप्रैल से आवास विकास परिषद बढ़ा देगा 20 फीसद रेट

आवास विकास का 3543 करोड़ रुपए फंसा

यह जानकार आप हैरान होंगे कि, पूरे प्रदेश में आवास विकास योजनाओं के तहत 12560 फ्लैट खाली हैं। इन फ्लैटों में आवास विकास का 3543 करोड़ रुपए फंसा हुआ है। आवास विकास किसी तरह से इन फ्लैटों को बेचना चाहता है। इसलिए वह लगातार नई सुविधा दे रहा है।
यह भी पढ़ें

एलडीए दे रहा एक मौका, लाखों रुपए का ब्याज मिनटों में होगा माफ

कोर्ट से उत्तराधिकार प्रमाण पत्र लाने पर होगा म्यूटेशन

विवादों से बचने के लिए आवास विकास परिषद यह तय किया है कि, अब परिषद उसी के नाम आवासीय, अनावासीय संपत्तियों का दाखिल खारिज करेगा, जो दीवानी न्यायालय से उत्तराधिकार ले आएगा। री-सेल में खरीदी गई संपत्तियों का दाखिल खारिज रजिस्ट्री के आधार पर ही होगा।
27 को मिलेगी मंजूरी

सचिव अपर आवास आयुक्त ने बताया कि, दाखिल खारिज, नियमावली में बदलाव हो रहा है। 27 को बोर्ड बैठक में नियमावली मंजूरी के लिए रखी जा रही है। इसमें दाखिल खारिज शुल्क घटाने का प्रस्ताव है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

सुप्रिम कोर्ट में अपने अंतिम कर्य दिवस पर बोले जस्टिस एलएन राव - 'जज साधु-संन्यासी नहीं होते, हम पर भी होता है काम का दबाव'Thailand Open: PV Sindhu ने वर्ल्ड की नंबर 1 खिलाड़ी Akane Yamaguchi को हराकर सेमीफाइनल में बनाई जगहIPL 2022 RR vs CSK Live Updates: शतक बनाने से चूके मोईन अली, चेन्नई ने राजस्थान को जीत के लिए दिया 151 रनों का लक्ष्यज्ञानवापी मस्जिद केसः सुप्रीम कोर्ट का सुझाव, मामला जिला जज के पास भेजा जाए, सभी पक्षों के हित सुरक्षित रखे जाएंशिक्षा मंत्री की बेटी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने दिए बर्खास्त करने के निर्देश, लौटाना होगा 41 महीने का वेतनHyderabad Encounter Case: सुप्रीम कोर्ट के जांच आयोग ने हैदराबाद एनकाउंटर को बताया फर्जी, पुलिसकर्मी दोषी करारInflation Around World : महंगाई की मार, भारत से ज्यादा ब्रिटेन और अमरीका हैं लाचारपंजाब में दिल्ली का विकास मॉडल, CM भगवंत मान का ऐलान- 15 अगस्त को राज्य को मिलेंगे 75 नए मोहल्ला क्लीनिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.