अगर आपने लिया है उज्ज्वला योजना के तहत सिलेंडर, तो अब मिलेगी ये नई सुविधा

अगर आपने लिया है उज्ज्वला योजना के तहत सिलेंडर, तो अब मिलेगी ये नई सुविधा

Deepak Sahu | Publish: Apr, 20 2018 02:51:21 PM (IST) Mahasamund, Chhattisgarh, India

उज्ज्वला गैस कनेक्शन में लिए कनेक्शन को रिफिल करवाने के लिए लोगों को अब दर-दर भटकना नहीं पड़ेगा।

महासमुंद. उज्ज्वला गैस कनेक्शन में लिए कनेक्शन को रिफिल करवाने के लिए लोगों को अब दर-दर भटकना नहीं पड़ेगा। गैस रिफलिंग की सुविधा के लिए गैस एजेंसी अब एक मोबाइल वैन चलाएगी। ये वैन गांवों में लगने वाली साप्ताहिक हाट-बाजार के दिन पहुंचेगी। विभाग इसके लिए तैयारी में जुटा है। जल्द ही यह सुविधा लोगों को मिलने वाली है। हाट बाजार के अलावा एक निर्धारित दिन में भी इस वैन को गांवों में घुमाया जाएगा।

कनेक्शन लेने के बाद रिफिलिंग के लिए परेशान
ग्रामीण महिलाओं को धुंए से मुक्ति दिलाने के लिए प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की शुरूआत हुई है। इसके तहत जिले में करीब 1 लाख 17 हजार लोगों को योजना के तहत गैस का वितरण किया जा चुका है। लक्ष्य का करीब 10-95 प्रतिशत गैस कनेक्शन का वितरण कर दिया गया है। शिविरों में भी गैस कनेक्शन बांटा जा रहा है। लेकिन लोग कनेक्शन लेने के बाद रिफलिंग के लिए परेशान होते हैं। रिफलिंग को लेकर कई तरह की समस्याएं सामने आ रही हैं।

अब लोगों को गैस रिफलिंग कराने के लिए एजेंसी जाने के बजाए गांव में लगने वाले साप्ताहिक हाट-बाजार में रिफलिंग की सुविधा मिलेगी। जिले में करीब 13 गैस एजेंसी संचालित हैं। एजेंसी संचालकों को प्रशासन की ओर से जल्द ही गैस रिफलिंग के लिए हाट बाजार में चलित वाहन के माध्यम से गैस रिफलिंग की सुविधा मुहैया कराने के आदेश दिए जाएंगे। इसके लिए ग्राम पंचायतों में पहले एक कलस्टर बनाया जाएगा।

इसके बाद जिस दिन हाट बाजार लगता है उस दिन से वहां चलित वाहन काम करेगा। वहीं दूसरी ओर गांवों में संचालित उचित मूल्य की दुकान में लोग इसके लिए रजिस्ट्रेशन करा सकते है। वहां लोगों का पूरा विवरण रहेगा और रिफलिंग के लिए तय राशि लेकर उसकी बुकिंग संबंधित एजेंसी में करेगा।

 

lpg

रिफिलिंग के लिए नहीं है पैसे

एजेंसी के माध्यम से योजना के तहत गरीब महिलाओं को 200 रुपए में गैस सिलेंडर का वितरण किया गया है, लेकिन रिफलिंग के लिए 7 सौ रुपए देना पड़ रहा है। जबकि यह योजना गरीबों के लिए है। ऐसे में जिनको यह सुविधा मिली है, उनके पास रिफलिंग कराने के पैसे भी नहीं है। हर माह 7 सौ रुपए में रिफलिंग कराना उन्हें मुश्किल लग रहा है। इसलिए लोग गैस सिलेंडर तो ले रहे है, लेकिन रिफलिंग कराने में रुचि नहीं ले रहे हैं।

करना होगा रजिस्टर मेन्टेन
लोग चाहे हाट बाजार में गैस रिफलिंग कराए या उचित मूल्य की दुकान में रजिस्टे्रशन दोनों ही स्थिति में एक-एक रजिस्टर मेन्टेन कराना होगा। इस रजिस्टर में लोगों के पूरे विवरण के साथ रिफलिंग की जानकारी दर्ज होगी।यह व्यवस्था किसी तरह की गड़बड़ी न हो इसके लिए की गई है।

जिला खाद्य अधिकारी अजय यादव ने बताया कि मोबाइल वैन की सहायता से जल्द ही उज्जवला योजना के तहत लिए गए गैस कनेक्शन हितग्राहियों को रिफलिंग की सुविधा मिलने वाली है। सप्ताह में लगने वाली हॉट बाजार में रिफलिंग का कार्य संचालित किया जाएगा।

Ad Block is Banned