scriptHead constables are getting trained after promotion, work efficiency w | पदोन्नति के बाद प्रशिक्षित हो रहे प्रधान आरक्षक, बढ़ेगी कार्य दक्षता | Patrika News

पदोन्नति के बाद प्रशिक्षित हो रहे प्रधान आरक्षक, बढ़ेगी कार्य दक्षता

locationमंडलाPublished: Feb 03, 2024 01:01:06 pm

Submitted by:

Mangal Singh Thakur

पदोन्नत हुए पुलिस कर्मचारी अब थाना प्रबंधन के साथ ही पुलिस अनुसंधान का कार्य सीख रहे हैं

पदोन्नति के बाद प्रशिक्षित हो रहे प्रधान आरक्षक, बढ़ेगी कार्य दक्षता
पदोन्नति के बाद प्रशिक्षित हो रहे प्रधान आरक्षक, बढ़ेगी कार्य दक्षता

मंडला. पदोन्नत हुए पुलिस कर्मचारी अब थाना प्रबंधन के साथ ही पुलिस अनुसंधान का कार्य सीख रहे हैं। यह कार्य इन्हें इंडक्शन कोर्स के अंतर्गत मंडला पुलिस कंट्रोल रूम में प्रदान किए जा रहे प्रशिक्षण में सिखाया जा रहा है। जिसकी शुरूआत मंडला पुलिस अधीक्षक रजत सकलेचा द्वारा की गई। इन इंडक्शन कोर्स में थाना प्रबंधन के साथ विवेचना सहित अन्य कार्य भी सिखाए जा रहे है, जिससे उन्हें किसी भी तरह के मामले में प्रकरण दर्ज करने से लेकर विवेचना में कोई परेशानी का सामना ना करना पड़े। जानकारी अनुसार पुलिस मुख्यालय भोपाल द्वारा जिले के आरक्षकों को कार्यवाहक प्रधान आरक्षक के पद पर पदोन्नत किया गया है। जिसमें मंडला जिले से 53 आरक्षकों को पदोन्नत कर कार्यवाहक प्रधान आरक्षक बनाया गया। जिसमें से जिले के विभिन्न थानों में पदस्थ इन 53 कार्यवाहक प्रधान आरक्षकों को इंडक्शन कोर्स में शामिल कर प्रशिक्षण दिया जा रहा है। यह इंडक्शन कोर्स कार्यवाहक प्रधान आरक्षकों को 31 दिवस दिया जाएगा। जिसमें आंतरिक एवं बाह्य कोर्स कराया जाएगा। इस इंडक्शन कोर्स से प्रशिक्षु कार्यवाहक प्रधान आरक्षक अपने कार्य में पूर्ण दक्ष होंगे।

कराए जा रहे आंतरिक व बाह्य कोर्स

बताया गया कि इंडक्शन कोर्स के प्रथम दिन चिकित्सक टीम द्वारा 53 प्रशिक्षु कार्यवाहक प्रधान आरक्षकों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। इसके बाद इन सभी कार्यवाहक प्रधान आरक्षकों का प्रशिक्षण शुरू किया गया। इंडक्शन कोर्स के अंतर्गत आंतरिक कोर्स में पुलिस प्रशासन एवं व्यवहार, थाना प्रबंधन, साइबर क्राइम, सूचना का अधिकार, आईपीसी, पास्को एक्ट प्रोजेक्ट जिसमें विभिन्न प्रकार के अपराधों की डायरियों का सूक्ष्म विश्लेषण किया जाएगा। बाह्य कोर्स में योगा, पीटी परेड, ध्यान, तनाव मुक्ति को सम्मिलित किया गया है। फायरिंग एवं वेपन हैंडलिंग सिखाई जाएगी।

फिटनेस पर भी ध्यान

सूबेदार गेलेन्द्र नागेस ने बताया कि जिले में 53 आरक्षकों को पदोन्नति मिली है। इन्हें आरक्षक से कार्यवाहक प्रधान आरक्षक के पद पर पदोन्नत किया गया है। सभी प्रशिक्षुकों को इंडक्शन कोर्स कराया जा रहा है। प्रशिक्षण में मुख्य रूप से उन्हें काम करने में दक्ष तो किया ही जा रहा है, इसके साथ ही स्वास्थ्य के प्रति जागरूक भी किया जा रहा है। पुलिस विभाग उनकी फिटनेस पर भी ध्यान दे रहा है, जिससे ये प्रशिक्षु जब मैदान में जाए तो मानसिक रूप के साथ ही शरीरिक रूप से भी फिट रहे। इसके लिए पुलिस लाईन में प्रतिदिन सुबह कोर्स शुरू होने से पहले पुलिसकर्मी योग कर रहे है। इसके साथ ही पीटी कर स्वयं को स्वस्थ रखने में लगे हुए है।

विशेषज्ञ प्रशिक्षक दे रहे हैं प्रशिक्षण

बताया गया कि 53 प्रशिक्षु कार्यवाहक प्रधान आरक्षकों का 31 दिवसीय इंडक्शन कोर्स शुरू हो चुका है। इन्हें प्रशिक्षित करने के लिए कोर्स के विशेषज्ञ प्रशिक्षकों द्वारा प्रशिक्षण दिया जा रहा है। सुबह 7 बजे से लेकर शाम 5 बजे तक कोर्स संचालित किया जा रहा है। आयोजित इंडक्शन कोर्स में कार्यवाहक प्रधान आरक्षकों को पूर्ण रूप से प्रशिक्षित किया जाएगा। जिससे इन्हें अपने कार्य में कोई परेशानी का सामना ना करना पड़े।

ट्रेंडिंग वीडियो