scriptLooting worldly things with both hands, Dikshaarti turns out to be a g | दोनों हाथों से सांसारिक वस्तुएं लुटाई, दीक्षार्थी का निकला वरघोड़ा | Patrika News

दोनों हाथों से सांसारिक वस्तुएं लुटाई, दीक्षार्थी का निकला वरघोड़ा

locationमंदसौरPublished: Feb 10, 2024 08:02:07 pm

Submitted by:

Vikas Tiwari

दीक्षार्थी के वर्षीदान रथयात्रा के साथ हुई महामांगलिक

mandsaur news
दोनों हाथों से सांसारिक वस्तुएं लुटाई, दीक्षार्थी का निकला वरघोड़ा

सुवासरा.
नगर में चल रहे संयम श्रृंगार महोत्सव के चौथे दिन शनिवार को मुमुक्ष संयम सालेचा का वर्षीदान का वरघोड़ा निकाला गया। दीक्षार्थी ने इस दौरान नगर में दोनों हाथों से सांसारिक वस्तुएं लुटाई। बड़ी संख्या में समाजजनों ने इसमें भाग लिया। इसके साथ ही मुमुक्ष मुस्कान पटेल जोशी जबलपुर और हिना वेद डग राज का भी वर्षीदान रथयात्रा निकाली गई। दीक्षार्थियों के वरघोड़े के साथ धर्मसभा हुई। इसमें महामांगलिक का आयोजन किया गया। नगरवासियों व समाजजनों ने दीक्षार्थियों का बहुमान किया।
सुबह 10 बजे जैन श्वेतांबर मंदिर से रथयात्रा प्रारंभ हुई। जो नगर के प्रमुख मार्गो से होते हुए जैन मांगलिक भवन पहुंची। रथयात्रा में भगवान की प्रतिमा लिए श्रद्धालु सवार थे। वहीं रथयात्रा के दौरान महिला मंडल, बालिका मंडल और नवयुवक मंडल ने आकर्षक वेशभूषा धारण किए हुए थी। बैंड-बाजे, ताशा पार्टी और ढोल की थाप पर महिलाओं और युवाओं ने दीक्षार्थी के जयकारें के साथ नृत्य किया। रथ यात्रा का नगर में नगर परिषद, कांग्रेस नेताओ सहित कई लोगों ने जगह जगह पुष्पवर्षा से स्वागत किया। दीक्षार्थी मुमुक्ष संयम सालेचा ने रथयात्रा के दौरान सांसारिक वस्तुएं लुटाई। रथयात्रा में आचार्य विश्वरत्न सागर सूरीश्वर महाराज, मुनि उदयरत्न सागर महाराज सहित साधु-साध्वी भगवंत श्रद्धालुओं को आशीर्वाद देते हुए चल रहे थे। श्रद्धालुओं ने भगवान की प्रतिमा के सामने चावल की गहुली बनाकर नमन किया।
रथयात्रा का जैन मांगलिक भवन पर समापन के बाद आधी व्याधि का नाश कर मंगल करने वाली महामांगलिक आचार्य विश्व रत्नसागर सुरीश्वर महाराज द्वारा विशिष्ट मंत्रो के साथ श्रद्धालुओं को श्रवण कराई गई। महामांगलिक के दौरान संगीतकार त्रिलोक मोदी के संगीतमय भजनों ने समां बांध दिया। महामांगलिक के बाद तीनों मुमुक्ष दीक्षार्थी का संघ द्वारा बहुमान किया गया। कार्यक्रम के दौरान विधायक हरदीप सिंह डंग, जिला पंचायत अध्यक्ष दुर्गा विजय पाटीदार, कांग्रेस नेता राकेश पाटीदार ने गुरुदेव के दर्शन कर आशीर्वाद प्राप्त किया। इस अवसर पर संघ अध्यक्ष समरथमल जैन, सचिव पारस जैन, सहसचिव प्रदीप जैन, प्रकाश छजलानी, कोषाध्यक्ष मुकेश जैन, उपाध्यक्ष धर्मेंद्र ढाबरिया, प्रभुलाल कोठारी, समरथ जैन, सुरेश ढाबरिया सहित बड़ी संख्या में समाजजन मौजूद थे।
रात्रि 8 बजे इंदौर के संगीतकार देवेश जैन द्वारा मुमुक्ष संयम सालेचा को श्रीसंघ द्वारा अंतिम विदाई का मार्मिक मंचन किया गया। इस अवसर पर संयम के परिवार एवं रिश्तेदारों के द्वारा अंतिम तिलक कर विदाई दी और संयम की बहन पूजा द्वारा आखिरी बार राखी बांध रक्षाबंधन मनाया गया।
आज मुमुक्ष संयम ग्रहण करेगा रजोहरण
रविवार को संयम सुबह 10 बजे गुरु भगवंतों से दीक्षा ग्रहण साधु जीवन में प्रवेश करेगा। इसके लिए सुबह 9 बजे गुरु नवरत्न दीक्षा वाटिका में रजोहरण अर्पण का विधान प्रारंभ होगा। दीक्षा ग्रहण करने के साथ ही मुमुक्ष संयम का बाल मुनि के रूप में नया नामकरण भी होगा। वह मुनि उदयरत्न सागर महाराज का शिष्य बनेगा।
...

ट्रेंडिंग वीडियो