June 2021 से लागू होगा बिना Hallmark के Gold Jewellery खरीदने और बेचने पर पाबंदी का नियम

  • Coronavirus के कारण अब जनवरी 2021 नहीं जून 2021 से बदलेगा बिना Hallmarking Gold Jewellery Rules
  • सरकार ने लांच किया BIS Care Mobile App, उपभोक्ता ISI और Hallmark की कर सकते हैं जांच

By: Saurabh Sharma

Updated: 28 Jul 2020, 08:28 AM IST

नई दिल्ली। सोना खरीदने का नियम जनवरी 2021 नहीं बल्कि जून 2021 से बदला जाएगा। इस बात की जानकारी खुद केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री राम विलास पासवान ( Union Minister of Consumer Affairs, Food and Public Distribution Ram Vilas Paswan ) ने दी है। उनके अनुसार ऐसा कोरोना वायरस ( coronavirus ) के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए किया गया है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के कारण आभूषण कारोबारियों को दिक्कतें आ रही हैं इसलिए हॉलमार्किंग ( Hallmark Gold Jewellery ) की अनिवार्यता लागू करने की समय सीमा बढ़ाकर जून कर दी गई है। 15 जनवरी 2020 को सरकार ने नोटिफिकेशन जारी किया गया था। जिसके तहत एक साल में देश के लोगों को अपनी बिना हॉलमार्क की ज्वेलरी को हॉलमार्क कराने की बात कही गई थी। वहीं दूसरी ओर सरकार की ओर से बीआईएस केयर मोबाइल एप ( BIS Care Mobile App ) और तीन नए पोटर्ल भी लांच किए हैं। आइए आपको भी बताते हैं कि सरकार की ओर से सोना खरीदने और बेचने के नियमों को लेकर किस तरह की ढील और सुविधाएं दी हैं।

लांच किया मोबाइल ऐप
केंद्रीय मंत्री ने इस मौके पर भारतीय मानक ब्यूरो यानी बीआईएस का मोबाइल एप 'बीआईएस-केयर' मोबाइल ऐप लांच किया। इस मोबाइल ऐप से कंज्यूमर आईएसआई और हॉलमार्क गुणवत्ता प्रमाणित प्रोडक्ट्स की प्रामाणिकता की जांच कर सकता है। इस मोबाइल ऐप को किसी भी एंडॉयड फोन में डाउनलोड कर यूज किया जा सकता है। इसके अलावा बीआईएस के तीन पोर्टल भी लांच किए हैं। बीआईएस देश में मानक निर्धारित करने वाला राष्ट्रीय मानक निकाय है। अब तक, इसने 358 उत्पादों के लिए 20,866 मानक और अनिवार्य मानक निर्धारित किए हैं।

दर्ज करा सकते हैं शिकायत
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि बीआईएस-केयर मोबाइल ऐप पर गुणवक्ता की जांच के साथ शिकायत भी रजिस्टर कर सकते हैं। यि ऐप दोनों भाषाओं यानी हिंदी और अंग्रेजी में काम करता है। जिसे गूगल प्ले स्टोर से फ्री में डाउनलोड किया जा सकता है। केंद्रीय मंत्री ने बताया कि बीआईएस पर पोर्टल भी तैयार कर रहा है। जो कंज्यूमर के ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, प्रस्तावों को जमा कराने और उसके अनुमोदन और शिकायत प्रबंधन की सुविधा प्रदान करेगा। उन्होंने एक राष्ट्र, एक मानक के बारे में बोलते हुए कहा कि बीआईएस ने मानक निर्माण के सामंजस्य के उद्देश्य से देश में अन्य मानक विकास संगठनों की मान्यता के लिए एक योजना तैयार की है। जिसकी टेस्टिंग के बाद जल्द शुरू किया जाएगा।

coronavirus
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned