Farmer Protest: भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष का बड़ा आरोप, कांग्रेस के खरीदे हुए संगठन कर रहे थे प्रदर्शन

Highlights

  • राष्ट्रीय अध्यक्ष भानु प्रताप सिंह का कहना है कि कांग्रेस इनको फंडिंग कर रही थी।
  • तीन दिन पहले भी उन्होंने कहा था कि राकेश टिकैत के पास पैसा है, वे कहीं भी आंदोलन करें।

नई दिल्ली। किसान आंदोलन (Farmer Protest) को लेकर भारतीय किसान यूनियन (भानु) ने बड़ा आरोप लगाया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष भानु प्रताप सिंह का कहना है कि 26 जनवरी को हमें मालूम पड़ा था कि जितने भी संगठन सिंघु बॉर्डर, गाज़ीपुर बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे थे। ये सब कांग्रेस के खरीदे हुए और कांग्रेस के भेजे हुए संगठन थे। कांग्रेस इनको फंडिंग कर रही थी।

ये भी पढ़ें: कृषि कानूनों का विरोध : 70वें दिन भी जारी रहा किसानों का प्रदर्शन, राकेश टिकैत भी हुए शामिल, देखें वीडियो

राकेश टिकैत के पास पैसा है, वे कहीं भी आंदोलन करें: भानु

राष्ट्रीय अध्यक्ष भानु प्रताप सिंह ने 3 दिन पहले राकेश टिकैत पर बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि राकेश टिकैत के पास पैसा है। उनका जहां मन है, वे वहां जाएं। वे लंदन जाए, अमरीका जाएं, जापान जाएं, चंद्रमा पर जाएं। मुझे इससे क्या लेना देना है। ये बयान भानु ने राकेश टिकैत द्वारा अलग-अलग जिलों में किसान पंचायतों में जाने पर दिया था।

उन्होंने कहा था कि किसानों की समस्याओं का जो समाधान होना था, मगर राकेश टिकैत राजनीतिक दलदल में फंस गया है। किसान नेता राजनीतिक पार्टियों के साथ मिलकर अलग-अलग तरीके अपना रहे हैं। यह किसान हित में नहीं है।

Congress
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned