NIA जांच में बड़ा खुलासा, लश्कर आतंकी हिदायतुल्ला की जम्मू में बड़ी वारदात को अंजाम देने की थी योजना

  • 6 फरवरी को दर्ज किया था मुकदमा।
  • 2018 और 2019 में भी सुरक्षा ठिकानों की रेकी की थी।

नई दिल्ली। राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने लश्कर-ए-मुस्तफा आतंकी संगठन के प्रमुख हिदायतुल्ला मलिक के मामले की जांच का जिम्मेदारी पूरी तरह से ले ली है। एनआईए के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया है कि हिदायतुल्लाह मलिक से पूछताछ में पता चला है कि उसका इरादा जम्मू और उसके आसपास के इलाकों में तबाही मचाना था। साथ ही इस बात का भी पता चला है कि आतंकी हिदायतुल्लाह इसके पहले भी अन्य आतंकवादी संगठनों में भी शामिल रहा है।

लश्कर आतंकी हिदायतुल्ला ने 2018 और 2019 में जम्मू और दिल्ली में अनेक सुरक्षा संस्थानों और अहम लोगों के बारे में रेकी की थी। उसकी इस रेकी का मकसद आतंकवादी घटनाओं को अंजाम देना बताया गया है।

बता दें कि 6 फरवरी को हिदायतुल्ला को जम्मू से गिरफ्तार किया गया था। जम्मू इलाके में आतंकवादी साजिश रचने के आरोप में एनआईए ने आतंकवादी संगठन जैश ए मोहम्मद से संबंधित दूसरे संगठन लश्कर ए मुस्तफा के खिलाफ विभिन्न अपराधिक धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इस मामले में स्थानीय पुलिस ने लश्कर ए मुस्तफा के प्रमुख को गिरफ्तार कर गोला बारूद बरामद किया था। यह भी आरोप था कि लश्कर ए मुस्तफा की प्रमुख ने दिल्ली तथा अन्य जगहों पर रेकी भी की थी।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned