scriptMonsoon will be delayed 4th time in 6 years, imd has given big reason | 6 साल में चौथी बार देरी से होगी मानसून की एंट्री, मौसम विभाग ने बताई बड़ी वजह | Patrika News

6 साल में चौथी बार देरी से होगी मानसून की एंट्री, मौसम विभाग ने बताई बड़ी वजह

locationनई दिल्लीPublished: May 31, 2021 01:31:11 pm

Submitted by:

Saurabh Sharma

2017 और 2018 (क्रमश: 30 और 29 मई) को छोड़कर, मानसून में हमेशा कुछ दिनों की देरी हुई है। 2020 में, इसके 1 जून को हिट होने का अनुमान था, लेकिन यह 5 जून को शुरू हुआ। साल 2019 में, इसकी भविष्यवाणी 6 जून को की गई थी, लेकिन यह 8 जून को शुरू हुई और 2016 में 8 जून को एक दिन की देरी हुई।

Monsoon will be delayed 4th time in 6 years, imd has given big reason
Monsoon will be delayed 4th time in 6 years, imd has given big reason

नई दिल्ली। केरल में मॉनसून की शुरूआत में कुछ दिनों की देरी हुई है और अब इसके 3 जून को होने की संभावना है। इसकी वजह ये मानी जा रही है कि मंगलवार से दक्षिण-पश्चिमी हवाएं धीरे-धीरे मजबूत हो रही हैं, जिसके परिणामस्वरूप बारिश की गतिविधि में वृद्धि की संभावना है। खास बात तो ये है कि 6 साल में चौथा ऐसा साल है जब मानसून तय समय से देरी से आ रहा है। 2017 और 2018 (क्रमश: 30 और 29 मई) को छोड़कर, मानसून में हमेशा कुछ दिनों की देरी हुई है। 2020 में, इसके 1 जून को हिट होने का अनुमान था, लेकिन यह 5 जून को शुरू हुआ। साल 2019 में, इसकी भविष्यवाणी 6 जून को की गई थी, लेकिन यह 8 जून को शुरू हुई और 2016 में 8 जून को एक दिन की देरी हुई।

देरी का कारण
भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) की सोमवार सुबह की रिपोर्ट के अनुसार, दक्षिण पश्चिम मानसून की उत्तरी सीमा 5 डिग्री उत्तर और 72 डिग्री पूर्व, 6 डिग्री एन और 75 डिग्री ई, 8 डिग्री एन और 80 डिग्री ई, 12 डिग्री एन से गुजरती है। भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा कि निचले स्तर की दक्षिण-पश्चिमी हवाओं के मजबूत होने के कारण, अगले पांच दिनों के दौरान पूर्वोत्तर राज्यों में अलग-अलग भारी गिरावट के साथ व्यापक रूप से व्यापक वर्षा गतिविधि होने की संभावना है। मौसम विभाग ने इन परिवर्तनों के पीछे पश्चिमी विक्षोभ का कारण माना है, जो मध्य और ऊपरी क्षोभमंडल में एक ट्रफ है, जिसकी धुरी औसत समुद्र तल से 5.8 किमी ऊपर है। ये लगभग 72 डिग्री ई अक्षांश के उत्तर में 30 डिग्री एन अक्षांश के साथ है।

अधिकतम तापमान में बदलाव की संभावना नहीं
आईएमडी ने आगे कहा कि उत्तर अरब सागर से उत्तर पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों में निचले स्तर की नमी आ रही है और अगले 3-4 दिनों तक इसके जारी रहने की संभावना है। मौसम विभाग ने कहा कि इसके प्रभाव में अगले पांच दिनों के दौरान अधिकतम तापमान में कोई खास बदलाव की संभावना नहीं है। इसके अलावा, अगले 4-5 दिनों के दौरान पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र और उत्तर पश्चिमी भारत के आसपास के मैदानी इलाकों में छिटपुट वर्षा और गरज के साथ छींटे पडऩे की संभावना है। आईएमडी ने कहा कि समुद्र के स्तर से 3.1 किमी ऊपर कर्नाटक तट से पूर्व मध्य अरब सागर पर चक्रवाती परिसंचरण बना रहता है और अगले पांच दिनों के दौरान इस क्षेत्र में घूमने की संभावना है। अगले 2-3 दिनों के दौरान दक्षिण-पश्चिमी हवाएं भी तेज होने की संभावना है।

यहां हो सकती है बारिश
इन और अन्य अनुकूल मौसम संबंधी परिस्थितियों के प्रभाव में, आईएमडी ने आगे कहा, कर्नाटक, केरल और माहे में काफी व्यापक वर्षा या गरज के साथ छींटे पडऩे की संभावना है और अगले 4-5 के दौरान दक्षिण प्रायद्वीपीय भारत के शेष हिस्सों में छिटपुट वर्षा या गरज के साथ छींटे पडऩे की संभावना है। आईएमडी ने कहा कि अगले 5 दिनों के दौरान केरल और माहे में भी भारी बारिश की संभावना है, 1-3 जून को तटीय कर्नाटक और 2-3 जून को दक्षिण आंतरिक कर्नाटक में बारिश होने की संभावना है। इसके अलावा, 5-7 जून के लिए मौसम का दृष्टिकोण भी व्यापक रूप से व्यापक वर्षा और गरज के साथ पूर्वोत्तर भारत में अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा का अनुमान लगाता है। हालांकि, आईएमडी ने कहा, देश के बाकी हिस्सों में मौसम शुष्क रहने की संभावना है।

सम्बधित खबरे

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.