ट्रेन के किराए के बाद, नीतीश सरकार महिलाओं व पुरुषों को देने जा रही बड़ी सौगात, साथ में मिलेगी नौकरी भी

Highlights

-नीतीश सरकार ने एक बार फिर मजदूरों को बड़ी सौगाती देते हुए फैसला लिया है कि 21 दिन का क्वारनटीन पीरियड पूरा करने के बाद मजदूरों का जॉब कार्ड बनाया जाएगा

-प्रवासी मजदूरों को वेलकम किट के साथ साथ मच्छरदानी देने का प्रावधान किया है

-समस्तीपुर जिला प्रशासन ने उनके लिये वेलकम किट का इंतजाम किया है

 


नई दिल्ली. लॉकडाउन (Lockdown 3.0) में फंसे बिहार के अप्रवासी लोगों के बिहार आने को लेकर रेल किराए पर छिड़े विवाद पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Government) ने साफ कर दिया था कि बाहर से आने वाले छात्रों और मजदूरों का किराया बिहार सरकार वहन करेगी। लॉकडाउन में फंसे मजदूर जब 40 दिन लंबे इंतजार के बाद नीतीश सरकार ने एक बार फिर मजदूरों को बड़ी सौगाती देते हुए फैसला लिया है कि 21 दिन का क्वारनटीन पीरियड पूरा करने के बाद मजदूरों का जॉब कार्ड बनाया जाएगा और उन्हें मनरेगा के तहत रोजगार दिया जाएगा।

पुरुषों व महिलाओं को देगी डिग्निटी किट

इसके साथ ही क्वारनटीन सेंटर में मच्छरों की शिकायत के बाद बाहर से आने वाले प्रवासी मजदूरों को वेलकम किट के साथ साथ मच्छरदानी देने का प्रावधान किया है। समस्तीपुर जिला प्रशासन ने उनके लिये वेलकम किट का इंतजाम किया है। क्वारंटाइन सेंटर में रखने से पहले उन्हें वेलकम किट दिया जा रहा है। पुरुषों को मिलने वाले वेलकम किट में गमछा, लुंगी, गंजी, शीशा, कंघी, ब्रश नहाने के लिये बाल्टी के साथ-साथ मच्छरदानी मौजूद रहेगा। वैसे ही महिलाओं के लिए वेलकम किट में साया, ब्लाउज, कंघी, ग्लास, सेनेटरी नैपकिन, बाल्टी और मच्छरदानी रहेगा। प्रशासन ने इसे डिग्निटी किट का नाम दिया है।

रोजेदारों का भी रखा खास ध्यान

डीएम ने क्वारनटीन सेंटर के प्रभारी को रोजेदारों के लिए सेहरी और इफ्तार का प्रबंध कराने को कहा है। इसके साथ ही प्रशासन ने कहा है कि प्रवासी मजदूरों का 21 दिनों की क्वारनटीन अवधि जैसे ही पूरी होती है मनरेगा के तहत उनका जॉब कार्ड बनवाया जाएगा और उन्हें नौकरी दी जाएगी।

शौचालय पर प्रशासन का विशेष ध्यान

क्वारनटीन सेंटर में खाने की शिकायत मिलने पर समस्तीपुर के डीएम ने कहा कि खाने और शौचालय पर प्रशासन का विशेष ध्यान है। डीएम ने कहा कि प्रशासन हर क्वारनटीन सेंटर के लिए वहीं पर खाना बनाने की व्यवस्था कर रहा है। इसके साथ-साथ रमजान का भी महीना है, इसलिए रोजेदारों के लिए सुबह शाम अलग से व्यवस्था कराई जा रही है।

coronavirus Coronavirus in india
Show More
Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned