1 सितंबर से Ola-Uber के ड्राइवर्स कर सकते हैं हड़ताल, सरकार से की लोन मोरेटोरियम बढ़ाने की मांग

  • Ola-Uber Cab Drivers Strike : ड्राइवर्स एसोसिएशन की ओर से सरकार को पत्र भेजकर मांगे पूरी किए जाने की अपील की गई
  • ड्राइवर्स के मुताबिक ज्यादातर लोगों के वर्क फ्रॉम होम करने से रोजाना के टारगेट नहीं हो रहे पूरे

By: Soma Roy

Published: 28 Aug 2020, 09:21 AM IST

नई दिल्ली। कोरोना काल (Coronavirus Pandemic) में लोगों पर एक के बाद एक मुसीबत आ रही है। आम जनता जहां ट्रांसपोर्टेशन की पर्याप्त सुविधा न होने से पहले से ही परेशान है। वहीं अब उनसे कैब फैसिलिटी (Cab Facility) भी छिनने वाली है। दरअसल देश की सबसे लोकप्रिय कैब सर्विस कंपनीज ओला और उबर Ola-Uber के ड्राइवर्स हड़ताल (Drivers Strike) पर जाने की बात कह रहे हैं। वे सरकार से लोन मोरेटोरियम को बढ़ाने समेत अन्य मांगों को मानने की बात कह रहे हैं। इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि मांगे न माने जाने पर वे 1 सितंबर से हड़ताल पर जाएंगे। ऐसा होने से लोगों को दफ्तर एवं इमरजेंसी में घर से बाहर जाने की दिक्कतों का समाना करना पड़ेगा।

दिल्ली के सर्वोदय ड्राइवर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष के मुताबिक समस्याओं को हल न मिलने पर कैब एग्रीगेटर्स के साथ काम करने वाले लगभग 2 लाख ड्राइवर हड़ताल में शामिल होंगे। उन्होंने यह भी कहा कि लॉकडाउन के बाद से इंडस्ट्री की हालत खराब हो गई है। ज्यादातर लोग अभी भी घर से काम कर रहें हैं जिसके चलते ग्राहकों की संख्या घटकर केवल 10% रह गई है। ऐसे में ड्राइवर्स को रोज का टारगेट पूरा करना काफी मुश्किल हो गया है। इसी सिलसिले में एसोसिएशन की ओर से प्रधानमंत्री, केंद्रीय वित्त और परिवहन मंत्री को ईएमआई का भुगतान में इस साल 31 दिसंबर तक छूट देने की अपील करते हुए एक पत्र भेजा गया है।

एसोसिएशन की ओर से कैब ड्राइवरों ने एक पर्चें पर अपनी मांगे छपवाई है, जो तेजी से सुर्कलेट हो रही हैं। इस पर्चे में लिखे गए मांगों में कैब एग्रीगेटर्स की ओर से कमीशन में बढ़ोतरी, तेज गति से गाड़ी चलाने के खिलाफ जारी ई-चालान को वापस लेने एवं लोन में छूट दिए जने की बाते हैं। ड्राइवर्स का कहना है कि टारगेट पूरा न होने से उन्हें वेतन एवं कमीशन मिलने में दिक्कतें आ रही हैं। ऐसे में सरकार को उनकी मदद करनी चाहिए। जिससे वे कोरोना की इस मुश्किल घड़ी में अपने परिवार के साथ गुजारा कर सके।

Show More
Soma Roy Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned