PM Modi बोले - प्री नर्सरी से पीएचडी तक की शिक्षा में होगा बड़ा बदलाव

  • साइंटिफिक मामले में भारत टॉप तीन देशों में शामिल है।
  • युवाओं को खुद पर विश्वास करना होगा।

 

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वे उच्च शिक्षा में बजट विषय पर एक वेबिनार में कहा कि देश को अच्छे शोध संस्थानों की जरूरत है। पहली बार शोध रिसर्च फाउंडेशन की स्थापना हुई है। नई शिक्षा नीति के तहत प्री नर्सरी से पीएचडी तक की शिक्षा में बड़ा बदालव होगा।

उन्होंने कहा कि युवाओं को खुद पर विश्वास करना होगा। नई शिक्षा नीति में सबका साथ जरूरी है। युवाओं वैज्ञानिकों के लिए बेहतर अवसर के बढ़ रहे हैं। बजट में कौशल विकास पर सबसे ज्यादा जोर विद्या धन और विद्या दान पर देने की जरूरत है।

बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ग्लोबल डिमांड को देखते हुए देश में स्किल तैयार की जाए। ताकि युवाओं को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मौका मिल सके। पीएम मोदी ने कहा कि प्राइमरी से लेकर उच्च शिक्षा तक भारतीय भाषाओं में कंटेंट को तैयार करना होगा। पीएम मोदी ने कहा कि भाषा के कारण गरीब के टैलेंट को मरने नहीं देना चाहिए।

देश आज अपने इकोसिस्टम को ट्रांसफोर्म करने की ओर बढ़ रहा है। नई शिक्षा नीति में लोगों से विचार लिए गए थे। बजट में जो नई चीजें जोड़ी गई हैं उन्हें लागू करना है। पीएम ने कहा कि आज साइंटिफिक मामले में भारत टॉप तीन देशों में है।

pm modi Narendra Modi
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned