संसद की रक्षा समिति के अध्यक्ष ने राहुल गांधी को घेरा, कहा - एक तो मीटिंग में आते नहीं, आ गए तो एजेंडा पर नहीं करते बात

  • देश की सुरक्षा मसलों को लेकर राहुल गांधी गंभीर नही।
  • रक्षा समिति की बैठकों में सूचना देने पर भी नहीं आते।

नई दिल्ली। पिछले कुछ दिनों से राहुल गांधी लगातार केंद्र सरकार पर हमला बोल रहे हैं। लेकिन अब बीजेपी के नेताओं उन्हें घेरना शुरू कर दिया है। ताजा मामले में संसद की रक्षा समिति के अध्यक्ष जुअल ओराम ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि एक तो राहुल गांधी सूचना देने पर भी बैठक में आते नहीं, अगर आ भी गए तो एजेंडे पर बात नहीं करते।

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के न आने से समिति की कार्यवाही को हम प्रभावित नहीं होने देते। समिति अपने एजेंडे पर चर्चा करती है और जरूरी सुझाव व रिपोर्ट तैयार करती है। यह सिलसिला हमेशा की तरह जारी है।

रक्षा समिसति के सदस्य करेंगे पैंगोंग और गलवान घाटी का दौरा

भारत-चीन के बीच सीमा समझौते के बाद पूर्वी लद्दाख से लगे एलएसी से डिसइंगेजमेंट जारी है। इस बीच खबर है कि रक्षा मामलों पर संसद की स्थायी समिति ने पैंगोंग झील और गलवान घाटी का दौरा करने का फैसला लिया है। वास्तविक नियंत्रण रेखा पर जाने के लिए समिति को सरकार से भी मंजूरी लेनी होगी।

बता दें कि भारत और चीन के लिए सीमा विवाद को लेकर नौ महीनों से तनाव जारी था। इस विवाद को लेकर दोनों देशों की सेनाओं एक समझौता किया है। समझौते के अनुरूप पैंगोंग त्सो से डिसइंगेजमेंट जारी है।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned