रणदीप सुरजेवाला: CJI ने उन्नाव रेप मामले पर लिया संज्ञान, अब होगा न्याय

रणदीप सुरजेवाला: CJI ने उन्नाव रेप मामले पर लिया संज्ञान, अब होगा न्याय

  • Unnao rape case को लेकर सुप्रीम कोर्ट सख्‍त
  • योगी सरकार न्‍याय दिलाने में पूरी तरह से फेल
  • सीबीआई का जिम्‍मेदार अधिकारी कोर्ट में रहे मौजूद

नई दिल्‍ली। गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के बाद कांग्रेस प्रवक्‍ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने उन्‍नाव रेप केस के मुद्दे पर एक बार योगी सरकार को घेरा है। उन्‍होंने कहा कि प्रधान न्‍यायाधीश रंजन गोगोई ने इस मामले में संज्ञान लिया है।

अब इस बात की उम्‍मीद की जा सकती है कि न्याय होगा। उन्‍होंने कहा कि अभी तक पीड़िता और उसके परिवार को मिलने वाले कई धमकियों को यूपी सरकार और स्‍थानीय प्रशासन ने नजरअंदाज किया।

उन्नाव कांड पर योगी सरकार को निशाने पर लेते हुए कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि इस मामले में यूपी सरकार पीड़िता और उसके परिजनों को सुरक्षा मुहैया कराने और न्‍याय दिलाने में फेल साबित हुई है।

इससे पहले गुरुवार को बहुचर्चित उन्नाव रेप केस पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट के प्रधान न्‍यायधीश रंजन गोगोई ने सख्‍त रुख का संकेत दिया है। उन्‍होंने कहा है कि उन्‍नाव रेप केस से जुड़े चारो मामले दिल्‍ली ट्रांसफर होंगे।

CBI 12 बजे तक मांगी स्‍टेटस रिपोर्ट

सीजेआई रंजन गोगोई ने उन्‍नाव रेप केस मामले में जांच कर रही केंद्रीय जांच एजेंसी ( CBI ) से स्टेटस रिपोर्ट 12 तक मांगी है। सीजेआई ने कहा कि जरूरत पड़ी तो चैंबर में भी सुनवाई संभव है।

 

सीबीआई के जिम्‍मेदार अधिकारी को कोर्ट में मौजूद रहने का निर्देश

सुप्रीम कोर्ट में इस मामले की सुनवाई के दौरान सॉलिसिटर जनरल ने कहा कि सीबीआई के जांच अधिकारी लखनऊ में हैं। अगर अधिकारी फ्लाइट से भी आते हैं तो वह 12 बजे तक नहीं पहुंच पाएंगे। स्टेटस रिपोर्ट 12 से पहले पेश नहीं किया जा सकेगा।

इस पर सीजेआई जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि फोन पर स्टेटस रिपोर्ट लें। सीबीआई कोर्ट में पेश होने के लिए किसी अधिकारी को प्रतिनियुक्त करे। सीबीआई से कहा है इस मामले में जिम्‍मेदार अधिकारी को कोर्ट में मौजूद रहने को कहा है।

ranjan gogoi

सीबीआई कर रही है मामले की जांच

बता दें कि रविवार को उन्‍नाव गैंगरेप पीड़िता, उसकी चाची और मौसी अपने वकील महेंद्र के साथ रायबरेली जेल में बंद अपने रिश्तेदार से मुलाकात करने जा रही थी। रास्ते में रायबरेली के गुरबख्श गंज क्षेत्र में उनकी कार और एक ट्रक के बीच संदिग्ध परिस्थितियों में टक्कर हो गई।

इस हादसे में पीड़िता की चाची और मौसी ने दम तोड़ दिया। पीड़िता की हालत नाजुक है। केंद्र ने उत्तर प्रदेश सरकार की सिफारिश पर मंगलवार को इस मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी थी।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned