कॉरपोरेट टैक्स के बाद अब सरकार इनकम टैक्स स्लैब में दे सकती है छूट

कॉरपोरेट टैक्स के बाद अब सरकार इनकम टैक्स स्लैब में दे सकती है छूट

Saurabh Sharma | Updated: 25 Sep 2019, 01:44:01 PM (IST) म्‍युचुअल फंड

  • मांग को बढ़ावा देने के लिए व्यक्तिगत आयकर पर मिल सकती है बड़ी छूट
  • डीटीसी की सिफारिशों पर अमल करते हुए कर की दरों में की जाएगी कटौती
  • 5 लाख रुपए तक की कमाई वालों को आयकर से मिल सकती है पूरी छूट

नई दिल्ली। कॉरपोरेट के लिए बड़ी कर छूट की सौगात के बाद मोदी सरकार अब जल्द ही व्यक्तिगत आयकर के लिए बड़ी राहत का ऐलान कर सकती है, जिसके लिए कर के स्लैब में बड़ा फेर-बदल करने की तैयारी चल रही है। प्रत्यक्ष कर संहिता (डीटीसी) पर कार्यबल की सिफारिशों पर अमल करते हुए कर की दरों में कटौती की जाएगी।

यह भी पढ़ेंः- प्याज पर मोदी सरकार की बड़ी राहत, 24 रुपए प्रति किलो में बेचने के आदेश

मध्य वर्ग को तत्काल राहत पहुंचाने के लिए सरकार अध्यादेश के माध्यम से दरों में कटौती कर सकती है। इस कदम से नौकरीपेशा वर्ग के लाखों लोगों को फायदा होगा, जिनका वेतन अर्थव्यवस्था में सुस्ती के कारण काफी कम बढ़ा है या बिलकुल नहीं बढ़ा है। सिफारिशों के तहत, पांच लाख रुपये तक की कमाई वालों को आयकर से पूरी तरह छूट दी जा सकती है। फिलहाल यह छूट 2.5 लाख रुपये तक की आय वालों को उपलब्ध है। अभी पांच लाख तक की आय कर मुक्त है लेकिन इससे अधिक होने पर कर की गणना ढाई लाख से होती है।

यह भी पढ़ेंः- आरबीआई का बड़ा आदेश, इस बैंक से 6 महीने में 1000 रुपए ही कर सकेंगे विदड्रॉल

पांच लाख रुपए से 10 लाख रुपए कमाने वालों के लिए कर की दर घटकर 10 फीसदी की जा सकती है। वहीं, 10 से 20 लाख रुपए सालाना कमाने वालों को 20 फीसदी कर देना होगा। कार्यबल की सिफारिशों में कहा गया है कि 20 लाख रुपये से दो करोड़ रुपए तक की आय पर 30 फीसदी और इससे अधिक आय पर 35 फीसदी आयकर लगाया जाना चाहिए। कार्यबल ने आयकर पर लगाए गए अभिभारों और उपकरों को हटाने का सुझाव दिया है। टैक्स कनेक्ट के पार्टनर और सह-संस्थापक विवेक जालान का कहना है, "मांग बढ़ाने के लिए जरूरी है कि लोगों के हाथ में ज्यादा पैसा आए। इससे उनकी खरीद की क्षमता बढ़ेगी।"

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned