खुद का कारोबार करने के लिए 20 लाख रुपये दे रही सरकार, जानिए कैसे उठाएं फायदा

खुद का कारोबार करने के लिए 20 लाख रुपये दे रही सरकार, जानिए कैसे उठाएं फायदा

Ashutosh Kumar Verma | Publish: Jul, 26 2019 02:51:23 PM (IST) | Updated: Jul, 26 2019 02:53:35 PM (IST) म्‍युचुअल फंड

  • मुद्रा स्कीम के तहत अधिक लोन लेने की सीमा 20 लाख रुपये हुई।
  • सूक्ष्म, लघु एवं मध्य उद्योग मंत्री नीतिन गडकरी ने संसद में दी जानकारी।

नई दिल्ली। अगर आप भी खुद का कारोबार शुरू करना चाहते हैं तो सरकार आपको 20 लाख रुपये का लोन देगी। इसके पहले यह सीमा 10 लाख रुपये की ही थी। इस संबंध में सूक्ष्म, लघु एवं मध्य उद्योग मंत्री नीतिन गडकरी ( Nitin Gadkari ) ने संसद में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक ( Reserve Bank of India ) द्वारा बनाई गई कमेटी ने मुद्रा लोन ( mudra loan ) के तहत सीमा 10 लाख रुपये से बढ़ाकर 20 लाख रुपये कर दिया है।

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना ( Pradhanmantri Mudra Yojna ) को साल 2015 में शुरू किया गया था। इस योजना के तहत खुद का कारोबार शुरू करने के लिए सरकार बिना गारंटी के लोन उपलब्ध कराती है।

यह भी पढ़ें - बाबा रामदेव की हुई रुचि, रुचि सोया के अधिग्रहण के लिए एनसीएलटी ने दी मंजूरी

चार साल में 19 करोड़ लोगों ने लिया लाभ

केंद्र सरकार ने इस योजना की शुरुआत इस उद्देश्य से किया था कि देश के युवा उद्यमी बनने की दिशा में खुद का कारोबार शुरू कर सकें। साथ ही नए कारोबार के जरिये अधिक से अधिक संख्या में रोजगार भी उपलब्ध हो सके। सरकार का मानना था कि इस योजना से स्वरोजगार के साथ-साथ छोटे उद्यमों के जरिये रोजगार का सृजन भी किया जा सके। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक इस योजना के तहत अभी तक कुल 19 करोड़ लोगों को लोन दिया जा चुका है।

तीन कैटेगरी के तहत दिया जाता है लोन

मौजूदा नियमों के मुताबिक, मुद्रा योजना के तहत तीन कैटेगरी में लोन दिया जाता है। पहले कैटेगरी को शिशु लोन कहा जाता है, जिसके तहत 50 हजार रुपये तक का लोन दिया जाता है। दूसरे कैटेेगरी का नाम किशोर लोन है और इस योजना के तहत 50 हजार रुपये से लेकर 5 लाख रुपये का लोन दिया जाता है। जबकि, तीसरे कैटेगरी का नाम तरुण लोन है। इस कैटेगरी में छोटे कारोबारियों को 5 से 10 लाख रुपये का लोन दिया जाता है। अब सरकार का कहना है कि इस स्कीम के तहत लोन देने की अधिकतम सीमा बढ़ाकर 20 लाख रुपये कर दिया गया

यह भी पढ़ें - RBI गवर्नर शक्तिकांत दास को उम्मीद, जल्द रफ्तार पकड़ेगा NBFC सेक्टर

इन बैंकों से ले सकते हैं लोन

यदि आप भी खुद का कारोबार शुरू करना चाहते हैं तो इस स्कीम के तहत लोन ले सकते हैं। इसके लिए आप देश के किसी भी अधिकृत सरकारी बैंक से संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा प्राइवेट बैंकों में एक्सिस बैंक, एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, सिटी यूनियन बैंक, डीसीबी बैंक, फेडरल बैंक, इंडसइंड बैंक, जम्मू एंड कश्मीर, कर्नाटक बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, नैनीताल बैंक, साउथ इंडियन बैंक, आईडीएफसी बैंक और यस बैंक से भी संपर्क कर सकते हैं। इसमें रूरल व कोऑपरेटिव बैंक भी शामिल हैं।

क्या है प्रक्रिया

हालांकि, इस लोन के अतहत कोई निश्चित ब्याज दर तय नहीं है। इस स्कीम के तहत अलग-अगल बैंक या वित्तीय संस्थाएं अपने हिसाब से ब्याज वसूलते हैं। अधिकतर बैंक इस पर न्यूनतम ब्याज दर 12 फीसदी ही वसूलते हैं। लोन लेने के लिए आपको बैंक ब्रांच में आवेदन करना होगा। बैंक आपसे कुछ जरूरी डॉक्युमेंट्स मांगेगा। बैंक मैनेजर इनका वेरिफिकेशन करने के बाद आप लोन को मंजूरी दे देगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned