इन बैंकों में मिलता है सबसे सस्ता एजुकेशन लोन, जानिए कितनी कम चुकानी पड़ती है ईएमआई

  • यूनियन बैंक से लेकर आईडीबीआई जैसे बैंकों के नाम हैं सबसे सस्ता एजुकेशन लोन देने की लिस्ट में शामिल
  • 12 नवंबर 2020 के अनुसार यूनियन बैंक देता है 6.8 फीसदी के सालाना ब्याज दर पर एजुकेशन लोन

By: Saurabh Sharma

Updated: 20 Nov 2020, 09:34 AM IST

नई दिल्ली। देश में उच्च शिक्षा का महत्व कितना बढ़ गया है यह बात सभी को मालूम है। मौजूदा समय में हर किसी की ख्वाहिश होती है कि वो अपने बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए विदेश भेजे। लेकिन हर किसी के पास इतना रुपया नहीं कि वो अपना सपना पूरा कर सके। इसके लिए बैंक उनके सपने को पूरा करते हैं एजुकेशन लोन देकर। जिसे बच्चे या पेरेंट्स दोनों में कोई भी ले सकता है और आसानी से चुका सकता है। यहां आपको बताना काफी जरूरी है कि आखिर देश के ऐसे कौन से बैंक हैं जो सबसे सस्ता एजुकेशन लोन देते हैं। आइए आपको भी बताते हैं।

यूनियन बैंक देता है सबसे सस्ता एजुकेशन लोन
सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक प्रमुख यूनियन बैंक ऑफ इंडिया वर्तमान में एजुकेशन लोन में सबसे कम ब्याज दर प्रदान करता है, जो कि सात साल के टेन्योर के साथ 20 लाख रुपए के लोन के लिए 6.8 फीसदी से शुरू होता है। ऋण एग्रीगेटर फर्म बैंकबाजार के आंकड़ों के अनुसार, एजुकेशन लोन पर सबसे सस्ती ब्याज दरों की पेशकश करने वाले लेंडर्स की लिस्ट में 9 अन्य बैंक भी शामिल हैं।

photo_2020-11-20_09-29-01.jpg

इन बैंकों में यह है ब्याज
यूनियन बैंक के बाद सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ इंडिया और बैंक ऑफ बड़ौदा सबसे सस्ता एजुकेशन लोन प्रदान करते हैं। इन तीनों बैंकों से 6.85 फीसदी पर एजुकेशन लोन लिया जा सकता है। उसके बाद देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक और पंजाब नेशनल बैंक का नाम आता है। दोनों बैंक सात साल के टेन्योर के साथ 20 लाख का एजुकेशन लोन 6.9 फीसदी की ब्याज दर से प्रदान करते हैं।

7 फीसदी से ज्यादा एजुकेशन लोन देने वाले बैंक
इस फेहरिस्त में 7 और उससे ज्यादा की दर से एजुकेशन लोन देने वाले 4 बैंक शामिल हैं। जिसमें इंडियन बैंक और आईडीबीआई शामिल हैं। यह दोनों बैंक 7.15 फीसदी की दर से एजुकेशन लोन देते हैं। बैंक ऑफ महाराष्ट्र 7.20 फीसदी की दर से एजुकेशन लोन देता है। जबकि इंडियन ओवरसीज बैंक इस फेहरिस्त में सबसे महंगा है, जो 7.25 फीसदी की दर से एजुकेशन लोन देता है। खास बात तो ये है कि यह दर एचडीएफसी की 9.55 फीसदी की दर से काफी सस्ता है।

टैक्स में मिलता है लाभ
एजुकेशन लोन चुकाने वालों को टैक्स लाभ भी दिया जाता है। यह लाभ धारा 80 ई के तहत उपलब्ध हैं। आठ साल की अवधि के लिए या जब तक ब्याज पूरी तरह से चुकाया नहीं जाता है, जो भी पहले हो, के तहत टैक्स में लाभ की सुविधा दी जाती है।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned