scriptअब 160 किलोमीटर प्रतिघंटा की गति से दौड़ेंगी रेलवे की 2200 ट्रेनें, मंत्रालय ने की खास तैयारी | 2200 Railway Trains Will Run At A Speed Of 160 Kilometers Per Hour Coach Change On Vandebhart Standard | Patrika News

अब 160 किलोमीटर प्रतिघंटा की गति से दौड़ेंगी रेलवे की 2200 ट्रेनें, मंत्रालय ने की खास तैयारी

locationनई दिल्लीPublished: Feb 04, 2024 04:51:31 pm

Submitted by:

Anand Mani Tripathi

Indian Railway : भारत की अब सभी ट्रेनें 160 किलोमीटर की गति से दौड़ेंगी। भारतीय रेलवे अब सभी कोच को इसी अनुरूप तैयार करने जा रही है।

2200_railway_trains_will_run_at_a_speed_of_160_kilometers_per_hour_coach_change_on_vandebhart_standard_.png

Indian Railway : भारत की अब सभी ट्रेनें 160 किलोमीटर की गति से दौड़ेंगी। भारतीय रेलवे अब सभी कोच को इसी अनुरूप तैयार करने जा रही है। यह कोच 160 से लेकर 200 किलोमीटर प्रतिघंटा की गति से दौड़ पाएंगे। अभी रेलवे के पास 40 हजार आईसीएफ कोच हैं। भारतीय रेलवे ने अभी इन्हें 2200 मेल-एक्सप्रेस ट्रेनों में लगाकर चला रहा है। इन्हें अगले पांच साल के अंदर पूरी तरह से वंदेभारत के मानक पर बदल दिया जाएगा।

स्टेनलेस स्टील के हैं कोच
वंदे भारत के कोच स्टेनलेस स्टील के बने हैं। इसलिए यह हल्के और मजबूत हैं। इसके कोव अधिकतम 160 से 200 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार पर दौड़ाने के लिए बने हुए हैं। कोच में ऑटोमेटिक दरवाजे लगे हैं, जो मेट्रो के दरवाजे की तरह खुलते हैं। यात्रियों की सुरक्षा के मद्देनजर ट्रेन के रुकने पर ही दरवाजे खुलते हैं।

तमिलनाडु में तैयार होते थे कोच
रेलवे ने आईसीएफ कोच बनाना बंद कर दिया है। रेलवे बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि दशकों पहले इंटीग्रल कोच फैक्टरी चेन्नई, तमिलनाडु में तैयार किए जाते थे। यह लोहे से बने होते थे। इसका वजन काफी होता था। दुर्घटना की स्थिति में यह कोच एक दूसरे पर चढ़ जाते थे। ऐसे में जानमाल का काफी नुकसान होता था। इसकी शयनयान श्रेणी में 72 और वातानुकूलित तृतीय श्रेणी में 62 सीट होती थी।

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो