scriptCM KCR's Party Backs Yashwant Sinha For President, what it means | यशवंत सिन्हा को समर्थन देगी TRS, क्या BJP के खिलाफ विपक्ष से हाथ मिला रहे KCR? | Patrika News

यशवंत सिन्हा को समर्थन देगी TRS, क्या BJP के खिलाफ विपक्ष से हाथ मिला रहे KCR?

KCR Back Yashwant Sinha: तेलंगाना के CM केसीआर ने राष्ट्रपति चुनाव के लिए विपक्षी उम्मीदवार यशवंत सिन्हा का समर्थन करने का निर्णय लिया है। क्या ये फैसला लेकर केसीआर ने अब विपक्ष से हाथ मिलाने का मन बना लिया है? क्या है उनकी योजना?

Updated: June 27, 2022 01:55:41 pm

तेलंगाना की राष्ट्र समिति (TRS) ने राष्ट्रपति पद के लिए विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा को समर्थन देने का निर्णय लिया है। पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष के टी रामाराव (KTR) ने जानकारी दी कि वो और सीएम के चंद्रशेखर राव आज यशवंत सिन्हा के नामांकन में शामिल होंगे। स्पष्ट है कि केसीआर NDA उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू का समर्थन नहीं करेंगे। केसीआर के इस निर्णय से सवाल उठने लगे हैं कि क्या अब उनका मन बदलने लगा है? क्या वो मोदी सरकार के खिलाफ विपक्ष से हाथ मिलाने को तैयार हैं? ये वही केसीआर हैं जिन्होंने कुछ दिनों पहले ही विपक्ष के साथ जाने से मना किया था।
CM KCR's Party Backs Yashwant Sinha For President, what it means
CM KCR's Party Backs Yashwant Sinha For President, what it means (PC: Telangana Today)
KTR ने ट्वीट कर दी जानकारी
राष्ट्रपति उम्मीदवार के रूप में केसीआर किसका समर्थन करेंगे अभी तक इसपर कोई स्पष्ट मत पार्टी का सामने नहीं आया था। अब TRS ने स्पष्ट कर दिया है कि वो विपक्ष के उम्मीदवार का समर्थन करेंगे। कार्यकारी अध्यक्ष के टी रामाराव (KTR) ने ट्वीट कर लिखा, "TRS पार्टी के अध्यक्ष KCR ने भारत के राष्ट्रपति चुनाव में यशवंत सिन्हा की उम्मीदवारी को समर्थन देने का फैसला किया है। हमारे सांसदों के साथ, मैं आज नामांकन में टीआरएस का प्रतिनिधित्व करूंगा।" TRS संसदीय नेता नामा नागेश्वर राव, सांसद रंजीत रेड्डी, सुरेश रेड्डी, बीबी पाटिल, वेंकटेश नेथा और के प्रभाकर रेड्डी केटीआर के साथ नामांकन कार्यक्रम में मौजूद रहेंगे।

KCR अब विपक्ष से हाथ मिलाने को तैयार?
ऐसा लगता है कि केसीआर अब बीजेपी विरोधी स्टैन्ड को महत्व देने के मूड में हैं। ये वही केसीआर हैं जिन्होंने कुछ समय पहले ये बयान दिया था कि केवल बीजेपी को हराने के उद्देश्य से वो किसी राजनीतिक मोर्चे का समर्थन नहीं करेंगे। यहाँ तक कि दिल्ली में ममता बनर्जी के नेतृत्व में हुई विपक्षी दलों की बैठक में भी वो शामिल नहीं हुए थे।
यह भी पढ़ें

सीएम गहलोत का आज दिल्ली दौरा, यूपीए के राष्ट्रपति पद उम्मीदवार के नामांकन में होंगे शामिल

केसीआर ने तब अपने बयान में कहा था, “कुछ अन्य दलों ने भी BJP को सत्ता से हटाने का मुद्दा उठाया। मैंने उनसे कहा कि हम इसे स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं हैं।" उन्होंने तब सांकेतिक भाषा में कहा था कि वो कांग्रेस से केवल इसलिए हाथ नहीं मिलाने वाले क्योंकि उनका एकमात्र एजेंडा बीजेपी को हराना है।

केटीआर को मिली बड़ी जिम्मेदारी?
हालांकि, NCP चीफ शरद पवार ने उन्हें मनाने के प्रयास किए थे और कहा था कि केसीआर के बिना विपक्ष अधूरा है। एक तरह से तेलंगाना के सीएम मंझधार में फंस गए हैं कि वो विपक्ष का समर्थन करें या न करें, खासकर तब जब उसमें कांग्रेस भी शामिल हो। हालांकि, भविष्य के समीकरणों को देखते हुए और राष्ट्रीय विकल्प के रूप में अपनी जगह बनाने के लिए उन्होंने बीच का रास्ता चुना है और शायद विपक्ष से हाथ मिलाने के लिए तैयार हो गए हैं ।
विपक्ष के साथ साँठ-गांठ करने के लिए उन्होंने केटीआर को आगे किया है जोकि लाभ के लिए स्थिति को अपने पक्ष में करने की काबिलियत रखेत हैं। केटीआर अब कैसे विपक्ष के साथ मिलकर केसीआर के लिए राष्ट्रीय राजनीति का मार्ग तैयार करेंगे ये देखना दिल्चस्प होगा।

यह भी पढ़ें

राष्ट्रपति चुनाव: विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा आज नामांकन दाखिल करेंगे





सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बीजेपी नेता श्रीकांत त्यागी पर बड़ा एक्शन, बुलडोजर से ढहाया जा रहा अवैध निर्माण, मिली लोकेशनMaharashtra Coal Scam: दिल्ली कोर्ट का फैसला- पूर्व कोयला सचिव एचसी गुप्ता को 3 और कंपनी डायरेक्टर को 4 साल की जेलMaharashtra: ‘डबल इंजन’ की सरकार का आम जनता को होगा डबल फायदा, पीएम मोदी ने सीएम शिंदे से किया यह वादाबिहार में सियासी उलटफेर की आंशका, CM नीतीश कुमार ने सोनिया गांधी से की बात, सभी विधायकों को बुलाया पटनाखाटूश्यामजी हादसा: दो शवों की भी हुई शिनाख्त, पीएम मोदी ने जताया दुख, सीएम ने की जांच व मुआवजे की घोषणाMaharashtra: महाराष्ट्र में मंत्रिमंडल विस्तार जल्द, जानें BJP में कब शुरू होगी प्रदेश अध्यक्ष बदलने की प्रक्रियावेंकैया नायडू को विदाई में पीएम मोदी भावुक, कहा - 'आपके साथ काम करना हमारा सौभाग्य'Bihar Politics: राजद और JDU मिल जाए तो बिहार में आराम से बन सकती है सरकार, जानिए क्या है आंकड़े
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.