scriptFriends killed ACP's lawyer son and threw him in the canal | कर्ज न चुकाने पर दोस्तों ने की हत्या, ACP के वकील बेटे को नहर में फेंका | Patrika News

कर्ज न चुकाने पर दोस्तों ने की हत्या, ACP के वकील बेटे को नहर में फेंका

locationनई दिल्लीPublished: Jan 27, 2024 02:39:17 pm

Submitted by:

Akash Sharma

Delhi Crime News: लक्ष्‍य चौहान अपने दोस्त विकास भारद्वाज और अभिषेक के साथ, सोनीपत में एक शादी में शामिल होने के लिए निकला घर से निकला था। वह जब अगले दिन घर नहीं लौटा, तो एसीपी यशपाल सिंह ने गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई। इसके बाद दिल्‍ली पुलिस ने लक्ष्‍य चौहान को लेकर सर्च ऑपरेशन शुरू किया।

मृतक लक्ष्‍य चौहान की फाइल फोटो
मृतक लक्ष्‍य चौहान की फाइल फोटो

दिल्ली पुलिस के एक सहायक आयुक्त (ACP) यशपाल सिंह के बेटे को उसके दोस्तों ने मार दिया। एसीपी का बेटा लक्ष्‍य चौहान का पैसों को लेकर उसके दोस्तों से था। इसी के चलते उसे हरियाणा में एक नहर में धक्का दे दिया। लक्ष्‍य दिल्‍ली की तीस हजारी कोर्ट में वकील था। आरोपी दोस्त लक्ष्‍य को बहाने से शादी समारोह में शामिल होने के लिए सोनीपत ले गए थे।

क्या था पूरा मामला
लक्ष्‍य के दोस्‍तों विकास भारद्वाज और अभिषेक पर एक सोची-समझी साजिश के तहत हत्‍या का मामला दर्ज किया है। दरअसल, सोमवार को लक्ष्‍य चौहान अपने दोस्त विकास भारद्वाज और अभिषेक के साथ, सोनीपत में एक शादी में शामिल होने के लिए निकला घर से निकला था। वह जब अगले दिन घर नहीं लौटा, तो एसीपी यशपाल सिंह ने गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई। इसके बाद दिल्‍ली पुलिस ने लक्ष्‍य चौहान को लेकर सर्च ऑपरेशन शुरू किया।

पैसे लेने का लगाया आरोप

जांच आगे बढ़ने पर पता लगा कि लक्ष्‍य चौहान और विकास भारद्वाज के बीच पैसों को लेकर विवाद था। इसी के चलते विकास भारद्वाज ने लक्ष्‍य चौहान की हत्‍या करने की योजना बनाई। विकास भारद्वाज ने आरोप लगाया है कि लक्ष्‍य चौहान ने उससे कर्ज लिया था। पैसे देने से लगातार इनकार कर रहा था। इसी वजह से दोनों के बीच तनाव बढ़ गया था।

ऐसे बनाई हत्या की योजना

एक सप्ताह तक चले लगातार चले सर्च ऑपरेशन के बाद अभिषेक को हिरासत में लिया गया। अभिषेक ने पूछताछ में खुलासा किया कि विकास भारद्वाज ने लक्ष्‍य चौहान को विवाह समारोह में आमंत्रित किया था। लक्ष्‍य और विकास दोनो में अनबन थी। इसी के चलते लक्ष्‍य की हत्या की योजना बनाई गई थी। आधी रात के बाद जब सभी शादी समारोह से निकले तब तीनों मुनक नहर के पास रुक गए। इसी मौके का फायदा उठाते हुए विकास और अभिषेक ने लक्ष्‍य चौहान को नहर में धक्का दे दिया। इसके बाद कार लेकर घटनास्थल से भाग निकले। वापस दिल्ली लौटने पर अभिषेक को नरेला में छोड़ कर विकास गायब हो गया। पुलिस ने अभिषेक को पकड़ा। उसके बयान के आधार पर मामला दर्ज किया गया। विकास अभी भी फरार है।
ये भी पढ़ें: हाईकोर्ट के दो जजों की लड़ाई पहुंची सुप्रीम कोर्ट, SC ने लगाई सीबीआई जांच पर रोक

ट्रेंडिंग वीडियो