scriptHajj pilgrims dying: 52°C में हज यात्रियों को बस के लिए 10 घंटे करना पड़ रहा है इंतजार, 40 किलोमीटर करनी पड़ रही है पैदल यात्रा | Hajj yatri dying in 52°C pilgrims have to wait for 10 hours for bus have to travel 40 kilometers on foot | Patrika News
राष्ट्रीय

Hajj pilgrims dying: 52°C में हज यात्रियों को बस के लिए 10 घंटे करना पड़ रहा है इंतजार, 40 किलोमीटर करनी पड़ रही है पैदल यात्रा

हज यात्रा पर पहुंचने वाले 1000 से ज्यादा यात्रियों की अबतक मौत हो चुकी है। भयंकर गर्मी पड़ने के अलावा इंतजाम में कमी भी यात्रियों की मुश्किलें बढ़ा रही हैं।

नई दिल्लीJun 21, 2024 / 04:08 pm

स्वतंत्र मिश्र

More than 1000 Hajj Yatri Died: सऊदी अरब हज के लिए पहुंच रहे यात्रियों की बड़े पैमाने पर जान जा रही है। भारत से हज के लिए मक्का पहुंचे यात्रियों ने अपनी पीड़ा शेयर करते हुए यह बताया कि उन्हें 52 डिग्री सेल्सियस तापमान (52 degree celsius teprature in Saudi arabia) में 40 किलोमीटर से अधिक चलना पड़ रहा। हैदराबाद के निवासी ने बताया कि हम हज पर यह सोचकर निकले थे कि हमें तकलीफ तो उठानी पड़ेगी लेकिन इस बार गर्मी (Heat Wave in Saudi Arabia) बहुत ज्यादा पड़ रही है। धूप और गर्मी से कई तरह के एहतियात बरतने के बावजूद शरीर का पानी सूख जा रहा है। पांवों में छाले पड़ रहे हैं। हज यात्री लू की चपेट में आ रहे हैं। उन्होंने बताया कि साथ में चल रहे कई हज यात्रियों ने सिर दर्द और पेट दर्द की शिकायत की। मैंने कई लोग रास्ते में ही बेहोश होकर गिरते हुए देखा।

‘मेरे पांव में छाले पड़ गए, मेरी पत्नी बेहोश हो गई’

फरीद नाम के एक हज यात्री ने बताया कि काबा तक पहुंचने के लिए बसों की कमी ने हाजियों की समस्या को और बढ़ा दिया। मीना से अराफात पहुंचने के लिए 7.5 किलोमीटर से अधिक पैदल चलना पड़ता है। उन्होंने कहा कि हज के दौरान 40 किमी से अधिक चलने के कारण मेरे पैरों में छाले पड़ गए और मेरी पत्नी बेहोश हो गई।

बस के लिए 10 घंटे तक करना पड़ता है इंतजार

तेलंगाना के मुशीराबाद से हज के लिए गए फरीद उन 300 लोगों में से एक हैं जिन्होंने अपना हज पूरा कर लिया है और अब वह अपने वतन वापसी के लिए उड़ान भरने का इंतजार कर रहे हैं। तेलंगाना के कई हज यात्रियों ने कहा कि उन्हें बसों के आने के लिए 8 से 10 घंटे तक का इंतजार करना पड़ा। वहां मुख्य समस्या परिवहन को लेकर थी। शहर के सैकड़ों हज यात्रियों को बस के लिए घंटों इंतजार करना पड़ा। धूप और गर्मी के दौरान बस की प्रतीक्षा के दौरान ही कई लोग बेहोश भी हो गए।

BP और शुगर के मरीजों को हो रही ज्यादा दिक्कत

फरीद ने TOI से बातचीत में कहा कि उन्हें भोजन और पानी ग्रहण किए बगैर ही बहुत देर तक पैदल चलना पड़ा। इसकी वजह से कई तीर्थयात्री जो मधुमेह और बल्ड प्रेशर से पीड़ित हैं, उन्हें हज के दौरान काफी परेशानियां पेश हो रही थीं।

हज समिति ने कहा- परिवहन की हो रही असुविधा

तेलंगाना के हज समिति के सीईओ लियाकत हुसैन ने मीडिया को बताया कि वहां पहले दिन कुछ असुविधाएं थीं ​क्योंकि वहां बहुत सारी बिल्डिंग हज के दौरान ही खुलती हैं। उन बिल्डिंगों में सुविधाओं को जुटाने में थोड़ा समय लग गया। वहां दूसरे दिन से भोजन और आवास की समस्या दूर हो गई। 18 घंटे के बाद व्यवस्थाएं ठीक हो गईं। हां, एक समस्या बस को लेकर है। हज यात्रियों को बस में सवार होने के लिए 8 घंटे से ज्यादा समय तक इंतजार करना पड़ता है।

Hindi News/ National News / Hajj pilgrims dying: 52°C में हज यात्रियों को बस के लिए 10 घंटे करना पड़ रहा है इंतजार, 40 किलोमीटर करनी पड़ रही है पैदल यात्रा

ट्रेंडिंग वीडियो