script ब्याज दरें घटी तो लंबी अवधि वाले डेट फंड देंगे डबल डिजिट रिटर्न! 6 से 8 साल के लिए करें निवेश | If interest rates fall long term debt funds will give double digit returns Invest for 6 to 8 years | Patrika News

ब्याज दरें घटी तो लंबी अवधि वाले डेट फंड देंगे डबल डिजिट रिटर्न! 6 से 8 साल के लिए करें निवेश

locationनई दिल्लीPublished: Jan 16, 2024 11:25:53 am

Submitted by:

Prashant Tiwari

Investment: लंबी अवधि वाले डेट फंड शानदार रिटर्न दे रहे है जानकारों के मुताबिक 6 से 8 साल के लिए लॉन्ग ड्यूरेशन डेट फंड्स में निवेश करें। 6.8 फिसदी से 7.4 फिसदी तक लॉन्ग ड्यूरेशन फंड्स का यील्ड टू मैच्योरिटी यानी मैच्योरिटी पीरियड तक होल्ड करने पर मिलने वाला रिटर्न है।

 

 If interest rates fall long term debt funds will give double digit returns Invest for 6 to 8 years


अगर उम्मीद के मुताबिक ब्याज दरों में कटौती होती है तो वर्ष 2024 में लंबी अवधि के कई डेट फंड डबल डिजिट में रिटर्न दे सकते हैं। टाटा म्यूचुअल फंड के प्रमुख मूर्ति नागराजन ने बताया अगर मॉनसून अच्छा रहता है तो खुदरा महंगाई दर 4त्न के आसपास आ सकती है। ऐसे में आरबीआइ कम से कम दो बार रेपो रेट घटा सकता है। भारतीय सरकारी बॉन्ड अब ग्लोबल बॉन्ड इंडेक्स में शामिल हो रहे हैं। इससे भारतीय बाजार में विदेशी रकम आएगी और बॉन्ड की कीमत चढ़ जाएगी। विशेषज्ञों के मुताबिक, लंबी अवधि के डेट फंडों में निवेश करने का यह बहुत अच्छा समय है।


इतना मिला रिटर्न

फंड्स 2021 2022 2023
फ्लोटर फंड्स 4.1 4.5 7.7
गिल्ट फंड्स 3.0 3.0 7.5
डायनैमिक बॉन्ड 4.2 3.8 7.2

 

इसलिए मिलेगा अधिक रिटर्न

अमरीका, यूरोप और दूसरे पश्चिमी देशों में ब्याज दर कटौती की संभावना बहुत अधिक है। अमरीकी फेडरल रिजर्व ने दर 0.75त्न घटने का इशारा किया है। भारत में भी मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) के कुछ सदस्य पहले ही दरों में कटौती की बात कह रहे हैं। क्वांटम एएमसी के पंकज पाठक ने कहा, इस कैलेंडर वर्ष की पहली छमाही या जून तक आरबीआइ का रुख बदल सकता है। जुलाई और सितंबर के बीच रेपो रेट में कटौती शुरू हो सकती है। दरें घटेंगी तो बॉन्ड की कीमत चढ़ेगी, जिससे डेट फंडों में बेहतर रिटर्न मिलना शुरू हो जाएगा।

लॉन्ग ड्यूरेशन फंड्स का रिटर्न

अवधि सालाना औसत रिटर्न
01 साल 7.6 फीसदी
03 साल 3.7 फीसदी
05 साल 7.2 फीसदी
07 साल 6.6 फीसदी
10 साल 8.7 फीसदी
कैसे बनाएं पोर्टफोलियो?

पोर्टफोलियो का कुछ हिस्सा अचानक आई जरूरतें पूरी करने के लिए लिक्विड फंड में होना चाहिए। ज्यादा जोखिम से बचाने के लिए 40-५०त्न रकम कम अवधि के फंड में डालिए। यह अवधि 1 साल से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। दरों में कटौती का फायदा उठाने के लिए डेट पोर्टपोलियो का 25-30त्न निवेश लंबी अवधि के डेट फंडों में भी करें। अगर उतार-चढ़ाव से महफूज रहना चाहते हैं तो डायनेमिक बॉन्ड फंड को अपने पोर्टफोलियो में शामिल करें।

ट्रेंडिंग वीडियो