scriptPM Modi की सरकार नई, तेवर वही के साथ दिए ये नौ संकेत, जानिए कैसे सर्वपंथ समभाव व सर्वमत से चलेगी NDA की सरकार? | PM Modi's government is new, but his attitude is the same, but he gave these nine signals. Know how the NDA government will run with harmony and consensus among all religions? | Patrika News
राष्ट्रीय

PM Modi की सरकार नई, तेवर वही के साथ दिए ये नौ संकेत, जानिए कैसे सर्वपंथ समभाव व सर्वमत से चलेगी NDA की सरकार?

PM Modi Government 3.0 : मोदी 3.0 सरकार कैसे चलेगी एनडीए संसदीय दल का नेता चुने जाने के बाद पीएम मोदी ने दिया संकेत दे दिया है। पीएम मोदी ने कहा कि कलेवर भले बदला है लेकिन तेवर पुराना ही रहेगा। हमारे पास सपनों को पूरा करने का रोडमेप है। गरीबों का कल्याण हमारा पहला संकल्प है। तीन करोड़ लोगों को घर देने का संकल्प है। हमारी सरकार युवाओं को रोजगार के लिए लोन की व्यवस्था करेगी। पेश है नवनीत मिश्र की रिपोर्ट…

नई दिल्लीJun 09, 2024 / 11:28 am

Anand Mani Tripathi

PM Modi Government 3.0 : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को एनडीए संसदीय दल का नेता चुने जाने के बाद करीब एक घंटे के भाषण में अपनी सरकार की तीसरी पारी के तौर-तरीकों पर स्पष्ट संकेत दे दिए। उन्होंने पांच नहीं पूरे 10 साल का एजेंडा बता दिया। सरकार कैसे चलेगी, यह भी जाहिर किया। मजबूत और स्थाई सरकार की बात कही। एनडीए का नया फुलफॉर्म दिया- न्यू इंडिया, डेवलप इंडिया और एस्पिरेशनल इंडिया। प्रधानमंत्री यह संकेत देने से नहीं चूके कि गठबंधन की सरकार होने पर भी उनके तेवर में कोई बदलाव नहीं होगा, यह जरूर है कि फैसले सर्वमत होंगे और सर्वपंथ समभाव का ध्यान रहेगा।
मोदी के संदेश में नौ संकेत

1- बहुमत जरूरी, सर्वमत से चलेगा देशः प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उनका मानना है कि सरकार चलाने के लिए बहुमत आवश्यक है, लेकिन देश चलाने के लिए सर्वमत जरूरी है। माना जा रहा है कि सर्वमत की बात के जरिए प्रधानमंत्री मोदी ने सहयोगियों को आश्वस्त किया है कि सारे फैसले उन्हें भरोसे में लेकर होंगे।
2- बड़े और कड़े फैसले होकर रहेंगेः मोदी ने स्पष्ट कर दिया कि तीसरी सरकार में भी बड़े और कड़े फैसले होकर रहेंगे। उन्होंने मोदी 3.0 की रूपरेखा का संकेत देते हुए कहा कि मैंने पहले भी कहा था कि पिछले 10 साल का कार्यकाल तो सिर्फ ट्रेलर है, आगे और बहुत कुछ होना बाकी है।
3- जनता के जीवन में दखल कमः मोदी ने आने वाली सरकार में अपने सबसे बड़े विजन का जिक्र करते हुए कहा कि हमारी पूरी कोशिश होगी कि जनता के जीवन में सरकार का दखल कम से कम हो। सरकार का दखल जितना कम होगी, उतना ही लोकतंत्र मजबूत होगा।
4- मध्यम वर्ग का रखेंगे ध्यानः प्रधानमंत्री मोदी ने संबोधन के दौरान तीसरे कार्यकाल में मध्य वर्ग का विशेष ख्याल रखे जाने की बात कही। उन्होंने कहा कि हर गारंटी को मन से पूरा करेंगे और मध्यम वर्ग की सुविधा हमारी प्राथमिकता होगी।
5- ब्रेकिंग न्यूज से नहीं चलेगा देशः आमतौर पर गठबंधन की सरकारों में बयानों के जरिए प्रेशर पॉलिटिक्स चलना आम बात है। लेकिन, मोदी ने स्पष्ट कर दिया है कि एनडीए की गठबंधन सरकार में इन सब बातों की कोई जगह नहीं होगी। उन्होंने कहा कि ब्रेकिंग न्यूज से देश नहीं चलेगा।
6- तीसरे नंबर की अर्थव्यवस्थाः प्रधानमंत्री ने तीसरे कार्यकाल में भी देश की अर्थव्यवस्था को मजबूती देने के एजेंडे को स्पष्ट किया। उन्होंने कहा कि इस कार्यकाल में हमने पांचवें नंबर की अर्थव्यवस्था से तीसरे नंबर की अर्थव्यवस्था बनने का लक्ष्य रखा है।
7- एनडीए की महाविजयः प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दो दिनों तक ऐसा चलता रहा, जैसे हम हार गए। जबकि, ये एनडीए की महाविजय है। ना हम हारे थे, ना हारेंगे। विजय को पचाना आता है, हम पराजय का उपहास नहीं उड़ाते। कल भी एनडीए सरकार थी, आज भी है, कल भी रहेगी।
8- कांग्रेस और गर्त में गिरेगीः मोदी ने कहा,10 साल बाद भी कांग्रेस 100 के आंकड़े को नहीं छू पाई। अगर 2024, 2019 और 2014 को जोड़कर कहूं तो इन तीन चुनाव में इन्हें जितनी सीटें मिली हैं, उससे ज्यादा हमें इस चुनाव में मिली है। मोदी ने आने वाले समय में कांग्रेस के और गर्त में जाने की भविष्यवाणी की।
9- मंत्री पद बांटने वालों से सावधानः मोदी ने कहा कि मंत्रियों का निर्धारण वह खुद करेंगे, बाहर के किसी व्यक्ति के चक्कर में कोई न पड़े। कुछ लोग सरकार बनाने में लगे हैं। ऐसी गपबाजी करने वाली फौज बहुत बड़ी है। कोई आपको मंत्री बनाने के लिए फोन करे तो वेरिफाई जरूर करें।

Hindi News/ National News / PM Modi की सरकार नई, तेवर वही के साथ दिए ये नौ संकेत, जानिए कैसे सर्वपंथ समभाव व सर्वमत से चलेगी NDA की सरकार?

ट्रेंडिंग वीडियो