scriptSandeshkhali: शाहजहां शेख को बंगाल पुलिस ने किया गिरफ्तार, हिंदू महिलाओं से अत्याचार का है आरोपी | shahjahan sheikh arrested by bengal piloce from minakha tmc mamata banerjee sandeshkhali case | Patrika News

Sandeshkhali: शाहजहां शेख को बंगाल पुलिस ने किया गिरफ्तार, हिंदू महिलाओं से अत्याचार का है आरोपी

locationनई दिल्लीPublished: Feb 29, 2024 07:32:24 am

Submitted by:

Paritosh Shahi

हिंदू महिलाओं से बर्बरता करने और ईडी की टीम पर हमला करने के आरोप में पिछले 50 से ज्यादा दिनों से फरार चल रहे टीएमसी नेता शाहजहां शेख को बंगाल पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

shahjahan_sheikh_1.jpg

संदेशखाली केस का मुख्य आरोपी शाहजहां शेख अंततः गिरफ्तार कर लिया गया है। शाहजहां शेख लगभग पिछले 2 महीनों से फरार चल रहा था। गुरुवार सुबह मिनाखा इलाके से पश्चिम बंगाल पुलिस ने शेख को गिरफ्तार किया है। संदेशखाली में हिंदू महिलाओं को चिन्हित कर यौन उत्पीड़न करने का आरोपी पिछले कई दिनों से पुलिस को चकमा दे रहा था लेकिन भारी दबाब के कारण आज उसे गिरफ्तार कर लिया गया। मिनाखा के एस.डी.पी.ओ, अमीनुल इस्लाम खान ने बताया कि शाहजहां शेख को आज दोपहर 2 बजे बशीरहाट कोर्ट में पेश किया जाएगा।

विपक्षी नेता और स्थानीय लोगों द्वारा पिछले कई दिनों से जारी प्रदर्शन का असर अब दिखने लगा है। एक ओर ममता बनर्जी ने जहां इस मामले में चुप्पी साध रही है तो दूसरी ओर संदेशखाली को लेकर इतना बवाल मचा कि अब प्रशासन पूरी तरह से नींद से जाग चुका है और जिन गरीबों की जमीन को शेख और उसके पोषित गुंडों ने हथिया लिया था उन्हें न्याय मिलना शुरू हो गया है। लगातार की जा रही मांग के बाद अब एक्शन हो रहा है और जमीन के असली मालिक को जमीन दो दिन पहले लौटाई गई है। खबर मिलने तक तक संदेशखाली में 61 गरीब लोगों को जमीन लौटा दी गई है।

https://twitter.com/ANI/status/1763021003116982573?ref_src=twsrc%5Etfw

 

 

 

दरअसल, संदेशखाली में बड़ी संख्या में हिंदू महिलाओं ने तृणमूल नेता शाहजहां शेख और उसके पोषित गुंडों पर जबरन जमीन हड़पने और यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि बंगाल पुलिस की मिलीभगत के कारण कई महीनों तक इनकी आवाज को दबाया गया। शिकायत को दर्ज नहीं किया गया। कम उम्र को महिलाओं को चिन्हित करके उन्हें घर से उठाया गया।

इस तरह के कई मामले को लेकर ग्रामीणों का विरोध प्रदर्शन जारी है। इसके अलावा जब 5 जनवरी को राशन घोटाला मामले में प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों की एक टीम पर शेख के घर गई तो उस समय हमला किया गया। इस हमले में तीन अधिकारी जख्मी हो गए थे। इसके बाद से ही शाहजहां शेख फरार था।

ट्रेंडिंग वीडियो