scriptPatrika Opinion: leaders are now exposed how loyal they are | Patrika Opinion : खुलने लगी हैं नेताओं की निष्ठा की परतें | Patrika News

Patrika Opinion : खुलने लगी हैं नेताओं की निष्ठा की परतें

देश की राजनीति में दलबदल और गठजोड़ का सिलसिला पुराना है, लेकिन हाल के दौर में जो हो रहा है वह विशुद्ध रूप से सौदेबाजी के अलावा और कुछ नहीं। हर किसी को सिर्फ जीत चाहिए और इसके लिए वह किसी से भी हाथ मिलाने को तैयार है।

नई दिल्ली

Published: December 28, 2021 11:11:50 am

पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान भले ही अभी नहीं हुआ हो, लेकिन राजनीतिक दलों और नेताओं की विचारधारा के नाम पर निष्ठा की परतें खुलने लगी हैं। पांच साल तक एक-दूसरे को कोसने वाले दल और उनके नेताओं ने चुनाव जीतने के लिए नए-नए समझौते करने शुरू कर दिए हैं। पांच साल पहले की राजनीतिक अदावत कहीं टूट चुकी है तो कहीं टूटने की कगार पर है। पुराने गठजोड़ों की जगह नए गठजोड़ की कहानी लिखने का काम इन दिनों जोरों पर है।

leaders
leaders

देश के सबसे बड़े राज्य उत्तरप्रदेश पर नजर डालें तो पांच साल पहले वाली तस्वीर अब नजर नहीं आ रही है। चुनावी वैतरणी पार करने के लिए सभी दल लाभ-हानि के जोड़-तोड़ में जुटे हैं। पिछले विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के साथ मिलकर चुनाव लडऩे वाली कांग्रेस इस बार अकेले लडऩे की तैयारी में है। ढाई साल पहले लोकसभा चुनाव में भाजपा को हराने के लिए एकजुट हुए सपा और बसपा भी अलग-अलग सहयोगियों की तलाश में जुटे हैं। पंजाब में साढ़े चार साल तक अमरिंदर सिंह सरकार को कोसने वाली भाजपा अब उन्हीं के साथ मिलकर चुनाव लडऩे को बेचैन नजर आ रही है। अकाली दल के साथ तीन दशक तक मिलकर चुनाव लडऩे वाली भाजपा आज अपने पुराने सहयोगी पर रह-रहकर निशाना साध रही है।

यह भी पढ़ेें: शरीर ही ब्रह्माण्ड : ज्ञान-कर्म-अर्थ हमारे अन्न

गोवा की गिनती भले ही छोटे राज्यों में की जाती हो, लेकिन राजनीतिक उथल-पुथल के मामले में यह राज्य बड़े-बड़े राज्यों को पीछे छोड़ रहा है। पिछले विधानसभा चुनाव में 17 सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी बनी कांग्रेस यहां बगावत के संकट से जूझ रही है। पिछले चुनाव में जीते 15 विधायक पार्टी का दामन छोड़कर दूसरे दलों की शरण में जा चुके हैं। साढ़े चार साल तक भाजपा के साथ सत्ता सुख भोगने वाली महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी इस बार तृणमूल कांग्रेस के साथ मिलकर सत्ता हथियाने के प्रयासों में जुटी है।

यह भी पढ़ेें: घृणा फैलाने वालों पर अंकुश क्यों नहीं लग पा रहा है?

चुनाव की घोषणा होने तक नए समीकरण बनने की पूरी-पूरी संभावनाएं दिख रही हैं। हर दल और हर नेता को सत्ता में भागीदारी चाहिए, चाहे जैसे भी मिले। ये तो बात चुनाव पूर्व गठबंधन की है। चुनाव बाद की तस्वीर में नए सिरे से नए रंग देखने को मिल सकते हैं। देश की राजनीति में दलबदल और गठजोड़ का सिलसिला पुराना है, लेकिन हाल के दौर में जो हो रहा है वह विशुद्ध रूप से सौदेबाजी के अलावा और कुछ नहीं। हर किसी को सिर्फ जीत चाहिए और इसके लिए वह किसी से भी हाथ मिलाने को तैयार है। यह जानते हुए भी कि सामने वाला पता नहीं कब उसका साथ छोड़ जाए?

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

Petrol-Diesel Prices Today: केंद्र के बाद राज्यों ने घटाए पेट्रोल-डीजल के दाम, जानें कितनी हैं आपके शहर में कीमतेंQuad Summit 2022: प्रधानमंत्री मोदी का जापान दौरा, क्वाड शिखर सम्मेलन में बाइडेन से अहम मुलाकात, जानें और किन मुद्दों पर होगी बात'हमारे लिए हमेशा लोग पहले होते हैं', पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती पर पीएम मोदीRam Mandir : पांच गुम्बद वाला दुनिया का अकेला होगा राम मंदिर, जाने अलग दिखने वाली विशेषताएंभाजपा नेता को किया गिरफ्तार, आशियाना ध्वस्त करने पहुंचा था बुलडोजरWeather Update: कई राज्यों में आंधी के साथ बूंदाबांदी, अगले 5 दिनों तक बारिश का अलर्टRaj Thackeray Pune Rally: मनसे प्रमुख राज ठाकरे की पुणे रैली आज, अयोध्या यात्रा रद्द करने पर देंगे जानकारी, भारी संख्या में पुलिस तैनातकिस घोड़े की तारीफ में पीएम मोदी ने लिखा रिटायर्ड कर्नल को पत्र...
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.