आतंकवाद रोके पाकिस्तान तो हम भी बन जाएंगे 'नीरज चोपड़ा'

नीरज ने स्वर्ण जीतने के बाद चीर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाड़ी अरशद नदीम के साथ हाथ मिलाया था जिसकी फोटो सोशल मीडिया पर बहुत वायरल हुई थी। ऐसे में सेना के प्रमुख जनरल बिपिन रावत से पूछा गया कि क्‍या भारत-पाक सीमा पर ऐसा दिख सकता है जैसा नीरज चोपड़ा ने अपने पाक प्रतिद्वंद्वी के साथ किया तो उन्‍होंने कुछ अलग अंदाज़ में जवाब दिया।

Siddharth Rai

September, 0601:49 PM

नई दिल्ली। भारत ने इस साल जकार्ता में खेले गए 18वें एशियाई खेलों में कुल 69 पदक जीते। इस संस्करण में 15 स्वर्ण, 24 रजत और 30 कांस्य के साथ कुल 69 पदक जीते जबकि अपनी मेजबानी में 1951 में हुए पहले एशियाई खेल में भारतीय खिलाड़ियों ने 15 स्वर्ण, 16 रजत और 20 कांस्य के साथ कुल 51 पदक जीतकर तालिका में दूसरा स्थान हासिल किया था। इन पदकों में एक पदक भारत के नीरज चोपड़ा का भी है। नीरज ने स्वर्ण जीतने के बाद चीर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाड़ी अरशद नदीम के साथ हाथ मिलाया था जिसकी फोटो सोशल मीडिया पर बहुत वायरल हुई थी। ऐसे में सेना के प्रमुख जनरल बिपिन रावत से पूछा गया कि क्‍या भारत-पाक सीमा पर ऐसा दिख सकता है जैसा नीरज चोपड़ा ने अपने पाक प्रतिद्वंद्वी के साथ किया तो उन्‍होंने कुछ अलग अंदाज़ में जवाब दिया।

सेना प्रमुख ने आतंक छोड़ने को कहा
सेना प्रमुख ने कहा कि पहल उनकी (पाकिस्‍तान) तरफ से होनी चाहिए। उनको आतंकवाद रोकना है, अगर वो आतंकवाद रोकेंगे तो हम भी नीरज चोपड़ा बनेंगे। इस बारे में जब नीरज से पुछा गया तो उन्होंने कहा वह राष्ट्रगान की धुन में इतना खो गये थे कि इस ओर उनका ध्यान ही नहीं गया। बता दें नीरज ने एशियाई खेलों में 88.06 मीटर दूर भाला फेंक कर राष्ट्रीय रिकार्ड भी बनाया और भारत के लिए स्वर्ण पदक जीता। इतना ही नहीं इस इवेंट में दूसरा स्थान चीन के लियू किझेन 82.22 मीटर और तीसरा पाकिस्तान के अरशद नदीम 80.75 का था। तीनो देश के बीच राजनैतिक तनातनी होती रहती है इस लिए ये पदक समारोह बेहद अलग था और काफी सुर्ख़ियों में भी रहा।

मोदी ने सभी को दी बधाई
बता दें भारत ने कुल पदकों के मामले में इस साल 2010 एशियाई खेलों को भी पीछे छोड़ दिया। चीन के ग्वांगझो में हुए 2010 एशियाई खेलों में भारत ने कुल 65 पदक जीते थे। सभी खिलाड़ियों का भारत वापस आने पर जमकर स्वागत किया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पदक जीतने वाले भारतीय खिलाड़ियों के साथ मुलाकात की और सभी विजेताओं को उनकी उपलब्धि की बधाई दी।

Show More
Siddharth Rai Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned