कल से श्रध्दालु जा सकेंगे केदारनाथ धाम, खुल जाएंगे यहां के सभी ग्रीन जोन

अब तक केवल भोग, दोपहर का श्रृंगार और सांयकालीन आरती ही चालू...

कोरोना महामारी के संक्रमण के चलते अब तक देश भर में चल रहे लॉकडाउन के बीच लोग धार्मिक स्थलों पर तक नहीं जा पा रहे थे, ऐसे में कल यानि 4 मई 2020 से ग्रीन जोन के खुल जाने से अब श्रध्दालु भगवान शिव के दर्शन के लिए केदारनाथ धाम जा सकेंगे।

दरअसल केदारनाथ के कपाट इस वर्ष भी कोरोना महामारी के बावजूद ग्रीष्मकाल के लिए पौराणिक परंपराओं के अनुसार नियत समय पर खोले गए, लेकिन मंदिर के अंदर नित पूजाओं के साथ ही ऑनलाइन पूजाएं नहीं हो रही हैं।

MUST READ : गंगोत्री धाम / इस मंदिर के दर्शनों के बिना अधूरी है आपकी यात्रा

कोरोना महामारी के संक्रमण को देखते हुए मंदिर में केवल भोग, दोपहर का श्रृंगार और सांयकालीन आरती ही चालू है। वहीं अभी कुछ समय पहले तक इस वर्ष के लिए ऑनलाइन पूजा की एक भी बुकिंग नहीं आई थी। इसके साथ ही कोरोना महामारी के चलते भक्तों को मंदिर में अब तक दर्शन की अनुमति प्रशासन ने नहीं दी गई थी।

यह पूजाएं होती हैं ऑनलाइन

महाभिषेक-8500

रुद्राभिषेक-7500

लघु रुद्राभिषेक-6500

सौडंसापचार-4500


वहीं अब कोरोना संक्रमण को देखते हुए केंद्र सरकार ने कुछ रियायतों के साथ लॉकडाउन अवधि को एक बार फिर 2 सप्ताह के लिए बढ़ा दी है। ऐसे में अब लॉकडाउन की अवधि 3 मई के बजाय 17 मई तक हो गई है।

MUST READ : रावण ने यहां भगवान शिव को दी अपने सिरों की आहुति, ये है रहस्यों से भरा कुंड

इस बार केंद्र ने पूरे देश में रेड, ऑऱेंज और ग्रीन जोन में शामिल जिलों की लिस्ट को भी जारी किया है। ऐसे में सरकारों को अलग-अलग जोन के हिसाब से वहां गतिविधियों का संचालन करने की अनुमति दी गई है।

इस बीच उत्तराखंड सरकार ने साफ किया है कि 4 मई से राज्य में मौजूद सभी ग्रीन जोन को खोल दिया जाएगा। इसके साथ ही राज्य के श्रध्दालु दर्शनों के लिए केदारनाथ धाम भी जा सकेंगे।

Social Distancing : करना होगा पालन

केदारनाथ में दर्शन के लिए जाने वाले श्रध्दालुओं को सख्ती से सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) का पालन करना होगा। राज्य के नागरिकों को केदारनाथ जाने की अनुमति दी जाएगी। ज्ञात हो कि अब तक केंद्र सरकार ने सभी धार्मिक स्थलों पर श्रध्दालुओं के जाने पर रोक लगाई हुई है। हालांकि राज्य इसे लेकर अपने स्वविवेक से निर्णय भी ले सकते हैं।

coronavirus
Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned