लगभग पूरा शहर हुआ कोरोना संक्रमित, बने 61 कोरोना हॉट स्पॉट

आज स्थिति यह है कि 14 लाख की आबादी वाले शहर में 61 कोरोना हॉट स्पॉट बने हुए हैं। यूं तो पूरा शहर ही कंटेनमेंट है, संक्रमण हर तरफ फैला हुआ है मगर, सबसे ज्यादा संक्रमण की मार वर्तमान में गुढिय़ारी, देवेंद्र नगर, समता कॉलोनी, चौबे कॉलोनी और भाठागांव क्षेत्र में है।

By: Karunakant Chaubey

Published: 01 Oct 2020, 10:53 PM IST

रायपुर. प्रदेश की राजधानी रायपुर में कोरोना संक्रमण का ग्राफ देश के कई बड़े शहरों और कई राज्यों की राजधानियों से अधिक ऊंचाई पर है। संक्रमित मरीजों की संख्या 34 हजार के पार जा पहुंची है, जबकि एक्टिव मरीजों 10 हजार से अधिक है। अब तक 431 लोगों की जान जा चुकी है। आज स्थिति यह है कि 14 लाख की आबादी वाले शहर में 61 कोरोना हॉट स्पॉट बने हुए हैं। यूं तो पूरा शहर ही कंटेनमेंट है, संक्रमण हर तरफ फैला हुआ है मगर, सबसे ज्यादा संक्रमण की मार वर्तमान में गुढिय़ारी, देवेंद्र नगर, समता कॉलोनी, चौबे कॉलोनी और भाठागांव क्षेत्र में है।

कोरोना मरीज ढूंढने डोर-टू-डोर सर्वे, जलाना है या दफनाना है तय करेंगे परिजन

मगर, बीते कुछ दिनों के आंकड़ों को देखा जाए तो रायपुर की स्थिति थोड़ी संभली है। मगर, स्वास्थ्य अधिकारियों की मानें तो हालात चिंताजनक बने हुए हैं। मरीज कुछ कम मिले है। आज से जिले में सामुदायिक सर्वे शुरू हो रहा है। देखना यह होगा कि इसके परिणाम क्या निकलते हैं? रायपुर के नागरिकों के लिए राहत इस बात की है कि इलाज की पुख्ता व्यवस्था है। सरकारी अस्पताल से लेकर निजी अस्पतालों में पर्याप्त बेड उपलब्ध हैं। सरकार ने इलाज की दरों, जांच की दरें सीटी स्कैन और ऑक्सीजन सिलेंडर की कीमतें तय कर दी हैं। ताकि मरीजों के साथ लूट न हो सके।

जोनवार रायपुर शहर के हॉट स्पॉट-

जोन- हॉट स्पॉट के तहत आने वाले क्षेत्र- हॉट स्पॉट की संख्या

जोन -1- संतोषी नगर, डब्ल्यूआरएस कॉलोनी, खमतराई- 3
जोन-2- देवेंद्र नगर सेक्टर 1,2,4. । झंडा चौक गुढिय़ारी, साहू पारा, मंगलबाजार, जवाहर नगर, राठौर चौक, तेलघानी नाका, नहर पारा।- 10

जोन-3- आदर्श नगर, एलआईसी कॉलोनी, अशोका रतन - 3
जोन-4- कंकालीपारा, ब्राह्मण पारा, आजाद चौक, कोतवाली चौक ब्रिटल चौक छोटापारा, पंडरी, नूरानी चौक - 7

जोन-5- अश्वनी नगर, कुशालपुर, लाखेनगर, चंगोराभाठा, शिव नगर, डंगनिया, सुंदर नगर, डीडीनगर, रोहणीपुरम- 9
जोन-6,10- मुठपुरैना, दावड़ा कॉलोनी, दुर्गा पारा, संतोषी नगर- 4

जोन-6- भाठागांव, डेबर सिटी, साईं मंदिर, पुलिस लाइन, जनता कॉलोनी, टिकरापारा, संजय नगर- 7
जोन-7- आमानाका, कुकरबेड़ा, कोटा, समता कॉलोनी, चौबे कॉलोनी।- 5

जोन-8- कबीर नगर, रोटरी नगर, टाटीबंध, अयाप्पा मंदिर, शिव मंदिर- 5
जोन-9- मोवा, एकता चौक, दुबे कॉलोनी, शिव नगर, खम्हारडीह, गायत्री नगर- 6

जोन-10- अमलीडीह, महावीर नगर - 2

शहर के कंटेनमेंट जोन में मरीजों की स्थिति-

देवेंद्र नगर क्षेत्र-

देवेंद्र नगर सेक्टर 2- 5, देवेंद्र नगर सेक्टर 4- 10 (3 अलग-अलग क्षेत्र हैं।)

चौबे कॉलोनी

चौबे कॉलोनी 5, चौबे कॉलोनी महाराष्ट्र मंडल- 5

गुढिय़ारी क्षेत्र-

गांधीनगर मुर्राभट्टी- 5, विकास नगर मुधवन स्कूल के पास- 5, 422 जनता कॉलोनी- 5, बढ़ा अशोक नगर- ५, डीडी नगर मुर्रा भट्टी- 5, जनता कॉलोनी- ५, एलआईजी ३७ जनता कॉलोनी- ५, एलआईजी १७२ जनता कॉलोनी, पुराना देना बैंक के सामने- 5, बड़ा अशोक नगर प्रगति स्कूल के पास- 5, छोटा अशोक नगर दुर्गा मंदिर के पास- 5, छोटा अशोक नगर सेवईं फैक्टरी के पास- 5, साहू पारा ब्रह्मदेव मंदिर के पास, एकता नगर- 10, कृष्णा लैंडमार्क के बाजू कोटा रोड- ५, बाबा चौक खालबाड़ा- 5, बसंत विहार कॉलोनी धर्मशाला के पास- 5, श्रीराम राइस मिल मेराज पंप के पास- ५, कर्मा मेडिकल के पीछे अशोक नगर- 5, छोटा अशोक नगर बुद्ध विहार- 5, प्रेम नगर साईं विद्या ज्योति स्कूल के पास- 5, लक्ष्मण नगर गली नं२- 5,

अन्य क्षेत्र- वालफोर्ड सिटी- 5, निगम कॉलोनी रामसागर पारा- 5, अनुपम नगर- 5, वर्मा फेब्रिकेशन के पास हनुमान नगर- 5, भंसाली मैरेज पैलेस टाटीबंध- 5, कुकुरबेड़ा- 5, उदया सोसाइटी सेक्टर १, बिरगांव।

इन ग्रामीण क्षेत्रों में भी कंटेनमेंट जोन- तिल्दा, धरसीवां, गोवरा नवापारा, अभनपुर, आरंग।

संक्रमण फैलने की प्रमुख 5 वजहें

पहला- मई में हुई मजदूरी की वापसी। दूसरा- विदेश से छात्रों की वापसी। तीसरा- फेरीवाले, सब्जीवाले। चौथा- सैंपल देने के बाद संदिग्धों का खुद को आईसोलेट न रखना। पांचवा- कोरोना अधिनियम के नियम जैसे- मॉस्क और सोशल डिस्टेसिंग का पालन न करना।

किस विभाग की क्या जिम्मेदारी

स्वास्थ्य विभाग- सैंपलिंग, टेस्टिंग और ट्रीटमेंट मुहैया करवाना। अस्पताल में पर्याप्त साधन-संसाधन की व्यवस्था सुनिश्चित करना।

नगर निगम- कंटेनमेंट जोन का निर्माण, खाद्यान सामग्री का वितरण, नियमों का पालन करवाना, मरीजों को अस्पताल तक ले जाना, मृतकों का दाह संस्कार।

जिला प्रशासन- मरीजों की कांटेक्ट ट्रेसिंग, कोविड सेंटर का निर्माण के साथ समूची व्यवस्था की निगरानी। इसमें कलेक्टर के अधीनस्थ सभी अधिकारी तैनात है।

पुलिस प्रशासन- कंटेनमेंट जोन का निर्माण, लॉ-एंड-ऑर्डर।

जुर्माना भरेंगे, मॉस्क नहीं लगवाएंगे

नगर निगम शहर के मुख्य मार्गों, बाजार क्षेत्र और अन्य सार्वजनिक क्षेत्रों में कोरोना अधिनियम के तहत जुर्माने के कार्रवाई कर रहा है। मास्क न लगाने वालों, सोशल-फिजिकल डिस्टेसिंग का पालन न करने वालों पर कार्रवाई जारी है। हर रोज 25 हजार का जुर्माना वसूला जा रहा है। मगर, लोग नियमों का पालन करने तैयार नहीं।

जिले में बीते कुछ दिनों में मरीजों की संख्या में कमी आई है। आज से सामुदायिक सर्वे भी शुरू होने जा रहे है। जो भी मरीज मिलेंगे, उन सबका लक्षणों के आधार पर इलाज होगा। इसकी पूरी तैयारी है।

-डॉ. एस. भारतीदासन, कलेक्टर रायपुर

also read: कोरोना का भय, मरवाही में भीड़ जुटाने पर राजनितिक पार्टियों ने लगाई रोक

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned