बोर्ड परीक्षा होगी ऑफलाइन, कमरे में बैठेंगे 50 प्रतिशत छात्र, संक्रमित या अनुपस्थित छात्र दोबारा दे सकेंगे परीक्षा

- छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल सचिव ने जारी किया निर्देश
- पत्रिका ने पाठकों को दी थी माशिमं गाइडलाइन की सबसे पहले सूचना

By: Ashish Gupta

Published: 07 Apr 2021, 11:06 AM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल (CGBSE) के जिम्मेदारों ने बोर्ड परीक्षा के संबंध में स्पष्ट गाइडलाइन जारी कर दी है। माशिमं सचिव द्वारा जारी निर्देश के अनुसार 10वीं-12वीं की बोर्ड परीक्षा ऑफलाइन होगी। परीक्षा केंद्रों में क्षमता के अनुसार 50 प्रतिशत छात्र ही बिठाए जाएंगे। जो छात्र कंटेनमेंट जोन में हैं या कोराना संक्रमण की वजह से बोर्ड परीक्षा देने नहीं पहुंच पा रहे हैं। ऐसे छात्रों को फेल नहीं किया जाएगा, बल्कि उनकी उत्तर-पुस्तिकाओं में 'सी' लिख दिया जाएगा। ऐसे विद्यार्थी को उन विषयों में कोई अंक नहीं दिए जाएंगे, लेकिन उसे पास श्रेणी में उत्तीर्ण माना जाएगा।

जिन विद्यार्थियों की अंकसूची में 'सी' अंकित होगा, उनके लिए पूरक परीक्षा के साथ विशेष परीक्षा आयोजित की जाएगी। उस विशेष परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर उनकी अंकसूची में 'सी' के स्थान पर प्राप्तांक और श्रेणी अंकित कर दिया जाएगा। उसके बाद उन्हें दूसरी अंकसूची जारी की जाएगी। आपको बात दें कि 10वीं बोर्ड की परीक्षाएं 15 अप्रैल से एक मई तक तथा 12वीं बोर्ड की परीक्षाएं 3 मई से 24 मई तक आयोजित होनी है। कोरोना काल में इनके आयोजन को लेकर सवाल उठाए जा रहे थे। सवालों को देखते हुए माशिमं के जिम्मेदारों ने स्पष्ट गाइडलाइन जारी कर दी है।

यह भी पढ़ें: इस शहर में बढ़ा कोरोना का खतरा: अब सुबह 6 से शाम 6 बजे तक खुलेंगी दुकानें, ये टोटल रहेंगे बंद

50 प्रतिशत छात्र बैठ सकेंगे
माशिमं द्वारा जारी निर्देश के अनुसार परीक्षा सेंटरों में शिक्षकों व छात्रों को कोविड गाइडलाइन का पालन करना होगा। परीक्षा हॉल में क्षमता के अनुसार केवल 50 प्रतिशत छात्र बैठेंगे। सभी विद्यार्थियों, शिक्षकों और स्कूलों के अन्य अधिकारियों-कर्मचारियों को मास्क पहनना अनिवार्य होगा। परीक्षा केन्द्र को सेनिटाइज करने के साथ ही छात्रों, शिक्षकों एवं स्कूल के अधिकारियों-कर्मचारियों के हाथों को सेनिटाइज करने की व्यवस्था भी होगी।

प्रवेश पत्र दिखाने पर मिलेगी लॉकडाउन में छूट
माशिमं अधिकारियों की मानें तो जिन शहरों में लॉकडाउन लगा है, वहां के लिए मंडल और प्रशासन ने व्यवस्था बना ली है। लॉकडाउन के दौरान परीक्षार्थी के द्वारा एडमिट कार्ड दिखाए जाने पर उन्हें व उनके पालकों को राहत दी जाएगी। परीक्षा व उनके पालक एडमिट कार्ड दिखाकर परीक्षा केंद्र आसानी से जा सकेंगे और उन्हें मना करने वाला कोई भी नहीं होगा।

यह भी पढ़ें: कोरोना के बढ़ते मामलों से फिर बढ़ी मुश्किलें, शादी के लिए होटल-गार्डन की कई बुकिंग रद्द

माध्यमिक शिक्षा मंडल के सचिव प्रो. वी.के.गोयल ने कहा, बोर्ड परीक्षा ऑफलाइन होगी। परीक्षा के दौरान सभी कोविड व माशिमं गाइडलाइन का पालन करना होगा। लॉकडाउन में एडमिट कार्ड दिखाने पर परीक्षार्थियों व उनके पालकों को राहत मिलेगी।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned