scriptOne Nation One Ration Card system failed | वन नेशन वन राशन कार्ड का सिस्टम फेल, स्लो सर्वर से साढ़े पांच लाख लोग परेशान | Patrika News

वन नेशन वन राशन कार्ड का सिस्टम फेल, स्लो सर्वर से साढ़े पांच लाख लोग परेशान

ई-पॉस मशीन बनी आफत, दूसरी ओर सर्वर बंद रहने से दुकानों में भीड़ एकत्रित हो रही है।

रायपुर

Published: January 15, 2022 06:55:04 pm

रायपुर. वन नेशन वन राशन कार्ड की योजना का स्लो सर्वर कार्डधारियों के लिए समस्या बन गया है। शासन ने कोरोना संक्रमण काल में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ जल्द से जल्द खाद्यान्न वितरण करने को कहा है। दूसरी ओर सर्वर बंद रहने से दुकानों में भीड़ एकत्रित हो रही है। सार्वजनिक वितरण प्रणाली के संचालन में ई-पॉस मशीन आफत बनती जा रही है। आलम यह है कि राजधानी समेत अन्य तीन जिलों इलाकों में ई-पॉस मशीन लग चुकी है। प्रदेश में 12808 कोर पीडीएस की दुकानें हैं। इनमें 1400 दुकानों में मशीन लग चुकी है।
वन नेशन वन राशन कार्ड का सिस्टम फेल, स्लो सर्वर से साढ़े पांच लाख लोग परेशान
वन नेशन वन राशन कार्ड का सिस्टम फेल, स्लो सर्वर से साढ़े पांच लाख लोग परेशान
रायपुर में 171 दुकानों में ई-पॉस मशीन लग चुकी है। प्रदेश में 68 लाख 97 हजार 119 राशनकार्डधारी है। सभी को ई-पॉस से राशन देना है। कुछ जगहों पर मशीन खराब होने तो कहीं पर सर्वर नहीं चलने से मशीन से राशन नहीं बंट पा रहा है। हैदराबाद की कंपनी लिंकवेल टेली सिस्टम्स प्राइवेट लिमिटेड ने मशीनें सप्लाई की है। इन मशीनों को चलाने के लिए राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (एनआइसी) के सर्वर का इस्तेमाल किया जा रहा है। मशीनों में डाटा का अधिक लोड होने और सर्वर धीमा होने से दिक्कत हो रही है।
दो सिस्टम से हो रहा है वितरण

वन नेशन वन कार्ड के अलावा पुराने टैब सिस्टम का उपयोग किया जाता है। वन नेशन वन कार्ड में हितग्राहियों को केवल थंब इंप्रेशन यानी आधार वेरिफिकेशन के जरिए ही राशन दिया जाना है। इसके अलावा पुराने टैबलेट का भी उपयोग किया जाता है। दुकानदारों की मानें तो समय से राशन वितरित नहीं होने पर उपभोक्ताओं के गुस्से का शिकार होना पड़ रहा है।
हर दुकान में भटके लोग

शहर के राशन दुकानों में लोग राशन के लिए भटकते नजर आए। अधिकारियों के मुताबिक एनआइसी जो कि सर्वर प्रदाता है वहीं से लिंक फेल हो गया था, लिहाजा लोगों को परेशानी उठानी पड़ी। शहर ही नहीं, ऑनलाइन सिस्टम गांव के लोगों के लिए मुसीबत बना रहा। लोगों को नेट कनेक्टिविटी तो कभी सर्वर डाउन होने के कारण लोगों को राशन लेने में काफी तकलीफ उठानी पड़ रही है।
रायपुर के खाद्य नियंत्रक तरूण राठौर ने बताया कि एनआइसी के सर्वर में ही तकनीकी दिक्कत बीच-बीच आ रही है। इसलिए लोगों को राशन नहीं मिल पा रहा है।
छत्तीसगढ़ पीडीएस संघ के अध्यक्ष नरेश बाफना ने बताया कि सर्वर बार-बार ब्रेक होने से दुकानदारों को राशन देने में दिक्कत होती है। सर्वर डाउन है और लिंक फेल हो रहा था, इसलिए राशन बांटन में दिक्कत हो रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

Coronavirus: स्वास्थ्य मंत्रालय इन 6 राज्यों में कोविड स्थिति पर चिंतित, यहां तेजी से फैल रहा संक्रमणकेरल में तेजी से बढ़ रहा ओमिक्रॉन, 24 घंटे में 20% बढ़ी ऑक्‍सीजन बेड की मांग50 साल से जल रही ‘अमर जवान ज्योति’ आज से इंडिया गेट पर नहीं, राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जलेगीबीजेपी सांसद ने कहा 'शराब औषधि समान, कम पीने से करती है औषधि का काम'अखिलेश यादव के कई राज सिद्धार्थनाथ सिंह ने खोले, सुन कर चौंक जाएंगेयूपी विधानसभा चुनाव 2022 के दूसरे चरण की 55 विधानसभा सीटों के लिए आज से होगा नामांकनWeather Forecast News Today Live Updates: दिल्ली सहित कई राज्यों में 3 दिन बारिश का अलर्ट, उत्तर भारत में पड़ेगी कड़ाके की ठंडलोकसभा अध्यक्ष बनने के बाद क्या बदला जीवन, जानिए स्पीकर ओम बिरला का रोचक जवाब
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.