छत्तीसगढ़ में बेरोजगारी दर केवल 2 प्रतिशत, जानिये बाकी राज्यों में क्या है स्थिति

छत्तीसगढ़ सरकार का दावा है, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में राज्य सरकार द्वारा लिए गए निर्णयों और फैसलों से छत्तीसगढ़ में उद्योगों सहित कृषि क्षेत्र में गतिविधियां तेजी से संचालित हो रही हैं। इससे छत्तीसगढ़ में रोजगार के अवसर लगातार बढ़ रहे हैं और बेरोजगारी की दर में कमी दर्ज की जा रही है।

By: Karunakant Chaubey

Updated: 18 Oct 2020, 10:36 PM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ में बेरोजगारी दर सितंबर महीने में घटकर केवल 2 प्रतिशत रह गई है। यह राष्ट्रीय बेरोजगारी दर 6.8 प्रतिशत से काफी कम है। देश के शहरी क्षेत्रों में यह दर 7.9 प्रतिशत और ग्रामीण क्षेत्रों में 6.3 प्रतिशत रही। देश में हमसे बेहतर स्थिति अभी केवल असम राज्य की है, जहां बेरोजगारी दर 1.2 प्रतिशत आंकी गई है।

यह आंकड़े सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी (सीएमआईई) द्वारा 16 अक्टूबर को जारी बेरोजगारी दर के ताजा रिपोर्ट पर आधारित है। इसके पहले छत्तीसगढ़ में जून माह में बेरोजगारी दर 14.4 प्रतिशत थी। जुलाई महीने में यह घटकर 9 प्रतिशत पर आ गई। सितम्बर के आंकड़ों की बात करें तो वर्ष 2000 में एक साथ बने तीन राज्यों में उत्तराखंड की स्थिति ज्यादा चिंताजनक दिख रही है।

भूपेश के बनाए चक्रव्यूह में फंस गए अमित,16 को ही हो चूका था नामांकन निरस्त करने का आदेश लेकिन 17 को आया बाहर

उत्तराखंड में बेरोजगारी दर 22.3 प्रतिशत रही है। वहीं झारखंड में यह दर 8.2 प्रतिशत है। पड़ोसी ओडि़शा की स्थिति छत्तीसगढ़ के बेहद करीब है। मध्यप्रदेश की स्थिति भी 3.9 प्रतिशत की दर के साथ कुछ राहत वाली स्थिति में है। छत्तीसगढ़ सरकार का दावा है, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में राज्य सरकार द्वारा लिए गए निर्णयों और फैसलों से छत्तीसगढ़ में उद्योगों सहित कृषि क्षेत्र में गतिविधियां तेजी से संचालित हो रही हैं। इससे छत्तीसगढ़ में रोजगार के अवसर लगातार बढ़ रहे हैं और बेरोजगारी की दर में कमी दर्ज की जा रही है। राज्य सरकार द्वारा लिए गए फैसलों से कोरोना काल में भी राज्य में लोगों को आर्थिक गतिविधियों से जोड़कर रखा गया।

पड़ोसी राज्यों की ऐसी है स्थिति

ओडिशा - 2.1

तेलंगाना - 3.3
मध्यप्रदेश - 3.9

उत्तर प्रदेश - 4.2
महाराष्ट्र - 4.5

झारखंड - 8.2
बिहार - 11.9

(स्रोत : सीएमआईई की अनइंप्लॉयमेंट रेट इन इंडिया रिपोर्ट, सभी आंकड़े प्रतिशत में)
बॉक्स

दूसरे राज्यों की ऐसी है बेरोजगारी दर
गुजरात - 3.4

पश्चिम बंगाल - 9.3
पंजाब - 9.6

दिल्ली - 12.2
राजस्थान - 15.3

हरियाणा - 19.1
उत्तराखंड - 22.3

(स्रोत :सीएमआईई की अनइंप्लॉयमेंट रेट इन इंडिया रिपोर्ट, सभी आंकड़े प्रतिशत में)

इसके पीछे जनता के सहयोग और निचले स्तर के अधिकारीयो की मेहनत रही है। सबने मिलकर लगातार काम किया है। दूसरे प्रदेशों से लौटकर यहां 7 लाख लोग आए। वहीं जाने वाले सिर्फ 26 हजार लोग है। उद्योगपतियों ने सहयोग किया। स्टील का उत्पादन यहां सबसे पहले शुरू हुआ। आज स्टील की आपूर्ति सबसे ज्यादा छग से हो रही है। कार्ययोजना बनाकर सबके सहयोग से यह हुआ है।

- भूपेश बघेल, मुख्यमंत्री

ये भी पढ़ें: बस एक क्लिक और आपका पूरा डेटा हैकरों के पास, क्विक सपोर्ट एप के जरिए कर रहे हैं ऑनलाइन ठगी

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned