scriptRajsamand patrika latest news, Rajsamand hindi news, Shrinathji temple | केसर के सुगंधित जल से नहाते, 1.25 लाख आम का भोग अरोगते हैं श्रीजी | Patrika News

केसर के सुगंधित जल से नहाते, 1.25 लाख आम का भोग अरोगते हैं श्रीजी

locationराजसमंदPublished: May 28, 2023 10:16:32 pm

Submitted by:

jitendra paliwal

Shrinathji temple श्रीनाथजी मंदिर में ज्येष्ठाभिषेक स्नान यात्रा 4 जून को, भक्तों संग कृष्ण के जलविहार से जुड़ा है उत्सव प्रसंग

rj2731.jpg
Shrinathji temple गिरिराज सोनी. नाथद्वारा. पुष्टिमार्गीय वल्लभ संप्रदाय की प्रधानपीठ श्रीनाथजी मंदिर में प्रभु श्रीनाथजी का आगामी 4 जून को ज्येष्ठाभिषेक स्नान होगा। इस मौके पर श्रीजी बावा 1.25 लाख आमों का भोग अरोगेंगे।
मान्यता है कि बृज में पूरे ज्येष्ठ मास में भगवान श्रीकृष्ण ने भक्तों के साथ जल विहार किया था। ज्येष्ठ पूर्णिमा को यमुनाजी में स्नान किया। श्रीयमुनाजी के पद गुणगान, जल विहार मनोरथ उस दौरान हुए थे। उद्यापन के स्वरूप प्रभु को सवा लाख आम का भोग धराकर मनोरथ को पूरा किया था। उसी भाव से प्रतिवर्ष यह मनोरथ होता है।
यह मनोरथ ज्येष्ठ मास में चन्द्र राशि के ज्येष्ठ नक्षत्र में होता है। सामान्यतया ज्येष्ठ शुक्ल पूर्णिमा को होता है। इस बार पूर्णिमा पर ही ज्येष्ठा नक्षत्र होने से उसी दिन प्रभु को मंगला झांकी के दर्शन के बाद तिलकायत परिवार केसर व पुष्प युक्त सुवासित जल से स्नान कराएगा। इस दिन प्रभु श्रीनाथजी की नगरी में अपार उत्साह रहेगा।
स्नानाभिषेक के समय वेदमन्त्र तथा पुरुषसूक्त वाचन किया जाता है। वेदोक्त उत्सव होने से सर्वप्रथम शंख से स्नान होता है। प्रभु के राज्याभिषेक आनंदोत्सव पर ब्रजवासी ठाकुरजी को ऋतुफल की भेंट के तौर पर श्रेष्ठ आमों का भोग धराते हैं।
Copyright © 2023 Patrika Group. All Rights Reserved.