NASA का दावा, बंजर नही है मंगल ग्रह, जमीन के नीचे दफन हैं तीन झीलें !

  • नासा (NASA) के वैज्ञानिकों को फिर से मंगल ग्रह पर पानी (Water On Mars) होने के सुबूत मिले हैं
  • वैज्ञानिकों को ग्रह की जमीन के नीचे तीन झीलें मिली हैं

By: Vivhav Shukla

Published: 29 Sep 2020, 03:30 PM IST

नई दिल्ली। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा (NASA) के वैज्ञानिकों को बड़ी सफलता हाथ लगी है। उन्हें मंगल ग्रह पर पानी होने के सुबूत मिले हैं। नासा के आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक मंगल पर धरती के भीतर तीन झीलें हैं। ऐसे में यहां पानी के कई स्रोत एक साथ मिल गए हैं।

अनोखा प्रोजेक्ट : Wind Turbine से अब पैदल चलने वालों के हाथों से जनरेट होगी बिजली

इससे पहले साल 2018 में नासा ने मंग्रल ग्रह के दक्षिणी ध्रुव पर एक बहुत बड़े नमकीन पानी वाली झील का पता लगाया था, जो वहां के बर्फ के नीचे दबी है। लेकिन अब वहां और झीलों के बारे में पता लगा है। इस खोज के बाद माना जाने लगा है कि भविष्य में मंगल ग्रह पर जाकर बसा जा सकता है।

 

nasa_mars.jpg

यूरोपियन स्पेस एजेंसी (ESA) के स्पेसक्राफ्ट मार्स एक्सप्रेस ने जिसने दो साल पहले झील का पता लगाया था । उसी ने इन नई झीलों का पता लगाया है। इन तीन झीलों के लिए स्पेसक्राफ्ट को 2012 से 2019 के बीच 134 बार ऑब्जरवेशन करना पड़ा है

2018 में खोजी गई झील मंगल ग्रह के दक्षिणी ध्रुव पर मौजूद है। ये पूरी तरह से बर्फ से ढंकी हुई है। ये झील लगभग 20 किलोमीटर चौड़ी है। इस झील का बाद नासा (NASA) ने ये दावा किया इसके आसपास ही अब 3 और झीलें मौजूद हैं।

दुनिया का सबसे छोटा एयर पॉल्यूशन सेंसर जो मोबाइल में भी फिट हो जाता है

इन झीलों के मिलने के बाद तो एक बात साफ है कि मंगल एक सूखा और बंजर ग्रह नहीं है। पानी का पता लगने के बाद यहां जीवन के अनुकूल परिस्थितियों की संभावनाएं खुल जाती है।

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned