script10 दिन बाद बंद हो जाएंगे पेंच पार्क कोर एरिया के गेट | Patrika News
सिवनी

10 दिन बाद बंद हो जाएंगे पेंच पार्क कोर एरिया के गेट

– तीन महीने गेट बंद रहने के दौरान कराए जाएंगे कई अहम काम

सिवनीJun 20, 2024 / 06:15 pm

sunil vanderwar

पेंच में बढ़ी चीतलों की तादाद

पेंच में बढ़ी चीतलों की तादाद

सिवनी. मप्र व महाराष्ट्र राज्य की सीमा पर स्थित पेंच टाइगर रिजर्व सिवनी के कोर एरिया के गेट अगले 10 दिन और खुले रहेंगे। इसके बाद वर्षाकाल आरम्भ होने के कारण एक जुलाई से 30 सितम्बर तक देश-विदेश के पर्यटक कोर एरिया में जंगल सफारी का आनंद नहीं उठा सकेंगे। एक अक्टूबर से फिर कोर के गेट खुल सकेंगे। गौरतलब है कि पर्यटन वर्ष 2023-24 में अपै्रल महीने तक 9368 विदेशी व 121981 भारतीय पर्यटकों ने पेंच के कोर और बफर क्षेत्र के वन और वन्यप्राणियों का दीदार किया है।
चट्टान पर बैठा तेंदुआ।
चट्टान पर बैठा तेंदुआ।

पेंच टाइगर रिजर्व में हर वर्ष वर्षाकाल के दौरान एक जुलाई से कोर क्षेत्र में सफारी बंद हो जाती है। अब पेंच के कोर क्षेत्र में पर्यटक अगले दिन 10 दिन ही सफारी का आनंद उठा सकेंगे। वहीं बफर क्षेत्र में साल भर पर्यटन जारी रहता है। हालांकि अधिकांश पर्यटकों की पहली पसंद कोर क्षेत्र ही होता है। यहीं बड़ी संख्या में रिसोर्ट और दूसरी सुविधाएं पर्यटकों को मिलती हैं। पेंच टाइगर रिजर्व का सबसे अधिक राजस्व कोर क्षेत्र में आने वाले पर्यटकों से ही मिलता है। इसी वजह से पार्क प्रबंधन भी कोर एरिया में खास ध्यान देता है।
पेंच के कोर में जंगल सफारी पर विदेशी पर्यटक।
पेंच के कोर में जंगल सफारी पर विदेशी पर्यटक।

कोर के गेट बंद होने पर किए जाएंगे ये काम-
कोर एरिया में 30 जून को अंतिम दिन पर्यटक जंगल सफारी करेंगे। इसके बाद टुरिया गेट, कर्माझिरी गेट पर तीन महीने के लिए ताला लग जाएगा। इस दौरान पेंच पार्क प्रबंधन जंगल में शिकारियों की आमद को रोकने, वन एवं वन्यप्राणियों की सुरक्षा के लिए पेट्रोलिंग बढ़ाएगा। कर्मचारियों का पुन: वीट निर्धारण होगा। पेंच की जिन सडक़ों पर पर्यटक जंगल सफारी करते हैं, उनकी मरम्मत कराई जाएगी। जिन भवनों पर कर्मचारी निवास करते हैं या जहां निगरानी के लिए टॉवर लगाए गए हैं, उनकी मरम्मत कराई जाएगी।
पेंच का कोर एरिया टुरिया गेट, एक जुलाई से होगा बंद।
पेंच का कोर एरिया टुरिया गेट, एक जुलाई से होगा बंद।

अंतिम 10 दिन भी फुल है बुकिंग-
इस पर्यटन वर्ष में पेंच टाइगर रिजर्व के कोर और बफर क्षेत्र की बुकिंग फुल चल रही है। सुबह की शिफ्ट में अधिकतम 49 और शाम की शिफ्ट में 50 जिप्सी वाहनों का पेंच के टुरिया, रुखड़, कर्माझिरी गेट से प्रवेश हो रहा है। कई दिनों पहले ऑनलाइन बुकिंग करा चुके देश-विदेश के पर्यटक पेंच पार्क में सफारी करने पहुंच रहे हैं। पार्क के सभी रूट पर जंगल सफारी हो रही है। बाघ-बाघिन आसानी से नजर आने के कारण कोर के साथ बफर क्षेत्र में भी पर्यटक बड़ी संख्या में पहुंच रहे हैं। 30 जून के बाद पेंच के कोर एरिया में गेट बंद होने हैं, ऐसे में अब अंतिम 10 दिन के लिए कोर की बुकिंग फुल है।

शावकों के साथ घूम रही बाघिन, मादा तेंदुआ-

पानी में उछल-कूद करता बाघ शावक।
पानी में उछल-कूद करता बाघ शावक।

कोर एरिया में इन दिनों बाघिन और मादा तेंदुआ अपने तीन-चार शावकों के साथ नजर आ रही है। पेंच के पेवरथड़ी में हाल ही में पर्यटकों ने मादा तेंदुआ के साथ चट्टान पर बैठे तीन शावकों को देखा और उनकी तस्वीरों को कैमरे में उतारा। ऐसे ही पेंच की जुगनी बाघिन चार शावकों के साथ जंगल में घूमती दिख रही है। चीतल, बायसन, सोनकुत्ता, लंगूर और कई प्रजाति के वन्यप्राणी भी यहां के अनुकूल वातावरण में अपनी संख्या बढ़ा रहे हैं।

इनका कहना है –
एक जुलाई से पेंच टाइगर रिजर्व के कोर एरिया की जंगल सफारी नहीं हो सकेगी। गेट बंद होने पर पेट्रोलिंग, वीट अप्रूविंग, रोड-बिल्डिंग रिपेयरिंग और दूसरे काम कराए जाएंगे। इस पर्यटन वर्ष में अच्छी संख्या में भारतीय व विदेशी पर्यटक पहुंच रहे हैं। इन्हें जंगल सफारी के दौरान प्राकृतिक वातावरण और वन्य प्राणी देखकर पर्यटक उत्साहित होते हैं। पर्यटकों की संख्या बढऩे से पेंच का राजस्व भी बढ़ रहा है।
रजनीश सिंह, डिप्टी डायरेक्टर पेंच टाइगर रिजर्व सिवनी

Hindi News/ Seoni / 10 दिन बाद बंद हो जाएंगे पेंच पार्क कोर एरिया के गेट

ट्रेंडिंग वीडियो