scriptThree people lost their lives in two road accidents | इतना घना कोहरा कि चंद कदम पर नहीं आया कुछ नजर | Patrika News

इतना घना कोहरा कि चंद कदम पर नहीं आया कुछ नजर

locationशिवपुरीPublished: Dec 28, 2023 03:17:09 pm

इतना घना कोहरा कि चंद कदम पर नहीं आया कुछ नजर
दो सडक़ हादसों में चली गई तीन लोगों की जान
बदरवास में सुबह 11 बजे तक रहा कोहरा, पत्तियों पर जमीं बर्फ की बूंदें

इतना घना कोहरा कि चंद कदम पर नहीं आया कुछ नजर
इतना घना कोहरा कि चंद कदम पर नहीं आया कुछ नजर
इतना घना कोहरा कि चंद कदम पर नहीं आया कुछ नजर
दो सडक़ हादसों में चली गई तीन लोगों की जान
बदरवास में सुबह 11 बजे तक रहा कोहरा, पत्तियों पर जमीं बर्फ की बूंदें
शिवपुरी/अंचल। शिवपुरी शहर सहित जिले में इस सीजन का पहला घना कोहरा शनिवार की रात से रविवार की सुबह तक छाया रहा। यह कोहरा इतना घना था कि चंद कदम की दूरी पर कुछ नजर नहीं आ रहा था। सडक़ पर छाई कोहरे की धुंध के बीच दो सडक़ हादसों में तीन लोगों की जान चली गई। कोहरा इस कदर छाया हुआ था कि बदरवास में सुबह 11 बजे न केवल सडक़ पर धुंध छाई रही, बल्कि यहां पत्तियों पर ओस की बूंदे जमकर बर्फ बन गईं।
दिनारा कस्बे के कुम्हार मोहल्ले में रहने वाले रघुवीर प्रजापति व उनकी पत्नी लक्ष्मी प्रजापति रविवार की सुबह जब अपने घर से निकले तो उस समय हर तरह कोहरे की धुंध छाई हुई थी। इस दंपत्ति को नहीं पता था कि यह घना कोहरा उनकी जान का दुश्मन बन जाएगा। वो अपनी साइकिल पर पानी की मोटर रखकर पैदल ही अपने खेत की तरफ चल दिए तथा सुबह 6.30 बजे जब वो दिनारा डाकबंगला के पास से गुजर रहे थे तो घने कोहरे के बीच एक ट्रक मौत बनकर आया और उन्हें रौंद गया। सूचना के बाद मौके पर पहुंची दिनारा थाना पुलिस ने ट्रक को जब्त कर दंपति के शव को पीएम हाउस भेजकर मामले की पड़ताल शुरू कर दी। हादसे की वजह घना कोहरा होना बताया गया है। दंपति अपने पीछे तीन बच्चों को छोड़ गए हैं। चूंकि इन बच्चों के सिर से माता-पिता का साया उठ गया, इसलिए गांव एवं आसपास के लोगों ने इन बच्चों की मदद करने की जिम्मेदारी अपने हाथों में ले ली है।
बाइक सवार छोटू की हुई मौत
शिवपुरी शहर सहित जिले में कोहरे की चादर शनिवार की रात 8 बजे से ही गहरी होने लगी थी। ग्राम गोरागांव निवासी छोटू (35) पुत्र हल्के आदिवासी, जब अपनी बाइक से पनिहार जा रहा था तो भानगढ़ तिराहे पर कोई अज्ञात वाहन उसमें टक्कर मार गया। जिसके चलते छोटू की मौके पर ही मौत हो गई। बताते हैं कि जिस समय सडक़ हादसा हुआ, उस समय वहां पर भी घना कोहरा छाया हुआ था। पुलिस ने दुर्घटना का मामला दर्ज कर टक्कर मारने वाले वाहन की तलाश शुरू कर दी है।
पत्तियों पर जमीं बर्फ, सुबह 11 बजे तक छाया रहा कोहरा
बदरवास। यूं तो आज सुबह जिले भर में कोहरे की घनी चादर छाई रही, लेकिन बदरवास कस्बे में यह कोहरा सुबह 11 बजे तक हाईवे पर छाया रहा। इतना ही नहीं सुबह से पड़ रही कड़ाके की ठंड के बीच पत्तियों पर आई ओस की बूंदें बर्फ के रूप में जम गईं। जिसके चलते यह बूदेंं दूर से मोतियों की तरह चमक रहीं थीं। कृषि वैज्ञानिकों का कहना है कि ओस की बूंदें जमने वाली सर्दी से फसलों को पाले का खतरा भी रहता है।
बर्फीली हवाओं के बीच देर से निकली धूप
शिवपुरी शहर में रविवार की अलसुबह से ही घना कोहरा छाया हुआ था। मॉर्निंग वॉक पर निकले लोगों के गर्म कपड़े भी कोहरे के बीच ओस की बूंदों से गीले हो गए थे। शहर में सुबह 9 बजे तक कोहरे की हल्की धुंध छाई रही, तथा उसके बाद हल्की धूप निकलना शुरू हुई। हालांकि दोपहर में तेज धूप निकली, लेकिन चलने वाली बर्फीली हवाओं ने धूप की गर्मी के अहसास को कम कर दिया। आज अधिकतम तापमान 25 डिग्री तथा न्यूनतम 10 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

ट्रेंडिंग वीडियो