script राजस्थान के इस अस्पताल में काउंटर साइन बिना करवा रहे सिटी स्कैन और एमआरआई | city scan and MRI are being done without counter sign. | Patrika News

राजस्थान के इस अस्पताल में काउंटर साइन बिना करवा रहे सिटी स्कैन और एमआरआई

locationसीकरPublished: Jan 15, 2024 11:29:36 am

Submitted by:

Puran Shekhawat

सरकार भले ही सरकारी अस्पताल में एमआरआई और सिटी स्कैन जैसी जांच की अत्याधुनिक मशीनें लगवाई हो लेकिन हकीकत यह है कि अस्पतालाें में आने वाले सभी मरीजों को इन जांच सुविधाओं का फायदा नहीं मिल पा रहा है नतीजन मरीजों को बाहर हजारों रुपए खर्च करके एमआरआई और सिटी जैसी महंगी जांच करवानी पड़ रही है।

प्रदेश के इस अस्पताल में काउंटर साइन बिना करवा रहे सिटी स्कैन और एमआरआई
प्रदेश के इस अस्पताल में काउंटर साइन बिना करवा रहे सिटी स्कैन और एमआरआई
सरकार भले ही सरकारी अस्पताल में एमआरआई और सिटी स्कैन जैसी जांच की अत्याधुनिक मशीनें लगवाई हो लेकिन हकीकत यह है कि अस्पतालाें में आने वाले सभी मरीजों को इन जांच सुविधाओं का फायदा नहीं मिल पा रहा है नतीजन मरीजों को बाहर हजारों रुपए खर्च करके एमआरआई और सिटी जैसी महंगी जांच करवानी पड़ रही है। ओपीडी में आने वाले करीब 25 प्रतिशत मरीज बिना जरूरत के ही निशुल्क एमआरआई करवा रहे हैं। इसे देखते हुए अस्पताल प्रबंधन ने पर्ची पर विभागाध्यक्ष के काउंटर साइन करवाए बिना एमआरआई और सिटी स्कैन नहीं करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही सभी विभागाध्यक्षों को इस संबंध में आदेश दिए हैं।
भर्ती मरीज के लिए निशुल्क सुविधा
कल्याण अस्पताल में पीपीपी मोड पर संचालित एमआरआई और सिटी स्कैन की मशीन लगाई हुई है। जरूरतमंद मरीज को एमआरआई और सिटी स्कैन जांच सुविधा मिले इसके लिए अस्पताल में भर्ती मरीज और ट्रोमा में आने वाले घायल मरीजों के लिए निशुल्क एमआरआई की सुविधा कर रखी है। ट्रोमा यूनिट में अत्याधुनिक 128 स्लाइस की सिटी स्कैन लगाई गई है। इसके कारण सिटी स्कैन और एमआरआई करवाने वालों की संख्या बढ़ रही है। वहीं पीपीपी मोड पर संचालित जांच केन्द्र पर बाहर के मरीज भी तय शुल्क देकर सिटी स्कैन व एमआरआई करवा सकते हैं।
इनका कहना है
भर्ती और घायल मरीज के लिए सिटी स्कैन और एमआरआई निशुल्क है। ओपीडी में नियर चिकित्सक की पर्ची पर एचओडी या सीनियर चिकित्सक के काउंटर साइन होने पर संबंधित को सिटी स्कैन और एमआरआई की निशुल्क जांच सुविधा दी जाएगी। इसके लिए निर्देश जारी किए गए हैं।
डॉ. महेन्द्र कुमार, अधीक्षक कल्याण अस्पताल

ट्रेंडिंग वीडियो