script start up day: माइंड सेट के लिए अभिषेक ने बनाई कंपनी, दूसरे साल में ही मिला स्टार्टअप लीडर का अवार्ड | start up day special mind set sikar news hindi news | Patrika News

start up day: माइंड सेट के लिए अभिषेक ने बनाई कंपनी, दूसरे साल में ही मिला स्टार्टअप लीडर का अवार्ड

locationसीकरPublished: Jan 16, 2024 10:48:27 am

Submitted by:

Sachin Mathur

माइंड सेट के लिए लोग मोटिवेशनल स्पीकर को चुनते- सुनते हैं। पर जिले के रामगढ़ शेखावाटी निवासी अभिषेक सिहाग एक ऐसे एंटरप्रेन्योर हैं जो बायोलोजिकल स्ट्रक्चर से लोगों को मानसिक रूप से मजबूत बनातेे हैं।

माइंड सेट के लिए अभिषेक ने बनाई कंपनी, दूसरे साल में ही मिला स्टार्टअप लीडर का अवार्ड
माइंड सेट के लिए अभिषेक ने बनाई कंपनी, दूसरे साल में ही मिला स्टार्टअप लीडर का अवार्ड

माइंड सेट के लिए लोग मोटिवेशनल स्पीकर को चुनते- सुनते हैं। पर जिले के रामगढ़ शेखावाटी निवासी अभिषेक सिहाग एक ऐसे एंटरप्रेन्योर हैं जो बायोलोजिकल स्ट्रक्चर से लोगों को मानसिक रूप से मजबूत बनातेे हैं। जीवन का कोई भी लक्ष्य बना चुके युवाओं को वे अपने विशेष टास्क, एक्सरसाइज व खेल तकनीक से सफलता के शिखर पर पहुंचा रहे हैं। उनके अनूठे विजन व सफलता का आलम ये है कि 2022 में स्थापित उनके स्टार्टअप लूजर माइंडसेट दूसरे साल में ही डब्ल्यूबीआर लंदन ने स्टार्टअप लीडर के रूप में इंडिया एक्सीलेंस अवार्ड 2023 से नवाजा है। उनके अनूठे आइडिया के चलते विभिन्न मीडिया संस्थान भी उन्हें देश का तीसरा सबसे सफल एंटरप्रेन्योर घोषित कर चुकी है।

नॉलेज को टास्क में बदलकर ट्रेनिंग
स्टार्टअप के जरिए अभिषेक खेल, प्रतियोगी परीक्षाओं व कॅरियर सहित किसी भी क्षेत्र में लक्ष्य बना चुके युवाओं को प्रशिक्षित करते हैं। खास बात ये है कि प्रशिक्षण में कोई भाषण या लेखन नहीं होता। बल्कि, नॉलेज को टास्क में बदलकर तैयार अपने विशेष कोर्स के जरिए 100 से ज्यादा तरह की दिमागी कसरत व दोनों हाथों से लिखने सरीखी विशेष गतिविधियां करवाई जाती है। जो मन और मष्तिष्क के भटकाव को दूर कर प्रशिक्षणार्थियों को एकाग्र करते हुए मानसिक रूप से मजबूत बनाती है।

माइंड सेट से बनाया वल्र्ड रिकॉर्ड
अभिषेक से प्रशिक्षण लेकर इंडियन एयरफोर्स के जवान शिवराज 9 घंटे 43 मिनट एब्डोमिनल प्लेंक कर गिनीज बुक में अपना नाम दर्ज करवा चुके हैं। इससे पहले खुद अभिषेक भी 2019 में 8 घंटे 5 मिनट प्लेंक कर विश्व रेकॉर्ड बनाया था। बकौल अभिषेक वे अब तक देशभर के 400 से ज्यादा युवाओं को प्रशिक्षित कर चुके हैं।

खुद की कमजोरी से मिली सीख
माइंडसेट पर स्टार्टअप का ये अनूठा आइडिया अभिषेक को खुद की कमजोरी से ही आया। बकौल अभिषेक कभी उन्हें भी लगता था कि वे कभी सफलता हासिल नहीं कर सकते। पर बाद में उन्होंने अपना माइंड सेट बदला और प्लेंक में वल्र्ड रिकॉर्ड बनाया। बाद में अपने जैसे अन्य युवाओं को भी सफलता की राह दिखाने के लिए 2022 में लूजर माइंडसेट की शुरुआत की।

ट्रेंडिंग वीडियो