scriptHarda like blast in Balieri industrial area in Singrauli | ब्लास्ट में 22 लोगों की मौत, 120 घायल, दुर्घटना के बाद जांच के लिए पहुंचे अफसर, देखें Video | Patrika News

ब्लास्ट में 22 लोगों की मौत, 120 घायल, दुर्घटना के बाद जांच के लिए पहुंचे अफसर, देखें Video

locationसिंगरौलीPublished: Feb 07, 2024 04:35:03 pm

Submitted by:

deepak deewan

हरदा में मंगलवार को हुए भीषण ब्लास्ट के बाद प्रदेशभर के अधिकारी सतर्क और सक्रिय हो गए हैं। सिंगरौली में भी जिला प्रशासन की नींद टूटी है। जिला प्रशासन के अधिकारियों, पुलिस व नगर निगम के अधिकारियों की संयुक्त टीम अब बारूद कारखानों की जांच कर रही है। यह टीम बलियरी औद्योगिक क्षेत्र में संचालित बारूद फैक्ट्री में जांच के लिए पहुंची है।

baliyari.png
बलियरी औद्योगिक क्षेत्र में संचालित बारूद फैक्ट्री में जांच के लिए पहुंची है।

सिंगरौली. हरदा में मंगलवार को हुए भीषण ब्लास्ट के बाद प्रदेशभर के अधिकारी सतर्क और सक्रिय हो गए हैं। सिंगरौली में भी जिला प्रशासन की नींद टूटी है। जिला प्रशासन के अधिकारियों, पुलिस व नगर निगम के अधिकारियों की संयुक्त टीम अब बारूद कारखानों की जांच कर रही है। यह टीम बलियरी औद्योगिक क्षेत्र में संचालित बारूद फैक्ट्री में जांच के लिए पहुंची है।

खास बात यह है कि बलियरी में भी कुछ साल पहले एक भीषण हादसा हो चुका है। जिला मुख्यालय से 3 किलोमीटर दूर स्थित बलियरी औद्योगिक क्षेत्र में हुए इस हादसे में करीब एक दर्जन लोगों ने अपनी जान गंवा दी थी। हादसे में 100 से ज्यादा लोग घायल भी हो गए थे।

यह भी पढ़ें: Harda Blast पटाखा फैक्ट्री में बनते थे सुतली बम, 15 टन बारूद में आग से दहला हरदा

बलियरी में संचालित बारूद फैक्ट्री में बुधवार को जांच के लिए अधिकारियों की टीम पहुंची। एसडीएम, सीएसपी व नगर निगम के उपायुक्त ने यहां सुरक्षा मानकों की गहराई से जांच की और आवश्यक निर्देश भी दिए।

गौरतलब है कि बारूद फैक्ट्रियां बलियरी बस्ती के बिल्कुल नजदीक संचालित की जा रहीं हैं। इससे जानमाल को खतरा है। आमजनों की दिक्कत और उनपर खतरे को देखते हुए बारूद फैक्ट्रियों की शिफ्टिंग की योजना भी बनाई गई थी लेकिन इसको लेकर प्रशासन अभी तक ठंडा पड़ा हुआ है।

करीब 15 वर्ष पहले बलियरी की एक बारूद फैक्ट्री में भयंकर विस्फोट हो चुका है। इस ब्लास्ट में बड़ी संख्या में लोगों की मौत हो गई थी। इसके बाद तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने बारूद फैक्ट्रियों को यहां से दूर बरगवां औद्योगिक क्षेत्र में शिफ्ट करने का निर्देश दिया था, लेकिन अब तक यह कवायद केवल कागजी प्रक्रिया तक ही सीमित है।

बता दें कि औद्योगिक क्षेत्र बलियरी में यह भीषण हादसा 05 जुलाई 2009 को हुआ था। यहां स्थित आइडियल एक्सप्लोसिव बारूद फैक्ट्री में भीषण विस्फोट हुआ था। हादसे में 22 लोगों की मौत हुई और करीब 120 लोग घायल हो गए थे। घटना के दूसरे दिन सीएम शिवराज सिंह चौहान भी मौके पर पहुंचे थे और उन्होंने बारूद फैक्ट्रियों को यहां से शिफ्ट करने का निर्देश दिया।

ट्रेंडिंग वीडियो