विंबलडन: चोट के कारण रिटायर हुईं सेरेना, फेडरर दूसरे दौर में पहुंचे

चोट लगने के बाद सेरेना ने पांचवें गेम में फिजियो की मांग की थी और उन्हें मेडिकल टाइम आउट मिला, लेकिन थोड़ी देर बाद उन्होंने रिटायर होने का फैसला लिया।

By: Mahendra Yadav

Published: 30 Jun 2021, 12:23 PM IST

अमरीकी टेनिस प्लेयर सेरेना विलियम्स विंबलडन टेनिस टूर्नामेंट से रिटायर हो गई हैं। 23 बार की ग्रैंड स्लैम विजेता सेरेना को पहले दौर में चोट लग गई, जिसकी वजह से उन्होंने यह फैसला लिया। पहले दौर में सेरेना का मुकाबला बेलारूस की अलियाकसांद्रा सासनोविच से था। दोनों के बीच पहला सेट 3-3 की बराबरी पर था। इसी बीच सेरेना फिसल गई और उनके पैर में चोट लग गई। इसके बाद उन्हें सातवें गेम में रिटायर होना पड़ा। चोट लगने के बाद सेरेना ने पांचवें गेम में फिजियो की मांग की थी और उन्हें मेडिकल टाइम आउट मिला। इसके बाद उन्होंने कोर्ट में वापसी की लेकिन थोड़ी देर बाद उन्होंने रिटायर होने का फैसला लिया।

मैच से हटना दिल दुखाने वाला
सेरेना ने इसकी जानकारी देते हुए इंस्टाग्राम पोस्ट में लिखा, 'पैर में चोट के कारण मैच से हटना दिल दुखाने वाला है। मैं प्रशंसकों और टीम का अभार व्यक्त करती हूं, जो कोर्ट में थे।' वहीं मैच में सेरेना की प्रतिस्पर्धी रहीं सासनोविच ने कहा कि माहौल बहुत अच्छा था और वह सेंटर कोर्ट में पहली बार खेल रही थीं, लेकिन उन्हें सेरेना के लिए दुख हुआ। उनका कहना है कि सेरेना एक चैंपियन हैं। टेनिस में ऐसा होता है, लेकिन वह उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना करती हैं।

यह भी पढ़ें— विंबलडन: महिला खिलाड़ी के वनपीस पहनने पर हुआ था बवाल, की गई बैन की मांग

roger_federer.png

दूसरे दौर में पहुंचे रोजर फेडरर
इसके अलावा आठ बार के विंबलडन चैंपियन रोजर फेडरर चौथे सेट के अंत में प्रतिस्पर्धी एड्रियन मन्नारिनो के चोटिल होने के बाद दूसरे दौर में पहुंच गए। इस मुकाबले में 20 ग्रैंड स्लैम खिताब जीत चुके फेडरर ने पहला सेट 6-4 जीता। हालांकि दूसरा और तीसरा सेट क्रमश: 7-6 और 6-3 से हार गए। चौथा सेट 6-2 से जीतने में सफल रहे। दो घंटे 44 मिनट तक चले मुकाबले के बाद फेडरर को अंतत: जीत मिली।

यह भी पढ़ें— टोक्यो ओलंपिक में हिस्सा नहीं लेंगी सेरेना विलियम्स, कारण नहीं बताया

फिसलने से मन्नारिनो को लगी चोट
मैच के दौरान मन्नारिनो बेसलाइन के पीछे फिसल गए थे, जिससे उन्हें चोट लग गई थी। उन्होंने ऑन-कोर्ट घुटने का इलाज भी कराया। मैच के बाद फेडरर ने कहा कि एक शॉट मैच, सीजन, कॅरियर का परिणाम बदल सकता है। फेडरर ने मन्नारिनो के जल्द ठीक होने की कामना की। फेडरर ने कहा कि मन्नारिनो अंत में मैच जीत सकते थे। वह बेहतर खिलाड़ी थे, इसलिए मैं निश्चित रूप से थोड़ा भाग्यशाली रहा।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned