scriptराजीव गांधी ओलंपिक का जिला स्तरीय महाकुंभ एक सितंबर से, तैयारियां जारी | Rajiv Gandhi Olympics | Patrika News

राजीव गांधी ओलंपिक का जिला स्तरीय महाकुंभ एक सितंबर से, तैयारियां जारी

locationउदयपुरPublished: Aug 24, 2023 08:44:57 pm

Submitted by:

Madhusudan Sharma

राजीव गांधी ग्रामीण और शहरी का जिला स्तरीय ओलंपिक महाकुंभ का आगाज एक बार फिर शुरू होगा। एक सितंबर से छह सितंबर के बीच विविध प्रतियोगिताएं होंगी। इसको लेकर खेल विभाग की ओर से तैयारियां की जा रही है।

राजीव गांधी ओलंपिक का जिला स्तरीय महाकुंभ एक सितंबर से, तैयारियां जारी

राजीव गांधी ओलंपिक का जिला स्तरीय महाकुंभ एक सितंबर से, तैयारियां जारी

उदयपुर. राजीव गांधी ग्रामीण और शहरी का जिला स्तरीय ओलंपिक महाकुंभ का आगाज एक बार फिर शुरू होगा। एक सितंबर से छह सितंबर के बीच विविध प्रतियोगिताएं होंगी। इसको लेकर खेल विभाग की ओर से तैयारियां की जा रही है। इस ओलंपिक में 3 हजार 460 खिलाड़ी जीत के लिए फिर से दमखम दिखाएंगे। यहां विजेता बनने वाली टीम राज्य स्तर पर होने वाली प्रतियोगिता में उदयपुर का प्रतिनिधित्व करेगी। जिला स्तरीय ओलंपिक में कबडडी, खो-खो, बास्केटबाल, एथलेटिक्स, फुटबाल, वॉलीबाल और टेनिस क्रिकेट की प्रतियोगिताएं होंगी। इस प्रतियोगिता का मुख्य उद्घाटन समारोह महाराणा भूपाल स्टेडियम में होगी। ओलंपिक को लेकर विभागीय स्तर पर लगतार तैयारी की समीक्षा भी की जा रही है। इस संबंध में अब तक तीन से चार मीटिंग हो चुकी है। खिलाडिय़ों के ठहरने के लिए आवास व्यवस्था भी खेल विभाग की ओर से की गई है। इसके अलावा हर मैदान पर 30-30 पीटीआई को खेलों के लिए लगाया गया है। वहीं 21 कोच भी खेल के लिए लगाए गए हैं। जानकारी के अनुसार इन खेलों में ब्लॉक लेवल से 2660 और निकाय क्षेत्र से 800 खिलाड़ी उदयपुर में जिला स्तरीय प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए आएंगे।

इन मैदानों में होगी प्रतियोगिताएं

जिला खेल अधिकारी सुनीता भण्डारी ने बताया कि खिलाडिय़ों की संख्या को देखते हुए खेल मैदान सुनिश्चित कर दिए हैं। इनमें महाराणा भूपाल स्टेडियम, बीएन कॉलेज, एमबी कॉलेज, मीरा गल्र्स कॉलेज, एनबी कॉलेज में ये प्रतियोगिताएं होंगे।

ग्रामीण महिलाओं की होगी रस्सा- कस्सी

जानकारी के अनुसार इस ओलंपिक में ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं के लिए बास्केटबाल के स्थान पर रस्सा-कस्सी प्रतियोगिता का आायोजन करवाया जाएगा। इसी प्रकार ग्रामीण महिलाओं की खो-खो प्रतियोगिता भी होगी।

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो