गिरफ्तारी के बाद देवकी नंदन ठाकुर ने क्या कहा जानिए

गिरफ्तारी के बाद देवकी नंदन ठाकुर ने क्या कहा जानिए

Abhishek Saxena | Publish: Sep, 11 2018 06:11:00 PM (IST) Agra, Uttar Pradesh, India

पुलिस लाइन में निजी मुचलके पर छोड़े गए विख्यात कथा वाचक देवकी नंदन ठाकुर, मथुरा के लिए किया प्रस्थान

आगरा। केंद्र सरकार द्वारा एससी एसटी एक्ट में किए गए संशोधन का विरोध पूरे देश में हो रहा है। सवर्ण और ओबीसी द्वारा लगातार इस एक्ट का विरोध किया जा रहा है। इस एक्ट के विरोध में विख्यात कथा वाचक और संत देवकी नंदन ठाकुर भी मैदान में हैंं। आगरा में मंगलवार को देवकी नंदन ठाकुर एक प्रेसवार्ता करने पहुंचे थे। उसी दौरान उन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। हवाला दिया गया कि प्रेसवार्ता की अनुमति नहीं थी। इसके बाद उन्हें पुलिस लाइन ले जाया गया। जहां निजी मुचलके पर उन्हें रिहा कर दिया गया। पुलिस हिरासत से छूटने के बाद देवकी नंदन ठाकुर ने लोगों और देशवासियों से शांति बनाए रखने की अपील की है। पुलिस ने उन्हें मथुरा के लिए रवाना कर दिया है।

सेमरा में होनी थी ठाकुरों की महापंचायत
खंदौली थाना क्षेत्र के सेमरा गांव में ठाकुरों ने एससी एक्ट के विरोध में महापंचायत का ऐलान किया था। पुलिस ने ये महापंचायत नहीं होने दी। इसके बाद कथावाचक देवकी नंदन ठाकुर ने महापंचायत में आने का ऐलान किया तो पुलिस प्रशासन के होश फाख्ता हो गए। पुलिस प्रशासन ने उन्हें सेमरा में बैठक करने की इजाजत नहीं दी। कमला नगर के एक रेस्टोरेंट में कथावाचक देवकी नंदन ठाकुर प्रेसवार्ता कर रहे थे, उसी दौरान उन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने हवाला दिया कि प्रेसवार्ता के लिए अनुमति नहीं थी। इसके बाद उन्हें पुलिस लाइन में ले जाया गया। पुलिस लाइन में उन्हें मुचलके के बाद रिहा कर दिया गया।

कथावाचक बोले, बनाए रखें शांति
गिरफ्तारी के बाद जब कथावाचक को रिहा किया गया तो उन्होंने जनता से कहा कि वे शांति बनाए रखें। ये विरोध प्रदर्शन शांतिपूर्ण तरीके से चलेगा। पुलिस ने देवकी नंदन ठाकुर को मथुरा के लिए भेज दिया। गौरतलब है कि शहर में जैसे ही एससी एसटी एक्ट का विरोध करने वाले कथावाचक देवकी नंदन ठाकुर की गिरफ्तारी की खबर मिली, सैकड़ों समर्थक वहां पहुंचने लगे। पुलिस ने माहौल को भांपकर उन्हें निजी मुचलके पर रिहा कर दिया।

Ad Block is Banned