वरिष्ठ नागरिकों की सुरक्षा के लिए यूपी पुलिस ने शुरू किया सवेरा अभियान, ऐसे होगा पंजीकरण

- पीआरवी घर-घर जाकर लोगों को करेगी जागरूक
- डायल 112 पर सीधे कॉल करके पंजीकरण करा सकेंगे बुजुर्ग
- एकाकी जीवन जीने वाले बुजुर्ग पर रखी जाएगी विशेष नजर

By: Neeraj Patel

Published: 26 Dec 2020, 08:12 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आगरा. अगर आपको पड़ोसी परेशान कर रहे हैं और अपनों के उत्पीड़न का शिकार हो रहे हैं। साथ ही खुद को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं। ऐसे बुजुर्गों की सहायता के लिए यूपी पुलिस ने सवेरा अभियान शुरू किया है। सवेरा अभियान के तहत सभी वरिष्ठ नागरिक यूपी पुलिस की सहायता ले सकते हैं। पुलिस के सवेरा अभियान के तहत अब तक 17417 बुजुर्ग का पंजीकरण कराया जा चुका है। सवेरा अभियान का प्रमुख उद्देश्य बुजुर्गों का मेल मिलाप बनाए रखना। उनकी सुरक्षा को सुनिश्चित करना है।

आगरा एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि डीजीपी की ओर से वरिष्ठ नागरिकों की सुरक्षा के लिए सवेरा अभियान शुरू किया गया है। इस अभियान के तहत थाना पुलिस, चीता मोबाइल, ईगल मोबाइल, पीआरवी घर-घर जाकर लोगों को जागरूक कर रही है। इसके तहत कोई बुजुर्ग डायल 112 नंबर पर कॉल करके अपना आसानी से पंजीकरण करा सकते हैं।

वरिष्ठ नागरिकों की सुरक्षा के लिए सवेरा अभियान में पंजीकरण कराने के बाद बुजुर्ग को सुरक्षा संबंधी मदद की जरूरत पूरी की जाएगी। संबंधित थाने की पुलिस या डायल 112 की पीआरवी मौके पर पहुंचकर सहायता पहुंचाने का कार्य कर रही है। जनपद में 17417 बुजुर्ग सवेरा में अपना पंजीकरण करा चुके हैं। कलक्ट्रेट में वरिष्ठ नागरिक सेल का गठन भी किया गया है।

ये भी पढ़ें - कांग्रेस की गाय बचाओ-किसान बचाओ पदयात्रा कल से शुरू

ऐसे होगा पंजीकरण

यूपी पुलिस द्वारा चलाए जा रहे सवेरा अभियान का लाभ लेने के लिए डायल 112 पर सीधे कॉल करके बुजुर्ग अपना पंजीकरण करवा सकते हैं। प्राथमिक पंजीकरण के बाद स्थानीय थाने की पुलिस या चौकी पुलिस घर जाकर बुजुर्ग के बारे में जानकारी लेगी। बुजुर्ग की समस्या को जानने का प्रयास किया जाएगा। आस-पास के लोग ही नहीं, अपनों से भी परेशान होंगे तो कार्रवाई की जाएगी। समस्या को दूर करने का प्रयास किया जाएगा। एकाकी जीवन जीने वाले बुजुर्ग पर विशेष नजर रखी जाएगी।

Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned